असम में शहीद हुए बालोड़ी निवासी हुकूमसिंह भिलाला:कल भोपाल पहुंचेगा पार्थिव शरीर, 7 महीने बाद होना था रिटायर्ड

सारंगपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सारंगपुर । देश के असम राज्य में बीएसएफ में पदस्थ सारंगपुर के बालोड़ी गांव के जवान हुकूमसिंह भिलाला की पहाड़ी से पैर फिसलने से मौत हो गयी। उनके निधन की सूचना मिलते ही बालोड़ी में परिवार सहित उनकी ससुराल नलखेड़ा में मातम पसर गया। कल सुबह उनकी पार्थिव देह भोपाल पहुंचेगी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बालोड़ी के निवासी भिलाला असम में पदस्थ थे। 15 दिन पहले ही परिवार से मिलकर ड्यूटी पर गए थे। गुरूवार को असम के कुकड़ी में नक्सली क्षेत्र में सुरक्षा ड्यूटी करते समय रात के अंधेरे में पहाड़ी से पैर फिसल गया जिससे उनकी मृत्यु हो गई। उनके निधन की सूचना मिलते ही परिवार सहित समूचे सारंगपुर शहर में शोक की लहर फैल गयी। हुकुम सिंह को बीएसएफ में 19 वर्ष हो गए थे एवं 7 महीने बाद ही उनका रिटायरमेंट था।

आगर जिले के नलखेड़ा में उनकी ससुराल थी। परिजनों के अनुसार उनके दो बेटे है । परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार कल उनका पार्थिव शरीर भोपाल पहुंचेगा । जहां से शाम तक सारंगपुर के समीप उनके पैतृक गांव बालोड़ी पहुंचने की उम्मीद है। जहां राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार होगा।

खबरें और भी हैं...