पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

चुनावी तैयारी:‘कांग्रेस में सक्रियता का प्रमाण दें, यदि पब्लिक फीडबैक में नाम आएगा तो ही मिलेगा टिकट’

जावराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पर्यवेक्षक भूरिया ने कहा कि एक-दूसरे के खिलाफ बयान ना दें, निर्दलीय लड़ने की तो सोचें भी नहीं

नगर निकाय चुनाव से पहले संगठन की स्थानीय राजनीति, नेता-कार्यकर्ताओं की कार्यशैली और मौजूदा माहौल भांपने के लिए कांग्रेस द्वारा नियुक्त पर्यवेक्षक कलावती भूरिया एवं सह-पर्यवेक्षक सारिका बाफना गुरुवार दोपहर जावरा पहुंचीं।

इन्होंने राठौर धर्मशाला में चारों ब्लॉक अध्यक्ष व स्थानीय नेताओं के साथ समन्वय बैठक की। भूरिया एवं जिलाध्यक्ष राजेश भरावा ने कहा कि जो दावेदार हैं, उन्हें बताना होगा कि वे कब, कहां और कितने सक्रिय रहे। कौन-कौन से आंदोलन, धरने, सार्वजनिक या धार्मिक आयोजन में कमान संभाली। इनके प्रमाण भी पेश करना होंगे। फिर कमेटी जो पांच-छह नाम छंटनी करेगी, उन्हें लेकर पब्लिक सर्वे किया जाएगा। विधानसभा क्षेत्र से बाहर की टीम वार्डवार सर्वे करेगी और इस पब्लिक फीडबैक में जो नाम आएगा, उसे टिकट देने पर पार्टी निर्णय लेगी।

बैठक शुरू होने से पहले कांग्रेस के सभी गुट के नेता अपने-अपने समर्थकों के साथ पहुंचे। पूर्व नेता प्रतिपक्ष इब्राहिम मंसूरी तो महिलाओं व समर्थकों को लेकर पहुंचे और बैठक स्थल से कुछ दूर पर्यवेक्षकों को रोककर सम्मान किया तथा उन्हें रैली के रूप में अंदर ले गए। फिर अतिथि वाली पंक्ति में अपने आकाओं को जगह दिलाने के लिए कार्यकर्ताओं में नोकझोंक हुई। वहीं सीनियर नेताओं का गुणगान करने पर भी एक-दूसरे ने रोका-टोकी की।

इससे गुटबाजी जाहिर हुई तो पर्यवेक्षक कलावती भूरिया का कहना पड़ा कि ऐसे एक-दूसरे को नीचे दिखाने का काम ना करें अन्यथा 10 साल और चुनाव नहीं जीत पाएंगे। कोई भी मीडिया के सामने या सोशल मीडिया पर एक-दूसरे के खिलाफ बयान नहीं देगा। हां निर्दलीय चुनाव लड़ने की तो सोच भी मत लेना अन्यथा सख्त कार्रवाई होगी। भूरिया ने कहा भाजपा कार्यकर्ता चौराहे पर खड़े हो जाएं तो झूठ ऐसा बोलते हैं कि एक बंदर नाच की तरह भीड़ जुटा लेते हैं। भाजपा की मौजूदा नपा में भ्रष्टाचार था। हमें पूरी परिषद जीतना है और अगला विधायक भी कांग्रेस का होगा।

मोदी फेकू हैं और शिवराज मामा ने खरीद-फरोख्त करके सरकार तो बना ली लेकिन समय पर कर्मचारियों की तनख्वाह भी नहीं दे पा रहे हैं। प्रदेश अनुशासन समिति चेयरमैन भारतसिंह, सह-पर्यवेक्षक सारिका बाफना, जिलाध्यक्ष भरावा ने भी संबोधित किया। डॉ. एचएस राठौर, निजाम काजी, यूसुफ कड़पा, नीतिराज सिंह, माणक चपड़ोद, कुतुबुद्दीन सैफ, अजीजुर्रहमान पठान, जीवन नवलक्खा, प्रदीप सोलंकी, डीपी धाकड़, अंकित ललवानी, सुशील कोचट्‌टा, मोबिन मेव, मेहबूब टेलर, रजनी अरोड़ा, यास्मीन खान, रशीदा अहमद मौजूद थे।

सिंधिया गुट पार्टी से बाहर चला गया, अब सब एक हैं
मीडिया ने सवाल किया तो पर्यवेक्षक भूरिया ने कहा कि सिंधिया गुट बाहर चला गया है। अब यहां कोई गुटबाजी नहीं। इधर बैठक के दौरान जिलाध्यक्ष भरावा ने मीडियाकर्मियों को बैठक से जाने का कहा तो वे नाराज हो गए। बाद में जिलाध्यक्ष ने माफी मांगी और बोले मेरा आशय भावनाएं आहत करना नहीं है। संगठन की कुछ गोपनीय बातें हैं जो मीडिया में नहीं आना चाहिए, यह अनुरोध था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें