पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नहीं मान रहे आयोजक:पाबंदी फिर भी शादी व मृत्युभोज जारी, चालान काटने से नहीं रुकेगा कोरोना

जावरा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आयोजकों ने मानसिकता बनाई चालान ही कटेगा

शादी और मृत्युभोज के बड़े आयोजनों पर रोक है ताकि भीड़ ना जुटे और कोरोना न फैले। प्रशासन की तरफ से 50 मेहमानों की मौजूदगी में कार्यक्रम करने की परमिशन है। इसमें भी मास्क व फिजिकल डिस्टेंसिंग पहली शर्त है। बावजूद नगर से गांव तक बड़े आयोजन हो रहे हैं। आयोजकों ने सोच बना ली है कि प्रशासन की टीम आएगी तो चालान काटकर जुर्माना लेकर चली जाएगी।

इसके बाद तो मेहमान भोजन कर सकेंगे। वे चालान के खर्चे को आयोजन खर्चे में जोड़कर ही कार्यक्रम बनाने लग गए हैं। इस मानसिकता के कारण कोरोना की रफ्तार ज्यादा तेज होने का डर है। खासकर ग्रामीण क्षेत्र में बड़े आयोजन किए जा रहे हैं। परंपरा और समाज में प्रतिष्ठा को प्रश्न बनाकर पूरे गांव को न्योता देने के साथ हजारों की संख्या में मेहमान बुलाए जा रहे हैं।

कई जगह तो मेहमान के जाने की इच्छा नहीं होती, फिर भी उसे इसलिए जाना पड़त है कि नहीं जाएंगे तो आयोजक परिवार गलत समझ लेगा। मामले में तहसीलदार बीएल बामनिया का कहना है सभी होटल, लॉज, धर्मशाला, मैरिज गार्डन की रेंडम चेकिंग के लिए टीमें बना दी हैं, जो नियमित कार्रवाई करेगी।

बड़े बगीचे के पास रिसेप्शन में जाकर काट दिया चालान

बुधवार शाम 7 बजे प्रशासनिक टीम ने बड़े बगीचे के पास भारत कॉलोनी में चल रहे शादी रिसेप्शन में जाकर आयोजक मुजफ्फर मेव के नाम से दो हजार का चालान काटा और जुर्माना वसूला। टीम में पटवारी पंकज राठौर, नवीन शर्मा, प्रवीण जैन, नपाकर्मी इमरान कुरैशी व आरक्षक सादिक मंसूरी शामिल थे। इन्होंने दूसरी धर्मशाला व मैरिज गार्डन में भी आकस्मिक चेकिंग की और आयोजकों के साथ ही संचालकों को प्रोटोकॉल पालन की हिदायत दी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कुछ रचनात्मक तथा सामाजिक कार्यों में आपका अधिकतर समय व्यतीत होगा। मीडिया तथा संपर्क सूत्रों संबंधी गतिविधियों में अपना विशेष ध्यान केंद्रित रखें, आपको कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती हैं। अनुभव...

    और पढ़ें