• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Madhya Pradesh School Reopening News; School Education Minister Inder Singh Parmar Said That Small Classes From 1st To 5th Will Not Open This Year

MP में 5वीं तक के स्कूल अभी नहीं खुलेंगे:स्कूल शिक्षा मंत्री भास्कर से बोले- कोरोना को देखते हुए लिया निर्णय, 10वीं और 12वीं की परीक्षा पहली प्राथमिकता

भोपालएक वर्ष पहलेलेखक: अनूप दुबे
स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि इस साल छोटे बच्चों की क्लास नहीं खुलेंगी।
  • मंत्री ने कहा-भोपाल और इंदौर में बढ़ते कोरोना केस को देखते हुए हर सप्ताह समीक्षा कर रहे
  • अभी परीक्षाएं आयोजित कराना पहली प्राथमिकता, 10वीं-12वीं के एग्जाम ऑफलाइन ही होंगे।

मध्यप्रदेश में काेरोना के केस बढ़ने की वजह से 5वीं तक के स्कूल अभी नहीं खुलेंगे। परीक्षा पहली प्राथमिकता है। मई में परीक्षा खत्म हाेने के बाद कोरोना की समीक्षा की जाएगी। इसके बाद स्कूल खोलने या बंद रखने का निर्णय लिया जाएगा।

प्रदेश में लगातार केस बढ़ रहे हैं। भोपाल और इंदौर में अधिक प्रभाव है। इसे देखते हुए हर सप्ताह समीक्षा कर रहे हैं। उसी के आधार पर बड़ी क्लास को खोले जाने का निर्णय किया जाएगा, लेकिन छोटे बच्चों की क्लास को अभी नहीं खोला जाएगा।'

परीक्षा खत्म के बाद ही नया सत्र शुरू करने पर निर्णय लिया जाएगा
मंत्री ने कहा कि अभी तो परीक्षा आयोजित कराना पहली प्राथमिकता है। सरकारी और निजी दोनों ही स्कूल के लिए गाइडलाइन जारी है। जहां तक 10वीं और 12वीं क्लास की परीक्षा का सवाल है, तो वे ऑफलाइन ही होंगी।

उन्होंने कहा कि यह उनके भविष्य का सवाल है। हालांकि निजी स्कूलों को एग्जाम और अन्य क्लास की परीक्षा को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से कराने की छूट दी है। वे अपनी सुविधा और गाइडलाइन का पालन करने हुए निर्णय ले सकते हैं। परीक्षा संपन्न होने के बाद ही नया सत्र प्रारंभ करने का विचार किया जाएगा।

मनमानी फीस नहीं वसूल सकेंगे निजी स्कूल: परमार
मंत्री परमार ने कहा कि अभी तक निजी स्कलों पर अंकुश लगाने के लिए कोई दिशा-निर्देश या कानून नहीं था। अब नए प्रावधान के अनुसार स्कूल मनमानी फीस नहीं ले सकेंगे। अगर कोई स्कूल फीस बढ़ाना चाहता है, तो उसे पहले शासन से अनुमति लेना होगा। इसके लिए उसने फीस बढ़ाने का कारण बताना होगा। जहां तक कोर्स की बात है, तो उस पर भी सरकार कार्य कर रही है।

खबरें और भी हैं...