• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh Latest News And Updates, 10 Year Old Boy Commits Suicide In Bhopal

LIVE अपडेट्स मध्यप्रदेश:MP की 5 हस्तियों को पद्मश्री; भोपाल के डॉ एनपी मिश्रा को मरणोपरांत सम्मान, भास्कर से बोलीं दुर्गा बाई- ये 'डिगना' कला का सम्मान

मध्यप्रदेश4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मप्र की 5 हस्तियों को पद्मश्री सम्मान से नवाजा जाएगा। 26 जनवरी की पूर्व संध्या पर केंद्र सरकार ने इसका ऐलान किया। प्रदेश के तीन लोगों को कला, एक को साहित्य और भोपाल के डॉ. एनपी मिश्रा को मरणोपरांत यह सम्मान देने की घोषणा की गई। प्रदेश में चिकित्सा जगत में पितामह के नाम से पहचाने जाने वाले डॉ. एनपी मिश्रा को मरणोपरांत पद्मश्री अवॉर्ड दिया जाएगा। मध्यप्रदेश के अर्जुन सिंह धुर्वे (कला), अवध किशोर जाड़िया (साहित्य और शिक्षा ) , रामसहाय पांडे (कला), दुर्गा बाई व्याम (कला) को भी पद्मश्री अवार्ड मिलेगा। इसकी घोषणा मंगलवार को की गई है। जानिए पद्मश्री अवॉर्ड पाने वालों के बारे में...

डॉ.एनपी मिश्रा
डॉ.एनपी मिश्रा

गैस त्रासदी के समय डॉ.एनपी मिश्रा को उल्लेखनीय काम के लिए याद जाता है
यूनाइटेड डॉक्टर फेडरेशन के महासचिव डॉ. ललित श्रीवास्तव ने बताया कि भोपाल गैस कांड की रात उन्होंने हॉस्टल के सभी लड़कों को अस्पताल में बुलवाकर ड्यूटी पर लगा दिया। उनके कमरे में जितनी दवाएं थी, सब बांट दीं। इस दौरान सेना के दो ट्रकों में करीब 50 सैनिकों को बेहोशी की हालत में लाया गया। वे उनके इलाज के लिए सक्रिय हो गए। हर मरीज को अस्पताल में भर्ती करने का फरमान सुना दिया। करीब 3 घंटे बाद तो लाशें मिलने की सूचना आने लगी। इस दौरान वे खुद माइग्रेन के दर्द से जूझ रहे थे, लेकिन उफ तक नहीं की।

कार्डियोलॉजी पर लिखी है किताब
डॉ. श्रीवास्तव ने बताया कि डॉ. मिश्रा ने कार्डियोलॉजी पर एक किताब लिखी थी, जो डीएम कार्डियोलॉजी के छात्र पढ़ते हैं। इस किताब का नाम प्रोग्रेस एंड कार्डियोलॉजी है। इसका विमोचन तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ. शंकर दयाल शर्मा और ब्रिटेन के युवराज के हाथों किया गया था। डॉ. मिश्रा ने लाखों मरीजों का नि:शुल्क इलाज किया और हजारों की संख्या में अच्छे डॉक्टर तैयार किए। उनका जीवन बहुत निष्पक्ष और स्पष्टवादी रहा है। वह हमेशा डॉक्टरों और छात्रों की प्रति संवेदनशील रहते थे। भोपाल गैस त्रासदी के समय डॉ.एनपी मिश्रा ने अपनी सूझबूझ का परिचय दिया था। उन्होंने कम समय में ऐसी व्यवस्था जमाई कि 10 हजार 700 पीड़ितों का हमीदिया में इलाज संभव हो सकता। रात दिन काम करके राहत पहुंचाई थी। सन 1992 में इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिसिन ने उन्हें प्रतिष्ठित सर्वोच्च सम्मान डॉ. बीसी राय अवॉर्ड से अलंकृत किया। 1995 में एसोसिएशन आफ फिजीशियंस ऑफ इंडिया ने गिफ्टेड टीचर अवॉर्ड से सम्मानित किया।

दुर्गा बाई लोककथा की चित्रकारी के लिए जानी जाती हैं
दुर्गा बाई की चित्रकारी की सर्वाधिक आकर्षक विशेषता कथा कहने की उनकी क्षमता है। उनके चित्र अधिकांशत: गोंड प्रधान समुदाय के देवकुल से लिए गए हैं। दुर्गा बाई को लोककथाओं को चित्रित करने में भी मजा आता है। इसके लिए वह अपनी दादी की आभारी हैं जो उन्‍हें अनेक कहानियां कहती थीं। दुर्गा बाई की कृति उनके जन्‍म स्‍थान बुरबासपुर, मध्‍यप्रदेश के मंडला जिले के गांव पर आधारित है। दुर्गा बाई जब छह वर्ष की थीं तभी से उन्‍होंने अपनी माता के बगल में बैठकर डिगना की कला सीखी जो शादी-विवाहों और उत्‍सवों के मौकों पर घरों की दीवारों और फर्शों पर चित्रित किए जाने वाली परंपरागत डिजाइन है।

दुर्गा बाई के घर उत्साह का माहौल

पद्मश्री अवॉर्ड की घोषणा के बाद दुर्गा बाई के भोपाल के कोटरा कमला नगर स्थित घर पर उत्साह का माहौल है। मोहल्लावासी और रिश्तेदार बैंड बाजे के साथ उनके घर पहुंचकर उन्हें बधाई दे रहे हैं। दुर्गा बाई ने दैनिक भास्कर से कहा कि यह मेरा नहीं इस कला डिगना का सम्मान है। जब तक जीवित रहूंगी, यह कला करती रहूंगी और इसे दुनिया में फैलाती रहूंगी। पति सुभाष सिंह व्याम के सपोर्ट और साथ से ही यह कर पाई और सम्मान तक पहुंच पाई। अंतिम सांस तक यह काम करती रहूंगी। डिगना कला के लिए दुर्गा बाई और उनके पति मिलकर एक संस्था चला रहे है। बेटा मान सिंह और बेटी रोशनी ने भी यह कला सीखी है। उनके पति ने कहा जैसे मेरे जीवन का सपना पूरा हो गया है। दीवार, मिट्टी, गोबर से इस कला को आज कैनवास तक ले आए हैं। दुर्गा बाई ने कहा है आज भूख नहीं लग रही है, आज और कुछ नहीं चाहिए।

पुलिस सेवा अवॉर्ड की घोषणा, MP के खाते में 24 पदक
केंद्र सरकार ने पुलिस सेवा के अवॉर्ड की घोषणा कर दी है। मध्य प्रदेश के खाते में 24 पदक आए हैं। IPS तरुण नायक, सब इंस्पेक्टर हिम्मत सिंह और हेड कांस्टेबल बैशाखूलाल को वीरता के लिए पुलिस पदक दिया गया है। ADG आरके गुप्ता, DSP सुभाष सिंह, DGP के स्टेनो निरंजन कुमार श्रीवास्तव और CID में हैड कांस्टेबल लल्लूराम त्यागी को विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पदक मिला है। इंदौर के पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी सहित 15 पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस पदक दिया गया है।

इंदौर में SI के बेटे ने खुद को मारी गोली, मौके पर ही मौत
इंदौर में SI के बेटे ने खुद को गोली मार ली। इस घटना में उसकी मौत हो गई। शहर के लसूडिया के गोल्डन पाम में रहने वाले SI बेटे प्रवीण शुक्ला ने लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मारी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। प्रवीण बीबीए की पढ़ाई कर रहा था। पिता महू में ट्रैफिक पुलिस में पदस्थ हैं। पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई है।

भोपाल में लड़कों ने लग्जरी गाड़ियों के कांच फोड़े
भोपाल के श्यामला हिल्स, कोहेफिजा इलाके में 4 लड़कों ने लग्जरी गाड़ियों के कांच फोड़े। स्कूल में पढ़ने वाले इन लड़कों ने 10 गाड़ियों में तोड़फोड़ की। पुलिस ने चारों को हिरासत में ले लिया है। वारदात को रविवार सुबह अंजाम दिया था। गाड़ियों पर पत्थर मारने के खुद उन्होंने वीडियो भी बनाए और फिर अपने दोस्तों को भेजे।

दमोह में बाबू घूस लेते पकड़ाया
दमोह कलेक्ट्रेट में संचालित आदिम जाति कल्याण विभाग के बाबू को सागर लोकायुक्त ने 3000 की रिश्वत लेते हुए पकड़ा है। आरोपी पीएल कोरी पथरिया के लखरोनी निवासी रेवाराम अहिरवार से एससी/एसटी के मामले में शासन से मिलने वाली राहत राशि के एवज में 5000 रुपए की रिश्वत मांग रहा था। रेवाराम ने सागर लोकायुक्त एसपी से जाकर शिकायत की। वह आरोपी बाबू को दो बार एक-एक रु हजार दे चुका था।

अमेजन पर FIR दर्ज

ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म अमेजन पर मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने FIR के आदेश दिए हैं। आदेश के 6 घंटे बाद अमेजन सेलर पर FIR दर्ज की गई है। अमेजन पर बिक रहे चॉकलेट रैपर, फेस मास्क, सेरेमिक मग, कपड़ों और जूतों तक पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा छपा होने पर गृहमंत्री ने एक्शन लेने के निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्र के अपमान के किसी भी कृत्य को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। DGP से उन्होंने कहा था कि अमेजन के जिम्मेदारों पर FIR दर्ज करें।

अमेजन पर तिरंगा प्रिंट वाली टी-शर्ट्स बिक रही हैं।
अमेजन पर तिरंगा प्रिंट वाली टी-शर्ट्स बिक रही हैं।

अमेजन और फ्लिपकार्ट पर मप्र सरकार की सख्ती:गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा बोले- अपने प्लेटफॉर्म से चाकू और मादक पदार्थ हटाएं, नहीं तो हम हटवा देंगे...

गृहमंत्री ने यह भी बताया कि अब 6 हजार पुलिसकर्मियों की भर्ती PEB द्वारा की जाएगी। पहले 4 हजार की भर्ती के लिए वैकेंसी निकली थी। उन्होंने कमलनाथ को इंदिरा गांधी का तीसरा बेटा भी बताया। पूरी खबर पढ़िए

भोपाल में 10 साल के बच्चे ने सुसाइड किया

भोपाल के अशोका गार्डन इलाके में 10 साल के बच्चे ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। सुसाइड नोट नहीं मिलने से आत्महत्या की वजह का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। एकतापुरी कॉलोनी में रहने वाला रुद्राक्ष सिंह तोमर पुत्र अक्षत सिंह तोमर (10) ने सुसाइड किया है। पूरी खबर पढ़िए

खबरें और भी हैं...