काम को रफ्तार / थाना रोड पर 33 केवीए लाइन शिफ्ट, ब्रिज का काम सप्ताहभर में शुरू होगा

6 घंटे में थाना रोड ब्लॉक कर 33 केवीए लाइन शिफ्ट कर दी। फोटो- अर्जुन दायम। 6 घंटे में थाना रोड ब्लॉक कर 33 केवीए लाइन शिफ्ट कर दी। फोटो- अर्जुन दायम।
X
6 घंटे में थाना रोड ब्लॉक कर 33 केवीए लाइन शिफ्ट कर दी। फोटो- अर्जुन दायम।6 घंटे में थाना रोड ब्लॉक कर 33 केवीए लाइन शिफ्ट कर दी। फोटो- अर्जुन दायम।

  • 34 प्रभावितों का 15.81 करोड़ मुआवजा भी सप्ताहभर में खातों में जमा होगा

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

जावरा. आखिर नगर में बनने वाले ओवरब्रिज की सबसे बड़ी बाधा 33 केवीए बिजली लाइन शुक्रवार को शिफ्ट कर दी गई। अब निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। सेतु निगम की के अनुसार तो सप्ताहभर में काॅन्ट्रैक्टर काम भी शुरू कर देगा। वहीं ब्रिज प्रभावित 34 मकान, दुकान व सरकारी संपत्तियों की मुआवजा राशि 15 करोड़ 81 लाख 2 हजार 492 रुपए भी स्वीकृत हो गई। अवॉर्ड पारित हो चुके तथा गुरुवार को प्रभावितों से बैंक खाते की डिटेल्स व संबंधित दस्तावेज लेकर कलेक्टोरेट भेज दिए हैं, वहां से सप्ताहभर के दरमियान राशि खातों में जमा होने लगेगी।

रेलवे ब्रिज का काम शुरू से कछुआ चाल चल रहा है। समय पर साइड क्लियर नहीं होने से काम रुका है। सवा साल पहले टेंडर हो चुके और दो साल में ये बनकर तैयार होना था लेकिन अभी तो इसका 5 फीसदी काम भी नहीं हुआ। केवल थाना रोड पर एक तरफ की सर्विसलेन बनी और पूर्व दिशा की रिटेन वॉल आधी-अधूरी बन रही थी कि बिजली लाइन आड़े आने से ठेकेदार के लोग काम रोककर चले गए। इस बात को भी 6 महीने से ज्यादा हो गए। जो लाइन सप्ताहभर में शिफ्ट हो जाना थी, उसमें विभागीय लेतलाली से 6 महीने पूरे हो गए। मुआवजा भी अब तक नहीं बंटा। दैनिक भास्कर ने लगातार इस मुद्दे को उठाया तो अब काम को रफ्तार मिलेगी।

मुख्य लाइन शिफ्ट, 6 घंटे लगे,  अब एलटी की जगह केबल डालेंगे
थाना रोड पर दोनों तरफ बिजली लाइन है। पश्चिम दिशा में थाने की तरफ डबल सर्किट में जावरा सिटी व हाटपिपल्या फीडर की 33 केवीए लाइन थी जो सबसे ज्यादा रिस्की होने के कारण ब्रिज का काम रुका था। शुक्रवार को सेतु निगम की इलेक्ट्रिक एंड मेंटेनेंस विंग ने यह डबल सर्किट लाइन शिफ्ट करके इसे चार्ज भी कर दिया। इस दौरान थाना रोड पर यातायात ब्लॉक करना पड़ा। काम ज्यादा होने से परमिट 6 से 10 बजे का था लेकिन सुबह 11.30 बज गए। सप्लाई डेढ़ से दो घंटे ज्यादा बंद रही। विधायक डॉ. राजेंद्र पांडेय ने मौके पर पहुंचकर ई एंड एम विभाग के एसडीओ जी.आर. आर्या, बिजली कंपनी डीई एम.के. मेड़ा से जानकारी ली। बिजली अधिकारियों ने बताया कि मुख्य लाइन शिफ्ट हो गई है और दोपहर बाद पुराने खंभे काटकर हटा दिए इसलिए यहां रिटेन वॉल व पिलर का काम शुरू हो सकता है। सामने की तरफ एलटी लाइन है, उसकी जगह केबल डलेगी। इसमें ज्यादा काम प्रभावित नहीं होगा। ये बचा हुआ काम भी 15 दिन के अंदर पूरा हो जाएगा।

बारिश में भी होगा 25 पिलर पर 690 मीटर लंबे ब्रिज का काम 
सेतु निगम इंजीनियर एम.एल. श्रीवास्तव ने बताया मुख्य लाइन हटने से रिटेन वॉल व पिलर का काम शुरू हो सकेगा। काॅन्ट्रैक्टर देवांग भावसार से बात हो गई है, उनके कर्मचारी एक-दो दिन में आ जाएंगे और सप्ताहभर में काम शुरू हो जाएगा। ब्रिज की कुल लंबाई 690 मीटर है, इसमें से 74.56 मीटर हिस्सा रेलवे ट्रैक के ऊपर है जो रेलवे बनाएगा। कुल 25 पिलर बनेंगे। थाना रोड पर ब्रिज की लंबाई 340 मीटर व बस स्टैंड रोड पर 275 मीटर रहेगी। चौड़ाई 8.40 मीटर है। चूंकि यहां नदी-नाले या कच्ची जगह नहीं है इसलिए बारिश में भी काम चलता रहेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना