पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • The Government Will Present Two Supplementary Budgets Of 29,979 Crores In The Vidhan Sabha Today, 27 Days Before The End Of The Financial Year, Will Be Passed After Voting.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लक्ष्मण को सिलावट पर विश्वास नहीं:मंत्री तुलसी सिलावट ने तालाब निर्माण का भरोसा दिया तो विधायक लक्ष्मण सिंह बोले- कैसे विश्वास करें, आप तो विश्वासघाती हैं

भोपाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बजट सत्र के दौरान गुरुवार 4 मार्च को वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा विधानसभा में 29,979 करोड़ के दो सप्लीमेंट्री बजट पेश करेंगे। - Dainik Bhaskar
बजट सत्र के दौरान गुरुवार 4 मार्च को वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा विधानसभा में 29,979 करोड़ के दो सप्लीमेंट्री बजट पेश करेंगे।
  • मप्र विधानसभा का बजट सत्र, पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर द्वारा वन विभाग से JCB छुड़ाने का मामला भी उठा

सरकार का दावा है कि मध्यप्रदेश में माफियाओं के खिलाफ तेजी से अभियान चलाया जा रहा है लेकिन कांग्रेस ने बजट सत्र के दौरान गुरुवार को सदन में आरोप लगाया कि रेत माफियाओं को सरकार का संरक्षण है। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर द्वारा वन विभाग से JCB मशीन छुड़वाने का मामला भी कांग्रेस ने सदन में उठाया, हालांकि इसका जवाब खनिज मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह नहीं दे सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस विधायक आरिफ अकील ने जो सवाल पूछा था उसमें इंदौर का जिक्र नहीं था बल्कि चंबल ग्वालियर को लेकर सवाल किए गए थे। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह और मंत्री तुलसी सिलावट के बीच विश्वासघात को लेकर तकरार हुई। दरअसल लक्ष्मण सिंह ने चाचौड़ा विधानसभा क्षेत्र में आदिवासी इलाके फतेहपुर तालाब के कार्य बंद होने का मामला सदन में उठाया था। इसके जवाब में जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने उन्हें आश्वासन दिया कि केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय से अनुमति मिलते ही निर्माण कार्य शुरू कराया जाएगा। इस पर लक्ष्मण सिंह ने कहा कि आपकी बात पर विश्वास नहीं है क्योंकि आप पहले ही विश्वासघात ( कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में गए) कर चुके हैं।

भोपाल से विधायक आरिफ अकील ने सवाल पूछा था कि क्या ग्वालियर चंबल संभाग और मध्य प्रदेश के अन्य संभागों में प्रशासन की मिलीभगत से रेत माफियाओं द्वारा अवैध रेत उत्खनन किया जा रहा है? इसके जवाब में खनिज मंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में अवैध खनन नहीं हो रहा है। सभी संभागों में टेंडर के माध्यम से खदानों का संचालन किया जा रहा है। सदन में रेत माफियाओं को लेकर आरोप-प्रत्यारोप के बीच कांग्रेस ने सदन से वाकआउट कर दिया।

29,979 करोड़ के 2 सप्लीमेंट्री बजट

मौजूदा वित्तीय वर्ष 2020-21 के समाप्त होने के ठीक 27 दिन पहले सरकार 29,979 करोड़ के 2 सप्लीमेंट्री बजट (अनुपूरक अनुमान) विधानसभा में पेश करेगी। बजट सत्र के दौरान गुरुवार 4 मार्च को वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा दोनों सप्लीमेंट्री बजट का उपस्थापन करेंगे। इसे पारित करने से पहले सदन में वोटिंग होगी।

जानकारी के मुताबिक कोरोना संक्रमण के चलते सरकार वित्तीय वर्ष 2021-22 का पहला सप्लीमेंट्री बजट (16,771 करोड़ रुपए) विधानसभा में पारित नहीं करा पाई थी। ऐसी परिस्थितियों में राज्यपाल ने सरकार को खर्चे चलाने के लिए अध्यादेश के माध्यम से मंजूरी दी थी। अब वित्त मंत्री देवड़ा प्रथम सप्लीमेंट्री के साथ ही दूसरा सप्लीमेंट्री बजट भी पटल पर रखेंगे। जिसमें अनुमानित राशि 13,208 करोड़ रुपए है। जिसे पिछली कैबिनेट बैठक में मंजूरी दी गई थी।

विधानसभा में गुरुवार को कांग्रेस के विधायक जबलपुर में नर्मदा नदी में प्रदूषित पानी मिलने का मुद्दा उठाएंगे। जबलपुर से विधायक लखन घनघोरिया और संजय यादव और डिंडौरी से विधायक ओमकार सिंह मरकाम ने इसको लेकर ध्यानाकर्षण प्रस्ताव दिया था। जिसे अध्यक्ष गिरीश गौतम ने स्वीकार कर लिया है। इस पर आज नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह सदन में जवाब देंगे। इसी तरह जबलपुर से बीजेपी विधायक अशोक रोहाणी केंट क्षेत्र में हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना की दूसरी किश्त की राशि न मिलने का मामला उठाएंगे।

वर्ष 2021-22 के बजट पर आज से चर्चा शुरू
वित्त मंत्री जगदीश देवड़ा ने वर्ष 2021-22 के बजट 2 मार्च को विधानसभा में पेश कर दिया था। जिस पर आज से चर्चा शुरू होगी। सत्ता पक्ष और विपक्ष के विधायक बजट पर अपनी बात रखेंगे। संभावना है कि गुरुवार को करीब 15 विधायक बजट पर अपनी बात रखेंगे।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

और पढ़ें