पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खामियां:3 साल पहले एक डॉक्टर ने इस्तीफा दिया, दूसरी छुट्‌टी पर गईं, रिकाॅर्ड में उनके नाम अब भी दर्ज

जावराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहली बार जावरा आए कलेक्टर डाड, अस्पताल, उपजेल सहित तहसील कार्यों की समीक्षा की

सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की कमी है। रिकाॅर्ड में सेकंड क्लास डॉक्टर के 9 पद हैं। इनमें से अभी 7 भरे हैं और दो पदों पर डॉक्टरों के नाम दर्ज हैं लेकिन वे ड्यूटी पर नहीं आ रहे हैं। एक डॉक्टर ने 3 साल पहले इस्तीफा दे दिया और दूसरी डाॅक्टर जो मातृत्व अवकाश की छुट्‌टी लेकर गई थीं, वापस नहीं लौटीं। अब जल्द ही इन्हें शोकाज नोटिस जारी होंगे। कलेक्टर गोपालचंद डाड ने बीएमओ डॉ. दीपक पालड़िया को दोनों डॉक्टरों को बर्खास्त करने की कार्रवाई के लिए सीएमएचओ को पत्र लिखने के निर्देश दिए।

बुधवार को कलेक्टर डाड विभागीय कार्यों का जायजा लेने के लिए यहां आए। उन्होंने एसडीएम राहुल धोटे के साथ सिविल अस्पताल की व्यवस्थाओं से लेकर आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया। कलेक्टर के आने से पहले ही अस्पताल की व्यवस्था चाक-चौबंद हो गई। अस्पताल के रिकाॅर्ड देखने पर पता चला कि डॉक्टरों कम और पद ज्यादा हैं। इसमें बीएमओ डॉ. पालड़िया ने बताया 2017 में डॉ. महेंद्र अहिरवार स्वेच्छा से इस्तीफा देकर चले गए थे। कुछ समय बाद डॉ. वैजयन्ती अहिरवार भी मातृत्व अवकाश पर गई थीं। इसके बाद वे काम पर नहीं लौटे, इस संबंध में जिला कार्यालय को अवगत करा दिया है। कलेक्टर ने कोरोना मरीजों के लिए तैयार किए आइसोलेशन वार्ड को देखा।

उसकी तुलना अन्य वार्ड खराब स्थिति में दिखने पर कलेक्टर ने उन्हें सुधारने पर जोर दिया। एसडीएम धोटे ने बताया कि विधायक डॉ. राजेंद्र पांडेय की मंशा है कि आइसोलेशन वार्ड की तरह अन्य वार्ड भी बेहतर बनें। उनसे चर्चा कर विधायक निधि से अन्य वार्डों में भी व्यवस्था सुधारी जाएगी। आइसोलेशन वार्ड से बाहर आने के बाद उम्मीद थी कि वे कोरोना मरीजों संबंधी जानकारी लेंगे लेकिन इसके बाद उन्होंने नई ओपीडी का निरीक्षण किया। जहां सर्दी-खांसी वाले मरीजों के लिए बनाई ओपीडी और जांच में लिए जाने वाले सैंपल के तरीकों को लेकर चर्चा की। लैब टेक्नीशियन से पीपीई किट के उपयोग, पहले और अब कितनी उपयोग में आ रही, इस बारे में जानकारी ली। 50 बिस्तर के नए अस्पताल का काम भी देखा। कलेक्टर डाड ने बीएमओ को अस्पताल में राइट टू इंफर्मेशन का बोर्ड लगाने, शासकीय योजनाओं के प्रचार संबंधी फ्लैक्स लगाने और सफाई व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए।

तहसील में प्रकरणों की पेंडेंसी ज्यादा, जताई नाराजगी, फाइल साथ ले गए
कलेक्टर ने तहसील कार्यालय का निरीक्षण कर विभागों के कामों का जायजा लिया। इसमें फाइलें व प्रकरणों की स्थिति देखी। जहां रैवेन्यू केस कम डिस्पोज होने के कारण नाराजगी जताई। प्रकरणों का समय पर शीघ्र निराकरण करने की बात कही। साथ ही कुछ फाइलों को अपने साथ ले गए। इसके बाद उपजेल का दौरा किया। वहां रिकाॅर्ड से लेकर व्यवस्थाएं देखँ।
कुछ कमियां हैं, उन्हें दूर करेंगे और जीर्ण-शीर्ण भवन को ठीक कराएंगे
कलेक्टर डाड ने कहा विभागों की कमियों काे दूर करने के लिए विभागों का निरीक्षण किया। इसमें कुछ कमियां सामने आई हैं। अस्पताल मेें सफाई व्यवस्था को सुधारने के निर्देश दिए हैं। प्रमोशन पर प्रतिबंध होने के कारण स्टाफ की पूर्ति नहीं हो रही है। जीर्ण-शीर्ण भवन को ठीक करने की प्लानिंग तैयार की है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें