पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Recovery Rate Increased By More Than 2% In 5 Days, Infection Rate Also Decreased Marginally

MP में कोरोना काबू होने लगा:प्रदेश में 5 दिन में रिकवरी रेट 2% से ज्यादा बढ़ा, संक्रमण दर में भी मामूली कमी आई

मध्यप्रदेश2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इंदौर में केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत की बेटी की कोरोना से मौत

मध्यप्रदेश में संक्रमण की रफ्तार में कमी आना शुरू हो गई है। ठीक होने वालों की संख्या भी बढ़ रही है। 5 दिन में रिकवरी रेट 2% बढ़ा है। प्रदेश के चारों बड़े शहरों की स्थिति भी ठीक है। यहां मरीज तेजी से रिकवर हो रहे हैं। ठीक होने वालों का आंकड़ा नए संक्रमितों से ज्यादा है।

प्रदेश में 28 अप्रैल को रिकवरी रेट 82% से थोड़ा कम था, जबकि संक्रमण दर 21% से ज्यादा थी। 2 मई को रिकवरी रेट 84% पर पहुंचा गया। नए केस में भी कमी आ रही है। इधर, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत की बेटी योगिता राजकुमार सोलंकी की कोरोना से मौत हो गई। इंदौर के मेदांता हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा था। इलाज के दौरान सुबह 11 बजे उन्होंने दम तोड़ दिया।

इंदौर: 5 दिन बाद आंकड़ा 18,00 से नीचे आया
इंदौर के लिए लगातार राहत की खबर आ रही है। अब तक यहां रोजाना 18,00 से ज्यादा मरीज आ रहे थे, लेकिन 24 घंटे में यह संख्या घटकर 1,787 हो गई। एक दिन पहले 1,821 नए मरीजों की पहचान हुई थी। संक्रमण दर भी 1% घटकर 17% हो गई है। 2,161 मरीज ठीक भी हुए हैं। सरकारी रिकाॅर्ड में 8 संक्रमितों की मौत भी हुई है। इलाज करा रहे मरीजों की संख्या घटकर 10,819 हो गई है। एक हफ्ते पहले तक यह आंकड़ा करीब 13,000 पर था।

भोपाल: सबसे ज्यादा 12 मौतें, 3 दिन में संक्रमण दर 1% बढ़ी
राजधानी में 24 घंटे में सबसे ज्यादा 12 मौतें हुई हैं। यहां 6,700 सैंपल की जांच में 1,669 संक्रमित मिले हैं, जबकि 1,939 मरीज ठीक हो गए। यहां संक्रमण दर में मामूली बढ़ोतरी हुई है। यह 25% हो गई है। तीन दिन पहले यह 24% पर आ गई थी। यह प्रदेश की संक्रमण दर से 4% ज्यादा है।

ग्वालियर: संक्रमण दर 29%, ठीक होने वाले ज्यादा
यहां तीन दिन से सैंपल की जांच में कमी की वजह से संक्रमितों की संख्या में लगातार कमी आ रही है, लेकिन संक्रमण दर में अंतर नहीं आ रहा है। यह 29% पर है। 24 घंटे में 3,172 लोगों की रिपोर्ट आई। इनमें से 910 नए संक्रमित मिले। रविवार को यहां 978 संक्रमित ठीक हो गए। शहर में इलाज करा रहे मरीज 8,757 से घटकर 8,682 हो गए हैं। यहां कंटेनमेंट जोन की संख्या भी घटकर 534 हो गई है। एक दिन पहले तक यहां 626 कंटेनमेंट जोन थे।

शहर के सरकारी रिकॉर्ड में रविवार को सिर्फ 7 मौतें दर्ज की गईं। लेकिन शहर के चार मुक्तिधाम में 44 संक्रमितों के शवों का अंतिम संस्कार हुआ। इनमें चार एक दिन पहले के हैं। लक्ष्मीगंज मुक्तिधाम में तो शवों को जलाने तक की जगह नहीं थी। परिजन को इसके लिए इंतजार करना पड़ा।

जबलपुर: सरकारी रिकॉर्ड में 8 मौतें, जबकि 47 अंतिम संस्कार कोविड प्रोटोकॉल से हुए
जिले में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 39 हजार के पार हो जाएगी। यहां अब तक 38,480 मरीज इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। बीते कुछ दिनों से यहां रोजाना 7,00 से अधिक नए मरीज मिल रहे थे।

24 घंटे में 739 नए संक्रमित मिले हैं, वहीं प्रशासनिक रिकाॅर्ड में 8 मौतें दर्ज की गईं। वहीं चिन्हित मुक्तिधामों में 47 शवों का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकाॅल से किया गया। शहर में अभी 5,832 मरीजों का इलाज ल रहा है, इनमें से 3,716 होम आइसोलेशन में हैं।

खबरें और भी हैं...