4 साल पहले बनाई थी खदान:खदान में नहाने गए दो बालक डूबे, एक की मौत

राजगढ़15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान सीमा से लगे सेमली गांव में चार साल पहले बनाई गई खदान में पांच दोस्त नहाने गए थे, खदान में नहाते समय दो बालक डूब गए है। जिसमें से देर शाम एक का शव मिला, वहीं दूसरे की तलाश जारी है। बता दें कि राजस्थान में सड़क बनाने सेमली गांव के पास चार साल पहले खदान बनाईं गई थीं। जहां रविवार दोपहर को गांव के चार-पांच बच्चे नहाने गए, इसी दौरान दो बालक नहाते समय खदान में डूब गए। इन बच्चों को डूबता देख साथ में नहा रहे बच्चे डर के मारे मौके से भाग निकले, आसपास खेतों में काम कर रहे लोगों ने बच्चों को भागते हुए देखा तो उन्होंने उसका कारण पूछा।

भागते समय यह बच्चे दूर से चिल्लाकर यह कहते हुए मौके से भागे के उनके दो साथी खदान में डूब गए। इसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना देकर बालकों की तलाश शुरू की, लेकिन वह नहीं मिले। इसके बाद राजगढ़ से होमगार्ड की टीम नाव लेकर गांव से खदान पर पहुंची। जहां छह लोगों की टीम ने करीब तीन घंटे से अधिक समय तक 40 फीट गहरी खदान की सर्चिंग की, जहां सर्चिंग के दौरान शाम साढ़े 6 बजे 10 वर्षीय बीरम पुत्र दरियावसिंह का शव खदान के अंदर से निकाला। वहीं दूसरे बालक की तलाश देर शाम तक जारी रही।

पर यह स्पष्ट नहीं है कि आखिर एक और डूबा बालक कौन है, लेकिन बताया जा रहा है कि अजय नाम का 11 वर्षीय बालक भी इन्ही के साथ नहा रहा था, जो बीरम के साथ डूबा, वहीं ग्रामीणों ने भी बच्चे के घर पर नहीं पहुंचने से डूबने की शंका बनी हुई है।

"सूचना मिलने पर हम मौके पर पहुंचे, टीम ने विभिन्न तरीके से सर्चिंग की, देर शाम एक बालक को निकाला गया, लेकिन बचाया नहीं जा सका। दूसरे की भी तलाश जारी है, लेकिन रात का अंधेरा रेस्क्यू में परेशानी बना हुआ है।" –रंजित भिलाला, प्लाटून कमांडर होमगॉर्ड।

खबरें और भी हैं...