नवागत ट्रैफिक प्रभारी बोले:शाम को हटवाते हैं सब्जियों के ठेले, सुबह फिर कर लेते हैं खड़े

रायसेन16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ट्रैफिक प्रभारी आकर ट्रैफिक थाने के पास से हटवातें हैं हाथ ठेले। - Dainik Bhaskar
ट्रैफिक प्रभारी आकर ट्रैफिक थाने के पास से हटवातें हैं हाथ ठेले।

शहर की ट्रैफिक व्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ी हुई है। इसके सुधारने के लिए पहले तो प्रयास ही नहीं किए गए अब नवागत ट्रैफिक प्रभारी दिनेश मस्कुले सुबह और शाम अपने वाहन से एनाउंसमेंट कर ट्रैफिक थाने के आसपास ही रोकटोक करते देखे जा रहे हैं।

इससे कुछ देर के लिए ट्रैफिक थाने के आसपास से सब्जी विक्रेता अपने हाथ ठेले हटाकर साहब का सामान रख देते हैं, इसके बाद वापस उन्हें जगहों पर फिर से हाथ ठेले खड़े कर लिए जाते हैं। यही क्रम बीते 3 दिनों से चल रहा है।

जब इस संबंध में नवागत ट्रैफिक प्रभारी से शहर के ट्रैफिक को सुधारने को लेकर सवाल पूछा गया तो उनका कहना था, कि बताया गया है कि हाथ ठेले वालों के लिए महामाया चौक पर जगह तय की गई है । इसको लेकर हम माया चौक के बार खड़े होने वाले सब्जी विक्रेता को एनाउंसमेंट कर हिदायत देकर उन्हें तय जगह पर हाथ ठेले खड़े करने के लिए कह रहे हैं। इससे मुख्य मार्ग का ट्रैफिक व्यवस्थित रहे।

मजबूर... ट्रैफिक थाने के आसपास ही रोकटोक करते दिख रहे हैं

1.सागर-भोपाल तिराहा शहर के सरगर-भोपाल तिराहे पर अघोषित बस स्टैंड संचालित हो रहा है । यहां दिन भर सड़क के दोनों और बसों को खड़ा किया जाता है। सवारियों को उतरना और बैठना भी यहां से होता है । इसके चलते बड़ी संख्या में सवारी ऑटो भी यहां मौजूद रहते हैं । इस तरह से दिन में कई बार ऐसी स्थिति बनती है कि सड़क पर ट्रैफिक के लिए जगह ही नहीं बचती और ट्रैफिक जाम लग जाता है । ऐसा दिन में कई बार होता है । यहां से करीब 7 से 8 हजार वाहन प्रतिदिन निकलते हैं।

2.सराफा बाजार और संयम सागर मार्ग की भी यही स्थिति बीते सालों में संयम सागर मार्ग और सराफा बाजार वाली सड़क से नगरपालिका और प्रशासन की संयुक्त टीम ने अतिक्रमण के साथ ही सब्जी और फलों के हाथ ठेले हटवाकर सड़कें ट्रैफिक के लिए मुक्त करवा दी थी। इससे कुछ दिन वहां शहरवासियों के लिए आवाजाही सुगम हो गई थी । लेकिन बाद में फिर अनदेखी के चलते पहले की तरह ही सब्जी बाजार यहां लगने लगा। इससे पहले की तरह ही ट्रैफिक जाम होने लगा।

3. चूड़ी बाजार शहर के प्रमुख बाजारों में शुमार चूड़ी बाजार से भी प्रशासन ने अतिक्रमण हटाकर सड़क काे आवाजाही के लिए सुगम बना दिया था, वहां चार पहिया वाहन भी आसानी से निकलने लगा था,लेकिन यहां भी अतिक्रमण कर लिया गया है। चूड़ी बाजार की शुरुआत में ही दोनों तरफ बड़े-बड़े अतिक्रमण किए गए हैं। उसके बाद बड़े-बड़े दुकानदारों ने 10-10 फीट के टीनशेड लगाकर ओटले निकालकर कब्जा कर लिया है। 4.महामाया चौक शहर में ट्रैफिक थाने के पास ही इंडियान चौराहे से लेकर गंज-बाजार से सागर तिराहे तक सबसे अधिक ट्रैफिक जाम लगता है। यहां मुख्य मार्ग पर बेतरतीब वाहन पार्किंग कर दी जाती है। इसके अलावा दुकानों पर खरीददारी करने आने वाले लोग सड़क के दोनों और वाहन करके छोड़ देते हैं।और सड़क पार्किंग से घिर जाती है।

खबरें और भी हैं...