पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Tiger Death In Madhya Pradesh | Tiger Death In Panna National Park & Tiger Reserve

मप्र: टाइगर कैपिटल में बाघों की मौत:पन्ना टाइगर रिजर्व में फिर से एक नर बाघ की मौत, मेटिंग को लेकर संघर्ष में गई जान, दो महीने में तीन बाघों की मौत

पन्नाएक महीने पहले
पन्ना टाइगर रिजर्व में दो महीने के अंदर तीन बाघों की मौत हो चुकी है।
  • केन नदी में 8 किमी दूर बहकर पहुंचा शव, सड़ गई लाश

मध्य प्रदेश के पन्ना टाइगर रिजर्व में फिर से एक नर बाघ की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि बाघ की मौत मेटिंग के दौरान हुए संघर्ष में हुई है। सोमवार को हिनौता रेंज के गगऊ बीट के सकरा में सड़ी हुई लाश मिली। पन्ना टाइगर रिजर्व में दो महीने में तीन बाघों की मौत हो चुकी है। इससे टाइगर रिजर्व प्रबंधन सकते में है।

पन्ना के फील्ड डायरेक्टर केएस भदौरिया ने बताया कि 7 अगस्त को मेटिंग के दौरान नर बाघों के बीच संघर्ष हुआ, इसमें युवा बाघ पी-123 घायल हो गया। इसके बाद उसकी मौत हो गई। पर सवाल ये है कि प्रबंधन को टाइगर के घायल होने की जानकारी थी तो वह नदी में कैसे बह गया और उसका शव 3 दिन बाद पानी में 8 किमी बहकर पाठा क्षेत्र में मिला है।

कैंप सर्चिंग के दौरान वन कर्मियों को बाघ पी-123 का शव केन नदी में तैरता मिला। लाश को मगरमच्छ और जानवरों ने खा भी लिया है। बताया जा रहा है कि इसकी मेल टाइगर है। P-431 से मेटिंग को लेकर संघर्ष हुआ था।

2009 में पन्ना टाइगर रिजर्व बाघ विहीन हो गया था, इसके बाद बाहर से लाकर यहां पर बाघों को बसाया गया। यहां पर संख्या 50 से ज्यादा हो गई थी, लेकिन बीते कुछ दिनों से लगातार बाघों की मौत हो गई है, जिसने वन प्रबंधन को चिंता में डाल दिया है। 7 माह के अंदर यह 5वीं टाइगर की मौत है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें