• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • MP Jail Meeting Timing: Ban On Meeting With Prisoners In Madhya Pradesh Jails Now Increased Till 31 July

कोरोना इफेक्ट / मध्यप्रदेश की जेलों में अब बंदियों से 31 जुलाई तक मुलाकात पर प्रतिबंध, पहले 30 जून तक रोक थी

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • प्रदेश की 131 जेलों में करीब 40 हजार कैदी हैं, 6 हजार से ज्यादा कैदियों को छोड़ा गया
  • क्षमता से ज्यादा बंदी अभी जेलों में हैं, पैरोल पर रिहा कैदियों की अवधि 120 दिन कर दी

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 05:02 PM IST

भोपाल. प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए अब जेल में बंद बंदियों से मिलने के लिए परिजन को और इंतजार करना होगा। जेल प्रशासन ने मुलाकात पर रोक का समय 30 जून से बढ़ाकर 31 जुलाई कर दिया है। मंगलवार को मध्यप्रदेश जेल मुख्यालय ने इसके आदेश जारी कर दिए।

मध्यप्रदेश की जेलों में पहले 30 जून तक बंदियों से मुलाकात पर रोक थी।

डीजी जेल संजय चौधरी ने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चलते 23 मार्च से लॉकडाउन शुरू किया गया था। इसके तहत जेल में बंदियों से मुलाकात पर भी 31 मई तक रोक लगा दी गई थी। वहीं, प्रदेश में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए मुलाकात पर रोक की अवधि एक माह और बढ़ाकर यह 30 जून तक कर दी थी। इसके बाद शासन के आदेश पर अब इसे 31 जुलाई तक कर दिया गया है। इस दौरान बंदियों से कोई मुलाकात नहीं कर सकता है।

प्रदेश की जेलों में क्षमता से ज्यादा बंदी बंद हैं। हालांकि, करीब साढ़े 6 हजार को छोड़ा जा चुका है।

क्षमता से ज्यादा बंदी जेलों में हैं
मध्यप्रदेश की करीब 131 जेलों में से 75 प्रतिशत से ज्यादा में क्षमता से अधिक कैदी हैं। मध्यप्रदेश की जेलों में करीब साढ़े 28 हजार कैदी रखने की क्षमता है, जबकि वर्तमान में करीब 40 हजार कैदी रह रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद करीब साढ़े 6 हजार कैदियों को कोविड-19 के चलते भीड़ कम करने के लिए छोड़ा जा चुका है।। 

रिहाई अवधि भी बढ़ाई गई
मध्यप्रदेश में 6 हजार से अधिक कैदियों को मई में पैरोल और अंतरिम जमानत पर रिहा किया गया है। इनमें से करीब 4 हजार सजायाफ्ता कैदियों को 60 दिन के पैरोल पर रिहा किया गया, जबकि अन्य करीब ढाई हजार विचाराधीन बंदियों को 45 दिन की अंतरिम जमानत पर रिहा किया गया। पैरोल पर रिहा किए गए इन कैदियों की रिहाई का समय 60 दिन और बढ़ा दिया है। अंतरिम जमानत पर छोड़े गए इन बंदियों की रिहाई का समय भी बढ़ाया गया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना