• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • The Conspiracy Was Detected After An Incident With The Engine 16 Days Ago Between Bhopal And Habibganj Police Stations; RPF Got Clues From Footage Of 36 Cameras To Nab The Accused

MP में ट्रेन पलटाने की साजिश!:भोपाल-हबीबगंज के बीच पटरियों पर रखा 2.5 मीटर लंबा लोहे का टुकड़ा, पलटने से बचा इंजन; RPF ने 36 CCTV कैमरे देखकर आरोपी को पकड़ा

भोपाल5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी को मौके पर ले जाकर क्राइम सीन रिक्रिएट कराते जवान। इस दौरान आरोपी ने अपने किए की माफी भी मांगी। - Dainik Bhaskar
आरोपी को मौके पर ले जाकर क्राइम सीन रिक्रिएट कराते जवान। इस दौरान आरोपी ने अपने किए की माफी भी मांगी।

भोपाल-हबीबगंज के बीच ट्रेन को पलटने की साजिश के मामले में पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया है। आरोपी ने दो पटरियों के बीच ढाई मीटर लंबा लोहे का टुकड़ा रख दिया था। पुलिस ने शहर के 36 से ज्यादा CCTV फुटेज खंगाले जिसके बाद आरोपी को पकड़ा जा सका। पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे आरोपी ने खुद ही साजिश के बारे में बताया। आरोपी ने नशे में धुत होकर घटना को अंजाम दिया है, हालांकि घटना का अभी तक कोई कारण सामने नहीं आ सका है।

RPF भोपाल के TI निहाल सिंह ने बताया, घटना 19 जून 2021 की रात 11:10 बजे भोपाल और हबीबगंज स्टेशन की है। तीसरी लाइन के बीच में अज्ञात आरोपी ने दो पटरियों के ऊपर ब्लॉक रख दिया था। इससे कपल डीजल इंजन नंबर-16740 + ग्रे का कैटल गार्ड क्षतिग्रस्त हो गया था, हालांकि बड़ा हादसा होने से बच गया था।

आरोपी को पकड़ने के लिए ऐशबाग के आसपास के 36 से अधिक कैमरों के CCTV फुटेज निकाले गए। करीब 16 दिन की मेहनत के बाद एक संदिग्ध की पहचान हुई। इसी आधार पर पुष्पा नगर भोपाल में रहने वाले भोला उर्फ कार्तिक (20) को हिरासत में लिया। पूछताछ में उसने बताया, रात को शराब पीकर वह ट्रैक पर पहुंचा और तीसरी लाइन पर ब्लॉक रख दिया।

एक गाड़ी को आते देखा तो वहां से भाग गया, हालांकि आरोपी यह नहीं बता पाया कि उसने ऐसा क्यों किया। पूछताछ के बाद RPF ने आरोपी को ऐशबाग पुलिस को सौंप दिया। थाने में जिस धारा में आरोपी पर केस किया गया है, उसके तहत उसे 10 साल की सजा हो सकती है।

कान पकड़कर बोला- मुझसे गलती हो गई

आरोपी भोला ने ट्रैक पर पहुंचकर घटना को करने के बारे में बताया। उसने कहा, वह नशे में धुत होकर आया था। उसने लाइन रखकर वहां से भाग गया। गाड़ी पर उसने पत्थर भी मारे थे। वहां से वह प्रभात पेट्रोल पंप तक आया। फिर ऑटो से घर चला गया। कान पकड़कर बोला कि मुझसे गलती हो गई।

हो सकता है बड़ा हादसा

TI सिंह ने बताया, घटना के वक्त काफी ट्रेन उस ट्रैक से निकलती हैं। गनीमत रही कि उस दौरान ट्रैक पर सिर्फ इंजन था। उसकी गति भी ज्यादा नहीं थी। ऐसे में बड़ा हादसा नहीं हुआ। अगर कोई यात्री या मालगाड़ी होती, तो बड़ा हादसा हो सकता था।

खबरें और भी हैं...