• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Tremendous Enthusiasm Among The Youth, Standing In Line At The Center Since 8 Am, Waiting For Vaccination In Waiting For The Minister In Bhaepal.

MP में 18+ में वैक्सीनेशन का उत्साह:100 लोगों को लगना था टीका, भाेपाल-इंदौर समेत कई जिलों में बिना SMS मिले भी सेंटर पर पहुंच गए लोग, मायूस लौटे

मध्यप्रदेश6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मध्यप्रदेश में बुधवार सुबह से 18 साल से लेकर 44 साल की आयु वालों का वैक्सीनेशन शुरू हो गया। सुबह 7:30 बजे से ही सेंटर पर युवा टीकाकरण के लिए लाइन में लग गए। डॉक्टर और नर्स 9 बजे के बाद पहुंचे। भोपाल में चिकित्सा शिक्षा मंत्री के इंतजार में टीकाकरण समय पर शुरू नहीं हो सका। इंदौर में भी 10:15 बजे के बाद वैक्सीनेशन शुरू हुआ, जबकि सुबह से ही वहां पर भीड़ जमा थी। भोपाल, इंदौर, गुना, मुरैना, उज्जैन समेत कई जिलों में सेंटर पर ऐसे लोग भी पहुंच गए, जिन्हें एसमएस नहीं मिला था। चूंकि पहले दिन सिर्फ 100 लोगों को ही टीका लगना था। ऐसे में उन्हें मायूस ही लौटना पड़ा।

भोपाल: लंबी लाइन, मंत्री नहीं पहुंचे इसलिए करना पड़ा इंतजार

भोपाल के नबी शासकीय विद्यालय में आज से 18+ का टीकाकरण शुरू किया गया है। इसे पहली बार वैक्सीन सेंटर बनाया गया। लोग यहां सुबह 7:30 बजे से लाइन में लगे हुए हैं, लेकिन 3 घंटे बाद भी किसी को टीका नहीं लगाया गया है। युवा आक्रोशित हो गए। इधर अधिकारियों का कहना था कि उनका सिस्टम अलाउड नहीं कर रहा है, इसलिए वैक्सीनेशन नहीं शुरू हो सका है। हालांकि इसके पीछे की कहानी यह है कि चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग को सुबह 10:00 बजे यहां पहुंचना था, लेकिन वह नहीं आए। काफी देर इंतजार के बाद यहां टीकाकरण शुरू हो सका। साढ़े 11 बजे तक 17 लोगों को टीका लगा। सबसे पहले टीका मोनिका गुप्ता को लगा।

भोपाल में वैक्सीन के इंतजार में युवा। इस दौरान एक युवती थक कर वहीं स्टूल पर बैठ गई।
भोपाल में वैक्सीन के इंतजार में युवा। इस दौरान एक युवती थक कर वहीं स्टूल पर बैठ गई।

भोपाल में 18+ वैक्सीनेशन का उत्साह:सुबह 7.30 बजे ही पहुंचे; पहला टीका लगवाने वाली मोनिका बोली- काफी इंतजार के बाद मिला मौका, सिर्फ 100 की सीमा ने लोगों को निराश किया

इंदौर: एक घंटा देरी से लगा टीका

इंदौर में टीकाकरण शुरू हो गया है। पहले दिन सिर्फ सौ लोगों को ही वैक्सीन लगाया जा रहा है। पहले दिन के टीकाकरण के लिए सिर्फ एक ही केंद्र नगर निगम मुख्यालय काे बनाया गया है। वैक्सीनेशन के लिए जिन 100 लाेगाें ने रजिस्ट्रेशन करवाया था। वे ताे सुबह 8 बजे से ही पहुंचा शुरू हाे गए, लेकिन सुबह 9 बजे से हाेने वाला वैक्सीनेशन सुबह 10 बजे तक भी शुरू नहीं हाे पाया। व्यवस्था इतनी लचर रही कि सबसे पहला टीका अंकित श्रीवास्तव काे सुबह 10.18 बजे लग पाया।

18+ के टीके का शुभारंभ:इंदौर में पहला टीका अंकित श्रीवास्तव को, युवा तो सुबह 8 बजे ही सेंटर पर पहुंच गए, पर व्यवस्था ऐसी लचर कि 10.18 बजे लग पाया पहला टीका

ग्वालियर: वैक्सीन लगने लगी
ग्वालियर में 18 प्लस उम्र वाले युवाओं को बुधवार से वैक्सीन लगना शुरू हो गई है। जिले का पहला वैक्सीन थाटीपुर मयूर मार्केट निवासी 30 साल की रितु अग्रवाल को लगी है। दूसरे स्थान पर अनुभव अग्रवाल को वैक्सीन लगी है। 30 अप्रैल को इन्होंने रजिस्ट्रेशन कराया था। एक दिन पहले स्लॉट बुक किया था। वैक्सीन सेंटर पर सुबह 8 बजे ही पहुंच गए थे। सुबह 9.30 बजे उनको वैक्सीन लगी है। रितु का कहना है कि वैक्सीन सभी को लगवाना चाहिए। क्योंकि इस समय जो माहौल है उसका तोड़ यही है।

वाट्सऐप से जान सकेंगे नजदीकी वैक्सीनेशन सेंटर:वाट्सऐप नंबर-9013151515 पर HI लिखते ही मिलेगी जानकारी; पिन कोड से पता लगेगा अपने पास का टीकाकरण केंद्र, सरकार ने दी सुविधा

जबलपुर: मानस भवन में शुरू हुआ टीकाकरण
यहां आखिरी चरण में वैक्सीनेशन सेंटर भी बदलना पड़ा। हितकारिणी कॉलेज की बजाय अब मानस भवन में सीएम के वीडियो कांफ्रेंसिंग करेंगे। यहां वैक्सीनेशन के लिए सिर्फ 100 लोगों को मैसेज भेजे गए हैं। टीका लगवाने वाले पांच युवाओं से सीएम शिवराज सिंह चौहान संवाद भी करेंगे। जिले में वैक्सीन की कमी के चलते बुधवार को प्रतीकात्मक तौर पर वैक्सीन लगाया जाएगा।

18+ टीके का शुभारंभ:पहला टीका शुभम व शिवांगी को लगा, सीएम ने पूछा कैसा लग रहा, किसी ने पैसे तो नहीं मांगे, क्या संदेश देना चाहेंगे आप

15 मई तक होना है टीकाकरण

5 मई से लेकर 15 मई तक टीकाकरण होगा। इस संबंध में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन मध्य प्रदेश ने स्पष्ट गाइडलाइन और निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके साथ ही अब मध्यप्रदेश में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत सभी सरकारी संस्थाओं में सिर्फ 4 दिन ही टीकाकरण किया जाएगा। यह सत्र सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शनिवार को ही किए जाएंगे। नियमित टीकाकरण सत्र मंगलवार एवं शुक्रवार को केवल शासकीय मेडिकल कॉलेज एवं जिला चिकित्सालय में ही आयोजित होंगे।

युवाओं ने लगवाया राहत का टीका:वैक्सीन को लेकर कापी उत्साह सुबह 7 बजे से ही सेंटर पहुंचे युवा, ग्वालियर का पहला टीका 30 साल की रितु को लगा

18+ के लिए दिशा निर्देश

  • 1 मई 2003 के पूर्व जन्मे सभी नागरिक कोविड-19 टीकाकरण के लिए पात्र होंगे।
  • पात्र हितग्राहियों को कोविड-19 टीकाकरण कराने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य है।
  • कोविन पोर्टल या आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप के माध्यम से अपना पंजीकरण करा सकते हैं।
  • 18 से लेकर 44 वर्ष आयु वर्ग के नागरिकों का टीकाकरण सत्र पर ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन नहीं किया जाएगा।
  • वैक्सीनेशन सत्र 5 मई से लेकर 15 मई तक 18 से लेकर 44 वर्ष की आयु वर्ग के नागरिकों का टीकाकरण होगा।
  • आयोजित होने वाले कोविड-19 टीकाकरण सत्रों में अदर देन गवर्नमेंट ऑफ इंडिया चैनल से प्राप्त को वैक्सीन का ही उपयोग किया जाएगा।
  • कोविड-19 टीकाकरण सत्र नॉन कोविड ट्रीटमेंट सेंटर शासकीय स्कूल, कॉलेज, ऑफिस, कम्युनिटी हॉल इत्यादि पर ही आयोजित किए जाएं।
  • 18 से लेकर 44 वर्ष के आयु वर्ग के नागरिकों के लिए प्राप्त वैक्सीन का भंडार, खर्च का हिसाब अलग से रखा जाए।
  • केंद्रों पर एईएसआई प्रबंधन के निर्देशों का पालन किया जाना आवश्यक है।
  • प्रदेश के सभी कोविड-19 टीकाकरण केंद्रों पर कोविड-19 टीकाकरण निशुल्क किया जाएगा।
  • सत्र संचालन के लिए कोविड-19 बचाओ गाइडलाइन का पालन करना अनिवार्य है।
  • टीकाकरण के लिए आने वाले सभी नागरिकों की पल्स ऑक्सीमीटर एवं इंफ्रारेड थर्मामीटर से स्क्रीनिंग की जाएगी।

रविवार को नहीं होगा टीकाकरण

मध्यप्रदेश में अब कोविड-19 टीकाकरण अभियान के तहत सभी सरकारी संस्थाओं में सिर्फ 4 दिन ही टीकाकरण किया जाएगा। सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शनिवार को ही टीके लगाए जाएंगे। नियमित टीकाकरण मंगलवार एवं शुक्रवार को कोविड-19 टीकाकरण सत्र केवल शासकीय मेडिकल कॉलेज एवं जिला चिकित्सालय में ही आयोजित होंगे।

खबरें और भी हैं...