पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Pulse Polio Medicine; 14 Million Children Fed, CM Shivraj Singh Chauhan Campaign Start Today From CM Residence In Bhopal

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पल्स पोलियो अभियान का रजत जयंती वर्ष:सीएम शिवराज ने घर पर ही बच्चों को पल्स पोलियो की दवा पिलाई; प्रदेश में 1 करोड़ 14 लाख बच्चों को पिलाई जाएगी

भोपाल3 महीने पहले
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीएम निवास पर ही बच्चों को पोलियो की दवा पिलाकर अभियान की शुरुआत की।
  • हर गांव में पहली बार पोलियो दवा पीने वालों में 3 से 5 लोगों को ब्रांड एंबेसडर बनाया गया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान के रजत जयंती वर्ष की शुरुआत बच्चों को घर पर ही पल्स पोलियो की खुराक पिलाकर की। इसके साथ ही 1 करोड़ 14 लाख बच्चों को पोलिया की दवा पिलाने का राज्य स्तरीय अभियान का शुभारंभ मुख्यमंत्री निवास से हुआ। इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर प्रभुराम चौधरी, स्वास्थ्य आयुक्त डॉक्टर संजय गोयल, प्रबंध संचालक स्वास्थ्य मिशन छवि भारद्वाज, राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर संतोष शुक्ला उपस्थित थे। यह पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान का रजत जयंती वर्ष है।

5 साल तक के बच्चों को पिलाई जाएगी

मध्य प्रदेश में रविवार 31 जनवरी को जन्म से 5 साल तक के 1 करोड़ 14 लाख बच्चों को पल्स पोलियो की दवा पिलाना शुरू किया गया। पहले दिन पोलियो की दवा बूथ स्तर पर पिलाई जाएगी। इसके बाद दो दिन तक हेल्थ वर्कर घर-घर जाकर बच्चों को पोलियो की दवा पिलाएंगे। रेलवे स्टेशन, बस स्टैंडों पर भी टीम तैनात की जाएगी।

पहले 17 जनवरी को पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान रखा गया था। इसी बीच कोरोना टीकाकरण शुरू होने के कारण इसे टाल दिया गया था। पिछले साल 19 जनवरी को भी यह अभियान प्रदेश में चलाया गया था। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार भारत के कुछ पड़ोसी देशों में पल्स पोलियो के मरीज अभी भी मिल रहे हैं।

यही वजह है कि मध्य प्रदेश समेत देशभर में पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान चलाना पड़ रहा है। साल में यह अभियान एक बार चलाया जाता है। जब तक पड़ोसी देशों से पोलियो खत्म नहीं होगा, भारत में इसी तरह से पल्स पोलियो टीकाकरण अभियान चलाना पड़ेगा। स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के अनुसार बच्चों को पोलियो की दवा पिलाने के लिए के लिए डोर-टू-डोर भी जाएंगे।

ऐसे में हेल्थ वर्कर्स को पहले से ही अभिभावकों को समझाइश देने के लिए कहा गया है। देश में पल्स पोलियो अभियान की शुरुआत 3 दिसंबर 1995 को हुई थी। 25 साल होने पर मध्य प्रदेश स्वास्थ्य विभाग इस वर्ष सिल्वर जुबली मना रहा है। इसमें हर गांव में पहली बार पोलियो दवा पीने वालों में 3 से 5 लोगों को ब्रांड एंबेसडर बनाया गया है।

फैक्ट फाइल

प्रदेश में बूथ : 44 हजार 685

ट्रांजिट बूथ : 2488

हाईरिस्क एरिया : 4117

दल : 89 हजार 370

मोबाइल टीम : 1609

वैक्सीनेटर : 89 हजार 370

सुपर वाइजर्स : 8937 हैं।

डीप फ्रीजर : 2802

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

और पढ़ें