• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Panna
  • Now The Contractor's Arbitrariness Started In The Canal Belt Land, Earlier There Was A Dispute Between The Administration And The Former District President Of Congress

नहर पट्टी जमीन पर नहीं थमा विवाद:नहर पट्टी जमीन में अब ठेकेदार की मनमानी शुरू, पहले प्रशासन और कांग्रेस की पूर्व जिलाध्यक्ष के बीच चल रहा था विवाद

पन्ना4 महीने पहले

नगर की बेशकीमती नहर पट्टी की जमीन का विवादों से नाता बरकरार है। पहले प्रशासन और कांग्रेस की पूर्व जिलाध्यक्ष के बीच आए दिन विवाद जमीन को लेकर सामने आते रहते थे। अभी यह विवाद थमा नही है और नहर पट्टी की जमीन पर पाथवे का निर्माण कर रही एजेंसी ने अपनी मनमानी शुरू कर दी है। निर्माण एजेंसी के ठेकेदार ने नहर पट्टी की बेशकीमती जमीन पर पाथवे के निर्माण कार्य मे अब मुरुम किलकिला नदी की खोदी जा रही है।जबकि किलकिला नगर की सबसे प्राचीन नदी है।प्राचीन नदी में अवैध उत्खनन से निर्माण एजेंसी सवालों के घेरे में है।

8 एकड़ जमीन पर था कांग्रेस की पूर्व जिलाध्यक्ष व उनके पति का कब्जा

जानकारी के अनुसार पन्ना नगर की सिविल लाइन कॉलोनी के समीप करीब 8 एकड़ शासकीय भूमि पर वर्षों से कांग्रेस की पूर्व जिलाध्यक्ष दिव्यारानी सिंह व उनके पति का कब्जा था। लेकिन अक्टूबर नवंबर में नहर पट्टी की जमीन का मामला जनता के सामने आया और प्रशासन जमीन से अतिक्रमण हटवाने के लिए पूरे दलबल के साथ पहुँचा। उसके बाद मामला और विवादों में आ गया।

कांग्रेस पूर्व जिलाध्यक्ष ने मामला ले गईं हाईकोर्ट

दिव्यारानी सिंह ने अपना पक्ष हाईकोर्ट में रखा लेकिन उन्हें वहां से फटकार लग गई और 2 हजार का जुर्माना भी लगा दिया। जिसके बाद नहर पट्टी की जमीन में नगरपालिका पन्ना ने पाथवे स्वीकृत कर टेंडर डाल दिया और टेंडर सतना के एक ठेकेदार ने लिया है लेकिन अब ठेकेदार मनमानी तरीक़े से काम शुरू कर दिया है। नहर पट्टी की जमीन के पाथवे के निर्माण कार्य मे मुरुम नगर की प्राचीन नदी किलकिला से खोदकर डाली जा रही है। लेकिन खनिज विभाग किसी भी तरह की कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है ।

खबरें और भी हैं...