पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Shivraj Singh Chauhan Life Threat Fake News Updates: Second Fir Registered Against Doctor Rajan Singh

मध्यप्रदेश:सीएम शिवराज पर आरोप लगाने वाले डॉ.राजन पर एक और मामला दर्ज, अब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने धोखाधड़ी की एफआईआर करवाई, उम्र से ज्यादा फर्जी पद और डिग्री निकले

भोपाल8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी राजन को क्राइम ब्रांच भोपाल ने दो दिन पहले कोलार के एक अस्पताल से गिरफ्तार किया था। यह फोटो उसी दिन की है। मामला दर्ज होने के बाद वह अस्पताल में सीने में दर्द की शिकायत लेकर भर्ती हो गया था।
  • मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच भोपाल से की गई थी शिकायत, दूसरा मामला दर्ज किया गया
  • मुख्यमंत्री के चिरायु अस्पताल में भर्ती होने पर राजन ने प्रेस कांफ्रेंस कर लगाए थे गंभीर आरोप

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जान को खतरा बताने वाले 21 साल के जालसाज डॉक्टर राजन सिंह की उम्र से कहीं ज्यादा पद और डिग्री निकली हैं। उसके खिलाफ मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की टीम ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सचिव की शिकायत पर एक और एफआईआर कर दी है। पुलिस को उसके घर से विभिन्न संगठनों और संस्थाओं में बड़े पद और डिग्री मिले हैं।

राष्ट्रीय सचिव राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी द्वारा आरोपी राजन सिंह के विरूद्ध पार्टी के नाम पर अवैध रूप से गतिविधियां संचालित कर धोखाधडी करने के संबंध में क्राइम ब्रांच से शिकायत की। इसमें कहा गया कि राजन नाम का कोई व्यक्ति न तो पार्टी का सदस्य है और न ही शरद विचार मंच नामक कोई फोरम पार्टी के अंतर्गत संचालित है। जांच के बाद पुलिस ने उसके खिलाफ धोखाधड़ी, जालसाजी, कूटरचित दस्तावेज तैयार करने के संबंध में दूसरी एफआईआर दर्ज कर ली। एस पर शिवराज के खिलाफ अनर्गल एवं भ्रामक जानकारी फैलाने के मामले में क्राइम ब्रांच ने दो दिन पहले कोलार के अस्पताल से गिरफ्तार किया था।

इस तरह राजन ने प्रेस कांफ्रेंस करके मुख्यमंत्री पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। - फाइल फोटो

रिवेरा टाउन में रहता है राजन
पुलिस ने राजन के रिवेरा टाउन स्थित उसके मकान नंबर-50 में तलाशी की भी ली। मौके से ऐसे कई दस्तावेज जब्त किए गए। यह उसके विभिन्न संस्थाओं का सदस्य और राष्ट्रीय अवार्ड मिलना पाया गया। विभिन्न सोशल मीडिया पर बनाई गई, उसकी प्रोफाइल में तथा आरोपी के निवास से जब्त विभिन्न संदिग्ध दस्तावेजों में निम्नलिखित संगठनों से संबद्ध तथा पुरस्कार मिलने का उल्लेख किया है।

राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार तक पाना बताया
पूर्व अध्यक्ष मप्र कुपोषण निवारण समिति, प्रेसिडेंट ब्रेवरी अवार्ड, रायल अमेरिकन यूनिवर्सिटी से डॉक्टर ऑफ सोशल वर्क की मानद उपाधि पीएचडी की मानद उपाधि, रायल अमेरिकन यूनिवर्सिटी से डॉक्टर ऑफ फिलोसफी की मानद उपाधि, दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग सद्भावना समिति का सदस्य, भारतीय गुणवत्ता समिति का सदस्य, इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजरवेशन ऑफ नेशन का सदस्य, आर्यभट्ट कॉलेज दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन भी करना बताया। इतना ही नहीं स्वयं को राष्ट्रपति के वीरता पुरस्कार पाना भी बताता था। मध्यप्रदेश कुपोषण निवारण जैसी कोई भी संस्था पंजीकृत ही नहीं है। लोन दिलाने के नाम पर एम्स के एक कर्मचारी से 8 लाख रुपए ले लिए। उसकी उम्र से ज्यादा उसके पद और डिग्री निकली हैं।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें