• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Roadmap Ready From Today Till January 13, 'Bharat Stand With Modi' Campaign Will Run With Havan Puja

मोदी की सुरक्षा में चूक को भुनाएगी बीजेपी:मिंटो हॉल में दिया धरना, सीएम नहीं पहुंचे; 13 जनवरी तक चलेगा ‘भारत स्टैंड विद मोदी’ अभियान

भोपाल5 महीने पहले

पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में हुई चूक को लेकर बीजेपी ने मध्यप्रदेश में एग्रेसिव रूप से मैदान में उतरने की तैयारी कर ली है। पार्टी ने शुक्रवार को मिंटो हॉल में मौन धरना दिया। धरने में सीएम को आना था, लेकिन वे नहीं आए। मौन धरने के बाद गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, कमल पटेल, प्रभुराम चौधरी और जगदीश देवड़ा, राज्यपाल को ज्ञापन देने गए।

धरने पर गृहमंत्री ने बताया कि राज्यपाल मंगुभाई पटेल से मांग करेंगे कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई चूक के मामले की जांच कराकर देश की जनता के सामने पूरी जानकारी लाई जाए। कमलनाथ जनता को भ्रमित कर रहे हैं। कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी इस बात को मान चुकी हैं कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा में चूक हुई है।

ये रोडमैप तैयार

7 जनवरी से (शुक्रवार) से 13 जनवरी तक का पूरा रोडमैप तैयार किया गया है। यह कार्यक्रम केंद्र की निर्देश पर तैयार किया गया है। इसमें हवन पूजन से लेकर भारत स्टैंड विद मोदी जैसे अभियान चलाए जाएंगे। 10 जनवरी को जिला मुख्यालयों में प्रधानमंत्री जी हमारे अभिमान... नारे के साथ मानव श्रृखंला बनाई जाएगी। 10 जनवरी को ही बाबा साहब आंबेडकर की प्रतिमा के सामने अनुसूचित मोर्चे के द्वारा दो घंटे का धरना दिया जाएगा।

इसी के साथ दिव्यांग जन हमारे प्रधानमंत्री हमारी शान... नारे के साथ हवन करेंगे। 11 जनवरी को भारत स्टैंड विद मोदी अभियान के माध्यम से आम जनता को जोड़ा जाएगा। 13 जनवरी तक चलने वाले अलग-अलग कार्यक्रम में सेना और पुलिस के रिटायर्ड के अफसरों को जोड़ने के साथ बुद्धिजीवी वर्ग के साथ मिलकर कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी।

पीएम के साथ खड़ा है देश: वीडी

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने बताया कि लोकतंत्र को ध्वस्त करने वाली कांग्रेस पार्टी के खिलाफ प्रदेशभर में जिलास्तर पर बीजेपी के कार्यकर्ता अभियान चलाएंगे। पूरा देश प्रधानमंत्री के साथ खड़ा है। देश के कई सुरक्षा विशेषज्ञ, प्रबुद्ध जन और जानी मानी हस्तियां इस घटना की कड़ी निंदा कर रही हैं। साथ इस बात का उल्लेख कर रहे हैं कि फेडरल सिस्टम का पंजाब की सरकार ने जो अवहेलना की है, वह देश की सुरक्षा के लिए बहुत बड़ा खतरा है।

शर्मा ने कहा कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने कहा था कि सिद्धू देश की सुरक्षा के लिए खतरा है। उन्होंने पाकिस्तान से दोस्ती का आगाज किया था, लेकिन मैं कहता हूं कि पंजाब के मुख्यमंत्री ने देश की सुरक्षा के लिए खतरा हैं। नरेंद्र मोदी सिर्फ नाम नहीं है। वह देश के प्रधानमंत्री हैं। राज्य के अंदर उनकी सुरक्षा का इंतजाम करना राज्य का काम है।

खबरें और भी हैं...