• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Shivraj Singh Chouhan MP Budget 2021 Reaction; Jagdish Deora, Bala Bachchan, PC Sharma, Vijayalaxmi Sadho

बजट भाषण में यह भी हुआ:बाला बच्चन ने पूछा- MP के हिस्से की राशि क्यों नहीं दे रहा केंद्र; इधर-उधर घूमने पर BSP विधायक रामबाई को स्पीकर ने टोका

भोपाल8 महीने पहलेलेखक: राजेश शर्मा
  • कॉपी लिंक
वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने 1 घंटे 16 मिनट में पढ़े बजट के 44 पेज । जबकि कमलनाथ सरकार में मंत्री तरुण भनोट का भाषण 48 मिनट का रहा। - Dainik Bhaskar
वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने 1 घंटे 16 मिनट में पढ़े बजट के 44 पेज । जबकि कमलनाथ सरकार में मंत्री तरुण भनोट का भाषण 48 मिनट का रहा।
  • कमलनाथ सरकार में पिछला बजट 2019-20 में वित्त मंत्री तरुण भनोट का भाषण 48 मिनट का रहा
  • बजट भाषण शुरू होने से पहले मुख्यमंत्री ने सदन को सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन की जानकारी

वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने विधानसभा में मंगलवार को पेश किया। वित्त मंत्री ने अपने बजट भाषण के 44 पेज 1 घंटे 16 मिनट में पढ़े। इस दौरान पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ, बाला बच्चन और पीसी शर्मा ने कई बार टोक कर बजट के आंकड़ों को लेकर टिप्पणियां की। हालांकि अध्यक्ष गिरीश गौतम ने कुछ टिप्पणी सदन की कार्यवाही से विलोपित करा दी।

देवड़ा जब केंद्र से मिलने वाली राशि का उल्लेख कर रहे थे, तब पूर्व मंत्री बाला बच्चन ने टोकते हुए कहा- ये तो बता दें कि केंद्र से राज्य के हिस्से की राशि क्यों नहीं मिल रही? इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि जीडीपी गिरती जा रही है, प्रति व्यक्ति आय घटती जा रही है। इसका जवाब भी दें। वहीं दूसरी ओर BSP विधायक रामबाई की बजट में कोई रुचि दिखाई नहीं दी। वे बजट भाषण के दौरान हाथ में कुछ कागज लेकर मंत्रियों की सीट पर बार-बार आती-जाती रहीं। हालांकि उन्हें अध्यक्ष ने एक बार जरूर टोका। बावजूद इसके उनका मंत्रियों के पास आना-जाना लगा रहा।

बता दें कि कमलनाथ सरकार ने पिछला बजट 2019-20 में वित्त मंत्री तरुण भनोट का भाषण 48 मिनट का था। इसके बाद पिछले वित्तीय वर्ष 2020-21 में कोरोना संक्रमण के चलते सदन में शिवराज सरकार ने बजट पेश नहीं किया था। इसके लिए सरकार को राज्यपाल ने लेखानुदान की अनुमति दी थी।

मुख्यमंत्री ने सांसद के निधन की जानकारी दी

आज सदन की कार्यवाही शुरू होते ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सदन को सांसद नंदकुमार सिंह चौहान के निधन की जानकारी दी। उन्होंने अनुरोध किया कि चूंकि आज सदन में बजट पेश किया जा रहा है, ऐसे में सदन की कार्रवाई को स्थगित नहीं किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि नंदकुमार सिंह चौहान का अंतिम संस्कार 3 मार्च को उनके गृह जिले में होगा। सदन के कई सदस्य उसमें शामिल होने के लिए जाएंगे। उन्होंने प्रस्ताव रखा कि सदन की कार्यवाही बुधवार को स्थगित रखी जाए।

कमलनाथ बोले- नंदकुमार सिंह का बीजेपी से ही नहीं, कांग्रेस से भी रहे अच्छे संबंध

इस पर नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने सहमति देते हुए कहा कि नंदकुमार सिंह चौहान बीजेपी के ही नहीं, बल्कि कांग्रेस के नेताओं के भी उनसे संबंध रहे हैं। उन्होंने कहा कि मेरा उनके साथ पारिवारिक रिश्ता रहा है। इसके बाद अध्यक्ष ने 3 मार्च को बैठक स्थगित करने की घोषणा कर दी।

केंद्र की तारीफ पर, विपक्ष ने किया कटाक्ष

इसके बाद जब वित्त मंत्री ने बजट भाषण शुरू किया तो कई विधायक अपने-अपने पत्र लेकर विधानसभा के अधिकारियों के टेबल पर पहुंच गए। इस पर अध्यक्ष ने आपत्ति ली। देवड़ा के पहले आधे धंटे के भाषण के दौरान कोई व्यवधान पैदा नहीं हुआ, लेकिन जैसे ही उन्होंने केंद्र सरकार की योजनाओं की तारीफ की, विपक्ष की तरफ से पूर्व मंत्री बाला बच्चन ने कटाक्ष कर दिया- राज्य सरकार का बजट है।

महेश्वर के लिए क्यों राशि का प्रावधान नहीं
जब वित्त मंत्री आदिवासी क्षेत्रों के लिए घोषणा कर रहे थे, जब पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधौ ने महेश्वर के विकास का मुद़दा उठाते हुए कहा- मंत्री जी महेश्वर के लिए क्यों राशि का प्रावधान नहीं है? हालांकि इसे देवड़ा ने अनसुना किया और उन्होंने भाषण जारी रखा।

खबरें और भी हैं...