• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh (MP) Latest News Updates; NIA Branch, Shivraj Singh Chouhan, Rewa Road Accident

LIVE अपडेट्स मध्यप्रदेश:राजगढ़ में जमीनी विवाद में दो समुदाय भिड़े; SDM, तहसीलदार की गाड़ियों में तोड़फोड़; घर में लगाई आग

मध्यप्रदेश4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजगढ़ में दो समुदायों के बीच जमीनी विवाद ने सांप्रदायिक रूप ले लिया। बुधवार रात दोनाें समुदाय भिड़ गए। दोनों तरफ से पथराव हुआ। एक घर में आग लगा दी गई। प्रदर्शनकारियों ने एसडीएम, तहसीलदार और कोतवाली थाने की गाड़ियों पर भी तोड़फोड़ कर दी। इसके अलावा एक घर में आग भी लगा दी। इसमें दो लोग घायल हो गए। थोड़ी देर में पूरा क्षेत्र छावनी बन गया। SP प्रदीप शर्मा का कहना है कि फिलहाल मामला नियंत्रण में है।

राजगढ़ में भारी मात्रा में पुलिस तैनात कर दी गई है।
राजगढ़ में भारी मात्रा में पुलिस तैनात कर दी गई है।

खरगोन में 10 जुलाई तक धारा 144 लागू; जुलूस, रैली और धार्मिक आयोजन पर प्रतिबंध

खरगोन जिले में सुरक्षा के मद्देनजर प्रशासन ने एक बार फिर धारा 144 लागू कर दी है। ये दो महीने यानि 10 जुलाई तक लागू रहेगी। इस दौरान रैली, धार्मिक आयोजन, शोभायात्रा, तकरीर, रात्रि जागरण, धरना और प्रदर्शन पर रोक रहेगी। इसके लिए सक्षम अधिकारी से परमिशन लेनी होगी। खरगोन में सांप्रदायिक दंगे के 24 दिन बाद कर्फ्यू में राहत मिली थी। आठ दिन पहले सभी प्रतिबंध हटाए गए थे। अब शांति व्यवस्था को बनाए रखने के लिए प्रशासन ने फिर प्रतिबंध लगाए हैं। अपर कलेक्टर एसएस मुजाल्दा ने बुधवारा रात आदेश जारी कर दिए हैं। बता दें कि मंगलवार को खरगोन में पुलिस कार्रवाई के विरोध में मुस्लिम समुदाय की महिलाओं ने रैली निकाली थी।

प्रशासन ने आदेश जारी किया।
प्रशासन ने आदेश जारी किया।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मध्यप्रदेश में भी दर्ज नहीं होंगे देशद्रोह के केस

सुप्रीम कोर्ट ने देशद्रोह कानून पर रोक लगा दी है। अब इसके तहत नए केस नहीं दर्ज हो सकेंगे। इसके अलावा पुराने मामलों में भी लोग अदालत में जाकर राहत की अपील कर सकते हैं। इस आदेश के बाद मध्यप्रदेश सरकार के गृह विभाग के एसीएस राजेश राजौरा ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन किया जाएगा।

CM शिवराज, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और मंत्री भूपेंद्र सिंह अचानक दिल्ली पहुंचे

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा और नगरीय विकास और आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह अचानक दिल्ली पहुंचे हैं। तीनों विशेष विमान से दिल्ली गए हैं। उन्हें बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दिल्ली बुलाया है। दरअसल प्रदेश में पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव को बिना OBC आरक्षण कराए जाने के सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद राजनीति गरमाई हुई है। माना जा रहा है कि इस मुद्दे पर चर्चा के लिए पार्टी अध्यक्ष ने इन नेताओं को बुलाया है। सीएम शिवराज, गृहमंत्री मिश्रा और मंत्री भूपेंद्र सिंह सुप्रीम कोर्ट में मोडिफिकेशन एप्लीकेशन देने के लिए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता और अधिवक्ताओं के पैनल से भी चर्चा कर करेंगे।

बता दें कि इससे पहले भी सीएम शिवराज सिंह को पीएम मोदी ने अचानक दिल्ली बुलाया था। ये बुलावा तब आया था जब गृहमंत्री अमित शाह भोपाल दौरे पर थे। और अगले ही दिन सीएम शिवराज ने दिल्ली पहुंचकर पीएम मोदी से मुलाकात की थी। अब एक बार फिर सीएम शिवराज, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और मंत्री भूपेंद्र सिंह को एक साथ दिल्ली से बुलावे को लेकर राजनीति गरमा गई है। चूंकि नरोत्तम मिश्रा विधि मंत्री भी हैं। इस लिहाज से ये कयास लगाए जा रहे हैं कि पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव में OBC आरक्षण को लेकर सरकार का अगला कदम क्या हो सकता हैं। इस पर उनसे चर्चा हो सकती हैं। साथ ही अन्य राजनीतिक मुद्दों को लेकर भी दोनों नेताओं की राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ चर्चा हो सकती हैं।
इस खबर को लगातार अपडेट किया जा रहा है...

खरगोन में दंगे क्यों हुए?, जानिए गृहमंत्री ने क्या कहा:CM शिवराज के भविष्य पर नरोत्तम मिश्रा ने कह दी बड़ी बात

ग्वालियर में 'आप' प्रदेश उपाध्यक्ष की SDM से बहस
ग्वालियर कलेक्टर कार्यालय में प्रदर्शन करने पहुंची आम आदमी पार्टी की प्रदेश उपाध्यक्ष मीनाक्षी सिंह तोमर से SDM सीबी प्रसाद के बीच बहस हो गई। आप पार्टी की नेता व कार्यकर्ता फूटी कॉलोनी इलाके में अतिक्रमण हटाने के दौरान मकान तोड़े जाने का विरोध कर रहे थे। प्रदर्शनकारी कलेक्टर से मिलना चाहते थे, लेकिन SDM सीबी प्रसाद उनको ही ज्ञापन देने पर अड़े थे। इस दौरान आप प्रदेश उपाध्यक्ष से बहस हो गई। दोनों ने एक-दूसरे को शटअप कहा, तो SDM ने हट, हट नॉनसेंस लेडी तक कह दिया। SDM के व्यवहार की शिकायत कलेक्टर से की गई है।

एसडीएम और आप प्रदेशाध्यक्ष के बीच बहस हुई।
एसडीएम और आप प्रदेशाध्यक्ष के बीच बहस हुई।

मुरैना में दो बसें भिड़ीं, 15 लोग घायल

मुरैना में स्टेशन के पास लालौर फाटक पर दो बसें आमने-सामने भिड़ गईं। एक बस मुरैना से अंबाह जा रही थी, दूसरी अंबाह से मुरैना आ रही थी। हादसे में 15 लोग घायल हो गए। इनमें दो की हालत गंभीर है। इन्हें ग्वालियर रैफर किया गया है। घायलों में 6 बच्चे भी शामिल हैं।

MP में कॉलेजों में 17 मई से होंगे एडमिशन, पूरी प्रोसेस होगी ऑनलाइन

मप्र में सभी सरकारी और निजी कॉलेजों में ग्रेजुएशन /पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्सों में शैक्षणिक सत्र 2022 -23 के लिए 17 मई से एडमिशन शुरू होंगे। उच्च शिक्षा मंत्री डॉक्टर मोहन यादव ने बताया कि एडमिशन की सारी प्रोसेस ऑनलाइन होगी। इसमें एक चरण और तीन सीएलसी राउंड होंगे। इस चरण और सीएलसी में अपग्रेडेशन भी होगा। इससे एडमिशन प्रोसेस कम समय में संचालित हो सकेगी। ऑनलाइन प्रोसेस से कॉलेज में स्टूडेंट्स को नहीं आना पड़ेगा।

पंचायत-निकाय चुनाव जून में; कमलनाथ बोले- कांग्रेस 27% OBC कैंडिडेट को टिकट देगी

मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग ने कहा है कि नगरीय निकाय चुनाव जून में हो सकते हैं। दरअसल हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने बिना OBC आरक्षण के लोकल बॉडी इलेक्शन कराने का आदेश दिया था। जिसके बाद बुधवार को राज्य निर्वाचन आयोग की बैठक हुई। राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने कहा- नगरीय निकाय चुनाव कराने के लिए हम आज ही तैयार हैं। 12 जून तक एक चुनाव कराया जाएगा। 30 जून तक दोनों चुनाव कराए जाएंगे। नगरीय निकाय चुनाव कराना आज की तारीख में आसान है, आरक्षण और परिसीमन दोनों हैं। पंचायत चुनाव में आरक्षण बाकी है। आज पंचायत विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की है। आयुक्त ने कहा कि हर हाल में जून में चुनाव होंगे। चुनाव की तैयारियों के लिए कलेक्टरों को भी निर्देश दिए हैं।

मध्यप्रदेश में लोकल बॉडी इलेक्शन में OBC रिजर्वेशन को लेकर सियासत गर्मा गई है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने तय किया है कि चुनाव में हम 27% टिकट OBC कैंडिडेट्स को देंगे। इससे एक कदम आगे जाते हुए BJP प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा है कि 27% क्या, योग्यता रखने वाले OBC कार्यकर्ताओं को हम 27% से ज्यादा सीटों पर टिकट देंगे।

जानिए भोपाल में अब किसके पड़ोसी बन गए केंद्रीय मंत्री सिंधिया?

कांग्रेस की मांग- OBC को 27% आरक्षण देने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाए सरकार
कांग्रेस ने OBC आरक्षण को लेकर BJP और शिवराज सरकार पर बड़ा हमला बोला। कहा कि दोनों RSS के एजेंडे को आगे बढ़ाना चाहते हैं। सुप्रीम कोर्ट में सरकार ने पक्ष मजबूती से नहीं रखा। इसी का परिणाम है कि सुप्रीम कोर्ट ने OBC आरक्षण के बिना पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव कराने का फैसला दिया। पूर्व मंत्री कमलेश्वर पटेल ने कहा कि यदि BJP और शिवराज सरकार की OBC को आरक्षण देने की मंशा है तो विधानसभा का विशेष सत्र तत्काल बुलाया जाए। यहां से संविधान में संशोधन के लिए प्रस्ताव के लिए भेजिए। केंद्र में भी बीजेपी की सरकार है। कांग्रेस ने मांग रखी कि सिर्फ मध्यप्रदेश ही नहीं, पूरे देश मे ओबीसी को 27% आरक्षण की व्यवस्था की जाए। जिस तरह से सामान्य वर्ग को 10% आरक्षण देने के लिए भारतीय संविधान में संशोधन किया, उसी तरह पिछड़े वर्ग को भी आरक्षण देने BJP सरकार संशोधन विधेयक लेकर आए। पटेल ने कहा कि ऐसा प्रावधान संशोधन करके किया जा सकता है। ऐसा करते हैं तो न्यायालय का जोर नहीं चलेगा।

आरक्षण OBC का छिना, नुकसान सामान्य वर्ग को?:मध्यप्रदेश में BJP-कांग्रेस बिना आरक्षण ही OBC को खुश कर देगी, जानिए कैसे...

CM शिवराज ने विदेश यात्रा और आज की बैठकें कैंसिल कीं
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 14 मई को अपनी विदेश यात्रा कैंसिल कर दी है। साथ ही आज इस यात्रा को लेकर होने वाली बैठकें भी कैंसिल कर हैं। इसकी वजह बताते हुए CM ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने मध्यप्रदेश में निकाय-पंचायत चुनाव बिना OBC रिजर्वेशन के ही कराने का आदेश दिया है। हमारी सरकार अन्य पिछड़ा वर्ग के सामाजिक आर्थिक और राजनीतिक सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है। न्यायालय का निर्णय स्थानीय निकायों में प्रतिनिधित्व को प्रभावित करने वाला निर्णय है। सरकार ने रिव्यू पिटीशन दायर करने का फैसला लिया है। 14 मई से मध्यप्रदेश में निवेश आकर्षित करने के लिए विदेश प्रवास तय था, लेकिन अभी कोर्ट में पिछड़ा वर्ग का पक्ष रखना और उनके हितों का संरक्षण करना मेरी प्राथमिकता है। इसीलिए प्रस्तावित विदेश यात्रा निरस्त कर रहा हूं। पढ़िए, पूरी खबर

शिवपुरी में 1 लाख की रिश्वत लेते रोजगार सहायक गिरफ्तार
शिवपुरी में करैरा जनपद पंचायत कार्यालय के सामने दोपहर 1 बजे लोकायुक्त ग्वालियर की टीम ने ग्राम पंचायत सिलरा के रोजगार सहायक नरेंद्र सिंह सोलंकी को 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा है। रोजगार सहायक ने ग्राम सिलरा सरपंच के भाई वसीम खान से पंचायत के कामों में कमीशन के बदले रिश्वत की मांग की थी। सौदा 2 लाख में तय हुआ था। पहली किस्त लेते हुए रोजगार सहायक पकड़ा गया।

खरगोन दंगे में SP के सामने तलवार लहराने वाला गिरफ्तार
खरगोन में 10 अप्रैल को रामनवमी पर SP चौधरी के सामने तलवार लहराकर आतंक फैलाने वाले इरफान को पुलिस ने पकड़ लिया। 30 दिन बाद कोतवाली पुलिस ने इरफान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। रामनवमी के जुलूस पर हुए पथराव के बाद खरगोन दंगे की आग में झुलस गया था।

जबलपुर में पुलिस भर्ती दौड़ के बाद युवक की मौत

जबलपुर में पुलिस आरक्षक भर्ती के लिए दौड़ के बाद युवक की मौत हो गई। रांझी TI के मुताबिक SAF में चल रही आरक्षक शारीरिक परीक्षा का आज तीसरा दिन है। सिवनी के खेड़ा निवासी नरेंद्र कुमार गौतम (22) की 800 मीटर की दौड़ के बाद तबीयत खराब हो गई। वह दौड़ के बाद लेट गया था। उसे सांस लेने में परेशानी हो रही थी। पहले रांझी अस्पताल और वहां से रेफर करने पर विक्टोरिया, फिर जबलपुर हॉस्पिटल ले जाया गया। उसे बचाया नहीं जा सका। बेटे को पिता शंकर लाल गौतम परीक्षा दिलाने लाया था। पढ़िए, पूरी खबर

रीवा में हादसा जरहा स्कूल के पास हुआ।
रीवा में हादसा जरहा स्कूल के पास हुआ।

रीवा में डंपर ने बाइक सवारों को रौंदा, दो की मौत
रीवा जिले के मनगवां थाना अंतर्गत नेशनल हाईवे-30 जरहा स्कूल के पास डंपर ने बाइक सवारों को रौंद दिया। दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। एक की हालत गंभीर बताई जा रही है। हादसा सुबह 11 बजे हुआ।

MP में आतंकवाद की कमर तोड़ने के लिए खुलेगी NIA की ब्रांच
मध्यप्रदेश में NIA (नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी) की ब्रांच खोली जाएगी। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जल्द ब्रांच खोली जाएगी। NIA का गठन भारत में आतंकवाद से लड़ने के लिए सरकार ने किया था। 31 दिसंबर 2008 को संसद में नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी एक्ट 2008 पास किया गया था। यह आतंकवाद के मामलों की जांच करने वाली राष्ट्रीय जांच एजेंसी है। एजेंसी देश में आतंकवाद से जुड़ी किसी भी जांच के लिए स्वतंत्र है, इसके लिए इसे राज्यों की मंजूरी की जरूरत नहीं है। पढ़िए, पूरी खबर