पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • There Will Be No Political And Public Events; Section 144 Will Be Applicable In The Entire State, There Will Be Ban On Picketing, Demonstrations And Rally

1 जून से MP अनलॉक ...शर्तें लागू:आर्थिक गतिविधियां शुरू होंगी, प्रदेश में धारा-144 लागू रहेगी; शादी समारोह में 20 लोगों को ही अनुमति, वहीं होगा कोरोना टेस्ट

मध्य प्रदेश25 दिन पहले
  • सार्वजनिक-राजनीतिक कार्यक्रम, धरना-प्रदर्शन, रैलियों और धार्मिक आयोजनों पर रोक जारी रहेगी

मध्य प्रदेश में पाबंदियों के साथ 1 जून से अनलॉक की धीरे-धीरे शुरुआत होगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को इसका ऐलान किया। CM ने बताया कि अनलॉक के दौरान आर्थिक गतिविधियां शुरू होंगी। राजनीतिक और सार्वजनिक आयोजनों विशेषकर धरना-प्रदर्शन, रैलियों और धार्मिक आयोजन पर प्रतिबंध रहेगा।

मुख्यमंत्री ने बताया कि वैवाहिक कार्यक्रमों की अनुमति होगी, लेकिन वर-वधु दोनों पक्षों से सिर्फ 10-10 लोग ही शामिल हो पाएंगे। शादी समारोह में आने वाले लोगों के लिए कोरोना निगेटिव टेस्ट अनिवार्य होगा। कार्यक्रम में सरकार टेस्टिंग के लिए व्यवस्था करेगी। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में भीड़ से बचने के लिए धारा 144 पहले की तरह ही लागू रहेगी।

गांव, ब्लॉक और जिलों को लेकर 30-31 मई को होगी बैठक
मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि जिला, ब्लॉक व गांव स्तर पर बनी क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुपों की बैठक 30-31 मई तक कर निर्णय लें कि 1 जून से क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा? उन्होंने कलेक्टरों से कहा है कि इन समूहों की बैठकें समय पर हो जाएं, यह सुनिश्चित कर लिया जाए। इसके लिए रोडमैप तैयार किया गया है।

जिले की परिस्थितियों के हिसाब से निर्णय होंगे
मुख्यमंत्री ने कहा कि हर जिले की अलग-अलग परिस्थितियां हैं। कहीं कोरोना पूरी तरह से नियंत्रित हो गया है, तो कहीं केस हर दिन कम-ज्यादा हो रहे हैं। भोपाल-इंदौर जैसे बड़े जिलों में अभी ज्यादा केस आ रहे हैं। ऐसे में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप को इन सभी पहलुओं पर विचार कर निर्णय लेना चाहिए।

एक केस भी मिला तो माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाएंगे
हर राेज 75 हजार का टेस्ट का टारगेट रहेगा। संक्रमण की दर कम हो गई है, ऐसे में ट्रेसिंग संभव है। किसी एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आएगी, तो परिवार का टेस्ट किया जाएगा। एक केस मिलने पर माइक्रो कंटेनमेंट जाेन बनाकर प्रतिबंध भी लगाए जाएंगे।

धर्मगुरुओं से अपील- अनुयायियों को नियंत्रित करें
मुख्यमंत्री ने सभी धर्मगुरुओं से अपील की है कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए जरूरी है कि वैक्सीनेशन और मास्क की अनिवार्यता। उन्होंने कहा कि धर्मगुरु अपने प्रभाव का उपयोग करते हुए अनुयायियों को नियंत्रित करें। राजनैतिक दल भी कार्यकर्ताओं को कोरोना से निपटने में सहयोग करने के लिए प्रेरित करें।

संक्रमण रोकने के लिए नियम बनेंगे
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कौन सी गतिविधियां चालू रहेंगी? बाजारों में भीड़ रोकने के लिए नियम बनाए जाएंगे, ताकि संक्रमण फिर ना फैले। उन्होंने लोगों से अपील की है कि 1 जून के बाद छूट मिलने पर घर से बाहर निकलने के बाद मास्क लगाएं।

MP में 2,189 नए केस, 72 मौतें:WHO के मानक 3% पर आई संक्रमण दर; जबलपुर-ग्वालियर में करीब दो माह बाद 100 से कम केस, 18 जिलों में 10 से भी कम संक्रमित

खबरें और भी हैं...