• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Vaccination Campaign On The Birthday Of PM Modi In The State; 17.60 Lakh People Got The Vaccine In The First Campaign And 43 Lakh People In The Second Two Days

PM के जन्मदिन पर वैक्सीनेशन का महाअभियान:MP में आज 32.40 लाख को वैक्सीन लगाने का टॉरगेट, शाम 6 बजे तक 20 लाख को लगे डोज; जारी है वैक्सीनेशन

भोपाल9 महीने पहले

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिवस 17 सितंबर को खास बनाने प्रदेश में वैक्सीनेशन का महाभियान चलाकर रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है। शुक्रवार को प्रदेश में 10 हजार सेंटर पर 32.40 लाख टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। पहले वैक्सीनेशन अभियान में 17 लाख 60 हजार लोगों को टीका लगाया गया था। वहीं, दूसरे वैक्सीनेशन महाभियान में दो दिन में 43 लाख लोगों को टीका लगा था। अब प्रदेश में एक दिन में 32.40 ख को टीका लगाने का लक्ष्य तय किया गया है। शुक्रवार शाम 6 बजे तक 20 लाख वैक्सीन के डोज लगाए जा चुके थे। भोपाल में भी लोग वैक्सीन लगवाने पहुंच रहे हैं।

इधर, CM शिवराज सिंह चौहान दोपहर 12.30 बजे भोपाल के सरोजनी नायडू स्कूल शिवाजी नगर पहुंचे। जहां उन्होंने वैक्सीनेशन सेंटर का निरीक्षण किया। इस दौरान वैक्सीन लगवाने पहुंचे एक दिव्यांग युवक को व्हील चेयर पर बैठाकर लेकर गए। उन्होंने वैक्सीन लगवाने पहुंचे कई लोगों से चर्चा की। साथ ही अपील की कि जो लोग वैक्सीन नहीं लगवा पाए हैं, वे तुरंत लगवाए और सुरक्षित रहे। सीएम ने सेंटर का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया। उनके साथ स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी भी थे।

CM शिवराज सिंह चौहान सेंटर के निरीक्षण के दौरान दिव्यांग को व्हील चेयर पर बैठाकर वैक्सीन लगवाने पहुंचे।
CM शिवराज सिंह चौहान सेंटर के निरीक्षण के दौरान दिव्यांग को व्हील चेयर पर बैठाकर वैक्सीन लगवाने पहुंचे।

बता दें कि प्रदेश में 5.49 करोड़ लोग वैक्सीन के पात्र हैं। प्रदेश में पहला डोज 4.29 करोड़ और दूसरा डोज 1.06 करोड़ लोगों को लग चुका है। सरकार ने सितंबर अंत तक सभी पात्र लोगों को वैक्सीन का पहला डोज लगाने का लक्ष्य तय किया है। दिसंबर अंत तक सभी को दोनों डोज लगाने का लक्ष्य तय किया है।

भोपाल में शुक्रवार को 1 लाख 48 हजार लोगों को वैक्सीन के दोनों डोज लगाने का लक्ष्य तय किया गया है। शाम 6 बजे तक 93 हजार से अधिक डोज लगाए जा चुके थे। भोपाल में अभी 1 लाख 10 हजार लोगों को पहला डोज लगना बाकी है। वहीं, दूसरा डोज अभी 2 लाख 42 हजार लोगों का ड्यू है।

भोपाल में लोग वैक्सीन लगवाने सेंटरों पर पहुंच रहे हैं। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी सेंटरों का निरीक्षण किया।
भोपाल में लोग वैक्सीन लगवाने सेंटरों पर पहुंच रहे हैं। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी सेंटरों का निरीक्षण किया।

यह किए जा रहे प्रयास
वैक्सीनेशन अभियान को सफल बनाने के लिए पूर्व की तरह लोगों को पीले चावल देकर वैक्सीन के लिए बुलाया जा रहा है। नगर निगम और SDM अपने-अपने क्षेत्र में अनाउंसमेंट कर लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक कर रहे हैं। इसके अलावा आंगनवाड़ी कार्यकर्ता को भी लोगों को वैक्सीन लगवाने बुलाने की जिम्मेदारी दी गई है।

यह चुनौती भी
प्रदेश में लगातार हो रही बारिश वैक्सीनेशन महाभियान के लिए चुनौती होगी। ऐसे में लोगों को घर से वैक्सीन लगवाने के लिए निकालने के लिए अधिक प्रयास करने होंगे। अधिकारियों का कहना है कि बारिश लगातार नहीं हो रही है। एक-दो घंटे से अभियान पर कोई ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ेगा।

यह भी है रणनीति

  • प्रदेश में आजीविका मिशन से 37 लाख महिलाएं जुड़ी हुई हैं। इनमें से 70% को वैक्सीन लग चुकी है। इन महिलाओं को खुद टीका लगाने के साथ ही अपने साथ पांच लोगों को वैक्सीन लगाने सेटर पर लाने की जिम्मेदारी दी गई है।
  • हायर एजुकेशन के छात्रों को कॉलेज के प्राचार्य के माध्यम से टीकाकरण का राजदूत बनाया गया है। युवाओं को खुद को टीका लगाने और दूसरा को भी टीका लगाने और दूसरों को प्रेरित करने के लिए कहा गया है।
  • 11 लाख गर्भवती महिलाओं में से 1.23 लाख को 15 कार्यदिवस में वैक्सीन लग गई है। अब बाकी की नामवली सूची से आशा कार्यकर्ता को वैक्सीन लगवाने लाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। मध्यप्रदेश गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगवाने में तमिलनाडू के बाद देश में दूसरे नंबर पर है।
खबरें और भी हैं...