पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Manager Of MPRDC Including Direct RTO And AGM Suspended, CM Shivraj Said 32 Seats In The Bus, Ride 62 .. Why Not Administration?

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सीधी बस हादसा, 36 घंटे बाद एक्शन:सीधी RTO सहित MPRDC के मैनेजर और AGM निलंबित; CM शिवराज ने कहा- बस में 32 सीटें, सवारी 62.. प्रशासन क्यों नहीं चेता?

भोपाल2 महीने पहले
सीधी प्रवास के दाैरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बस हादसे में मरने वालों के परिजनों से मुलाकात कर संवेदना व्यक्त की।
  • मुख्यमंत्री ने रेस्क्यू ऑपरेशन तत्परता से चलाने पर SDRF-NDRF व प्रशासन की पीठ ठोकी
  • लोगों की जान बचाने वाले लवकुश लोनिया, सत्येंद्र व शिवरानी को 5-5 लाख रुपए सम्मान निधि दी जाएगी

सीधी बस हादसे के 36 घंटे बाद सरकार एक्शन मोड में आई। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधी में बुधवार रात 11 बजे इस हादसे के लिए प्रारंभिक जांच के दौरान दोषी पाए गए सीधी आरटीओ, मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम (MPRDC) के मैनेजर, एडिशनल जनरल मैनेजर सहित चार अफसरों को सस्पेंड कर दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि 32 सीटों की बस में 62 यात्री सवार, प्रशासन क्यों नहीं चेता।

एमपीआरडीसी के अफसरों की जिम्मेदारी रोड मेंटेनेंस की थी, लेकिन सड़क खराब थी तो बनाई क्यों नहीं गई? इसके लिए अफसर दोषी हैं, जिन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने बुधवार को दिन भर मृतकों के परिजनों से उनके घर जाकर संवेदना व्यक्त की थी। इसके बाद रात 10 बजे सीधी कलेक्टर कार्यालय में बैठक की। इसके बाद मुख्यमंत्री ने अफसरों को निलंबित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस हादसे की विस्तृत जांच कराई जा रही है। लेकिन प्रारंभिक तौर पर कई सवाल हैं। इसलिए हादसे की तह तक जाएंगे। जो दोषी पाया जाएगा, उसे सजा के लिए तैयार रहना होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़क वर्ष 2004 में बनी थी, लेकिन कई जगह बड़े-बड़े गड्‌ढे हो गए हैं। इसकी वजह यह है कि बड़े-बड़े ट्रॉले इस सड़क से निकलते हैं। उन्होंने यहां तक कहा कि मुझे पता चला है कि 100 पहिए वाले भारी भरकम ट्रॉलों के कारण सड़क खराब हुई। जिस कारण जाम की स्थिति बनी। यही वजह है कि बस ड्राइवर जाम से बचने के लिए नहर के रास्ते बस को ले गया और हादसा हो गया।

लॉन्ग टर्म प्लान बनेगा

मुख्यमंत्री ने बताया कि सड़क का निर्माण जल्दी से जल्दी शुरू कराया जाएगा। एमपीआरडीसी के एमडी और इंजीनियर गुरुवार तक सीधी पहुचं जाएंगे। उन्होंने बताया कि सड़क निर्माण लॉन्ग टर्म प्लान के हिसाब से किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जब तक सड़क निर्माण चलेगा, 6-6 घंटे के लिए दोनों तरफ का ट्रैफिक रोका जाएगा। इस दौरान जिगना से भरतपुर तक वैकल्पिक मार्ग बनाया जाएगा।

रियल हीरोज का होगा सम्मान

मुख्यमंत्री ने कहा कि हादसे के बाद शिवरानी और लवकुश लोनिया ने लोगों की जान बचाने के लिए अपनी जान की परवाह नहीं की। इसी तरह फायर फाइटर सत्येंद्र शर्मा ने लोगों को बचाने में अहम भूमिका निभाई। तीनों को 5-5 लाख रुपए सम्मान निधि दी जाएगी। इसके अलावा एनडीआरएफ, एसडीआरएफ और पुलिस कर्मियों की सूची भी मांगी है, जिन्हें पुरस्कृत किया जाएगा। इन्होंने रेस्क्यू ऑपरेशन बहुत ही तत्परता से किया।

भोपाल पहुंचकर अफसरों की ली बैठक, बोले- दुर्घटना के दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को सीधी दुर्घटना के संबंध में निवास पर उच्चस्तरीय बैठक ली। उन्होंने निर्देश दिए कि दोषियों को किसी भी स्थिति में छोड़ा नहीं जाए, जो गलती करेगा वह दंड पाएगा।
उन्होंने कहा कि सड़क की मरम्मत तथा क्रेन की व्यवस्था तत्काल प्रभाव से की जाए। वैकल्पिक मार्ग विकसित करने के लिए जल्द से जल्द कार्य योजना बनाकर क्रियान्वयन आरंभ किया जाए। संपूर्ण प्रदेश में बसों की फिटनेस और ओवरलोडिंग के संबंध में अभियान आरंभ हो। प्रदेश में घाटी, दुर्गम मार्गों, खराब सड़कों का सर्वे करें तथा आवश्यक कार्रवाई की जाए। बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक विवेक जौहरी अपर मुख्य सचिव जल संसाधन तथा परिवहन एसएन मिश्रा, प्रमुख सचिव लोक निर्माण नीरज मंडलोई उपस्थित थे।

भोपाल से जाएगी इंजीनियरों की टीम, अच्छी सड़क बनेगी
भोपाल से एमपीआरडीसी के इंजीनियरों की टीम रीवा जाएगी। इंजीनियर इस मार्ग को तत्काल ठीक करने के लिए काम करेंगे। सीएम ने कहा कि छुहिया घाटी में अच्छी सड़क का निर्माण कराया जाएगा। सड़क निर्माण के चलते कुछ समय के लिए वाहनों की आवाजाही रोकी जा सकती है। ऐसे में वाहनों को जिगना मार्ग या फिर गड्डी मार्ग से भेजा जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

और पढ़ें