पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्टूडेंट्स की बदल रही है मानसिकता:पहले साल जनरल प्रमोशन, दूसरे साल ओपनबुक, तीसरे साल क्या होगा?

जावराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

3 अप्रैल से यूजी के फर्स्ट, सेकंड व फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स की परीक्षा होना थी। इसे लेकर टाइम टेबल भी घोषित कर दिए गए। कॉलेज प्रबंधन को भी लग रहा था कि इस बार कॉलेज में ही स्टूडेंट्स डिस्टेंसिंग के साथ परीक्षा देंगे। इसी बीच काेरोना को लेकर वापस ओपनबुक पद्धति की मांग उठने लगी। आखिरकार परीक्षा शुरू होने के हफ्तेभर पहले फर्स्ट व सेकंड ईयर के स्टूडेंट्स की परीक्षा ओपनबुक पद्धति से लिये जाने का निर्णय हुआ। इस फैसले से स्टूडेंट्स खुश हैं लेकिन फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स को मेहनत करना पड़ेगी क्योंकि उनकी परीक्षा कॉलेज में होगी। फर्स्ट व सेकंड ईयर के स्टूडेंट्स की परीक्षा को लेकर मानसिकता बदल रही है। पहले साल जनरल प्रमोशन, दूसरे साल ओपन बुक का मौका, अगर तीसरे साल केंद्रों पर एग्जाम हुई तो रिजल्ट क्या होगा, इसका अंदाजा लगाया जा सकता है।

भगतसिंह कॉलेज में यूजी के छात्रों की संख्या 3000 है और प्राइवेट स्टूडेंट्स करीब 1000 हैं, ऐसे में 4000 स्टूडेंट्स इस बार परीक्षा में सम्मिलित होंगे। इसमें फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स को छोड़कर फर्स्ट व सेकंड ईयर के स्टूडेंट्स ओपन बुक के माध्यम से परीक्षा देंगे। अंतर सिर्फ इतना है कि पिछले साल फर्स्ट व सेकंड ईयर वालों को जनरल प्रमोशन मिल था और फाइनल ईयर के कुछ पेपर हो गए थे। हालांकि बाद में बचे हुए सब्जेक्ट की परीक्षा ओपनबुक से हुई थी। 10 दिन पहले विक्रम यूनिवर्सिटी ने वार्षिक परीक्षाओं के संबंध में टाइम टेबल जारी किया था उसमें पहला पेपर 3 अप्रैल से होना था और तीन पालियों में अलग-अलग सब्जेक्ट की परीक्षा ली जाना थी। अब शनिवार रात हुए सरकार के फैसले के बाद उसमें संशोधन होगा। ऐसे में नया टाइम टेबल आएगा और परीक्षा पद्धति भी बदलेगी।

पिछले साल के दिन वापस लौटे
ओपनबुक पद्धति में पिछले साल स्टूडेंट्स ने अपने घरों में बैठकर वेब पोर्टल से पाठ्यक्रम के प्रश्न-पत्र डाउनलोड किए और प्रश्नों के उत्तर उत्तरपुस्तिका में लिखकर कॉपी कॉलेज में सब्मिट की थी। ओपनबुक होने के कारण स्टूडेंट्स को प्रश्न-पत्र में पूछे गए प्रश्नों के जवाब देने के लिए नोट्स, पाठ्यपुस्तकों और अन्य सामग्री की मदद लेने की अनुमति थी। ये सिर्फ इमरजेंसी के लिए था। अब इस बार फिर वही पैटर्न अपनाया जा रहा है। इससे लगने लगा है कि पिछले साल के दिन वापस लाैट रहे हैं।

मई से होगी परीक्षा शुरू, फाइनल ईयर की परीक्षा केंद्रों पर होगी
अप्रैल से शुरू होने वाली परीक्षा अब मई में शुरू होगी। इसमें फाइनल ईयर व चतुर्थ सेमेस्टर के स्टूडेंट्स को परीक्षा भौतिक रूप से उपस्थित होकर केंद्रों पर देना हेागी। स्नातक प्रथम, द्वितीय वर्ष और स्नातकोत्तर द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षा ओपनबुक पद्धति से जून में होगी। परीक्षा केंद्रों पर स्टूडेंट्स की उपस्थिति 50 फीसदी रखी जाएगी। इस संबंध में निर्देश जारी हो चुके हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें