पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Mp Board Exam 2020 News Updates; Disabled Students Another Chance To Take Exam

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एमपी बोर्ड:कोरोना के कारण 12वीं की स्थगित परीक्षा नहीं दे पाने वाले छात्रों को एक और मौका, 14 से भर सकेंगे फॉर्म, इस बार 30 हजार से ज्यादा छात्र परीक्षा नहीं दे पाए

भोपाल10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंडल ने 12वीं के रद्द पेपरों में शामिल नहीं होने वाले छात्रों को एक और मौका दिया है। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
मंडल ने 12वीं के रद्द पेपरों में शामिल नहीं होने वाले छात्रों को एक और मौका दिया है। -फाइल फोटो
  • लॉकडाउन के कारण हादर सेकेंडरी के रद्द हुए पेपरों की 9 जून से 16 जून तक परीक्षा हुई थीं
  • मंडल ने 30 साल में पहली बार 12वीं से पहले 4 जुलाई को 10वीं का रिजल्ट जारी किया था

मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (एमपी बोर्ड) ने कोरोना के कारण और परीक्षा नहीं दे पाने वाले दिव्यांग छात्रों को परीक्षा देने का एक और मौका दे रही है। इस बार परीक्षा में 30 हजार 499 छात्र शामिल नहीं हो पाए। अब यह परीक्षा के लिए 14 जुलाई से आवेदन कर सकते हैं। इस संबंध में मंडल ने सोमवार को आदेश भी जारी कर दिए हैं। पीआरओ एसके चौरसिया ने बताया कि 20 जुलाई तक आवेदन भरे जाएंगे। इसकी 27 जुलाई तक प्रक्रिया पूरी कर ली जाएगी। उसके बाद परीक्षा आयोजित की जाएगी। मंडल पहली बार 10वीं और 12वीं का रिजल्ट अलग-अलग घोषित कर रही है। 10वीं का 4 जुलाई को घोषित कर चुकी है। अब जल्द ही 12वीं का रिजल्ट भी घोषित करने की तैयारी में है। 

मंडल ने सोमवार को इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिए।
मंडल ने सोमवार को इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिए।

फेल होने पर पूरक परीक्षा में भी शामिल हो सकेंगे
मंडल ने जानकारी देते हुए बताया कि 8091 नियमित और 22,405 प्राइवेट छात्र परीक्षा नहीं दे पाए। कोरोना पॉजिटिव छात्रों से लेकर क्वारैंटाइन में रहने वाले और दिव्यांग छात्र के लिए विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी। वे विशेष परीक्षा में शामिल होने के बाद किसी विषय में फेल हो जाते हैं, तो ऐसे छात्र मंडल की हायर सेकेंडरी पूरक परीक्षा 2020 में सम्मिलित हो सकेंगे। कोरोना पॉजिटिव एवं क्वारैंटाइन छात्र को विशेष परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए स्वयं एवं परिवार के सदस्य का डिस्चार्ज सर्टिफिकेट अथवा क्वारैंटाइन सर्टिफिकेट देना होगा।  

कम अंक वाले 15 दिन के अंदर कर सकते हैं आवेदन
मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने 4 जुलाई को 10वीं कक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया। परिणाम और अंकों को लेकर कोई संदेह होने पर छात्र आवेदन कर सकते हैं। छात्र-छात्राएं को अपने अंकों का सत्यापन परीक्षा परिणाम घोषित होने के 15 दिन के अंदर एमपी ऑनलाइन के पोर्टल और कियोस्क के माध्यम से कराना होगा।

तीन महीने तक फ्री में मार्कसीट में सुधार होगा

इस बार 62.84% छात्र पास हुए हैं। वर्ष 2019 के मुकाबले करीब दो प्रतिशत रिजल्ट बेहतर रहा है। कोरोना के कारण कुछ पेपर रद्द भी करना पड़ा। रद्द पेपर में सभी को पास कर दिया गया। बच्चों का रिजल्ट 1 मार्च से 20 मार्च के बीच हुए पेपर के अंकों के आधार पर बनाया गया। अब छात्रों की मार्कशीट में अगर कोई गलती जैसे नाम, अंक, जन्म तिथी और अन्य कोई गड़बड़ी में सुधार के लिए 3 महीने का समय रहेगा। छात्र आवेदन देकर निशुल्क इसमें सुधार करवा सकते हैं। इसके बाद सुधार के लिए मंडल द्वारा फीस ली जाएगी।

उत्तर पुस्तिका की छाया प्रति के लिए 15 दिन का समय

उत्तर पुस्तिका की कॉपी लेने के लिए परीक्षा परिणाम घोषित होने के 15 दिन के अंदर आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए एमपी ऑनलाइन के पोर्टल या कियोस्क पर डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड या इंटरनेट बैंकिंग के द्वारा शुल्क जमा किया जा सकता है। पुनर्गणना, उत्तर पुस्तिका की कॉपी मोबाइल एप से ली जा सकती है। एप पर यह निशुल्क है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें