पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उठी आवाज:राजस्थान की तरह मप्र में भी मिडिल स्कूल खोलें : अभिभावक

जावरा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना के बाद से प्रावि-मावि स्कूलों का संचालन शुरू नहीं, अब अगले सत्र से ही खोलने की प्लानिंग

कोरोना के बाद से बंद हाईस्कूल से लेकर कॉलेज खुल चुके हैं और दो महीनों के बाद परिस्थितियां सामान्य हो गई हैं। स्कूलों व कॉलेजों में बच्चे बेरोकटोक एक-दूसरे से मिल रहे हैं। ग्रुप स्टडी कर रहे हैं और सबसे अच्छी बात है कि एक भी बच्चा संक्रमित नहीं और सभी स्वस्थ हैं। इससे अब पालकों में राहत है। वहीं जो अभिभावक पहले बच्चों को स्कूल भेजने के पक्ष में नहीं थे वो भी अब प्राइमरी व मिडिल स्कूल खोले जाने के पक्ष में हैं। हाल ही में राजस्थान ने छठी से 8वीं के स्कूल खोल दिए हैं, अब अभिभावक प्रदेश में भी स्कूल खोलने की मांग कर रहे हैं।

ब्लॉक में 220 प्रावि, 97 मावि स्कूल हैं और दोनों में मिलाकर 12 हजार से अधिक स्टूडेंट्स है। प्राइवेट स्कूलों के बच्चों को ऑनलाइन स्टडी मटेरियल देकर उनके टेस्ट लिए जा रहे हैं। वहीं सरकारी स्कूल के बच्चे अब भी घर पर पढ़ रहे हैं और ऑनलाइन न पढ़ पाने के कारण शिक्षकों को उन्हें घर जाकर पढ़ाने की जिम्मेदारी सौंपी है। बच्चे घर पर पढ़ने के बजाय खेल में समय बर्बाद कर रहे हैं। ऐसे में उनका रुझान पढ़ाई से हटता जा रहा है क्योंकि ये बात सभी को पता है कि पहली से आठवीं का बच्चा अगर कमजोर भी है तो उसे फेल नहीं करना है।

सरकार की पॉलिसी का फायदा तो बच्चों को मिल रहा और उनका साल तो बर्बाद नहीं हो रहा लेकिन उनकी दक्षता कम होती जा रही है। बड़े स्कूलों में बच्चों को पालकों की सहमति से बैठाया जा रहा है और राेज उन्हें पढ़ाई करवाई जा रही है। अब कोरोना की वैक्सीन भी आ चुकी है। घर से बाजार तक में माहौल सामान्य हो गया है। अब ज्यादातर अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने को तैयार हैं। अब भी सैनिटाइजर सहित अन्य व्यवस्थाएं हैं। बीआरसीसी विवेक नागर ने बताया कि 31 मार्च तक स्कूल बंद के आदेश हैं। इसके बाद नया शैक्षणिक सत्र शुरू होगा और स्कूल भी तभी खुलेंगे।

शिक्षकों को ऑनलाइन किया जा रहा ट्रेंड

प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर अब सरकारी स्कूलों में भी ऑनलाइन पढ़ाई का सेशन शुरू हो गए है। इधर मॉडल स्कूल में नवाचार करते हुए शिक्षकों को ऑनलाइन पढ़ाई की ट्रेनिंग दी गई। इसमें उन्हें बताया कि ऑनलाइन ट्यूटोरियल कैसे चलाएं। बच्चों से कन्वर्जेशन, सॉफ्टवेयर का ज्ञान आदि जानकारी प्राेजेक्टर के माध्यम से समझाई गई। आगामी भविष्य ऑनलाइन स्टडी का है ऐसे में बच्चों को प्रिपेयर करने से पहले शिक्षकों को प्रिपेयर करना जरूरी है। ऐसे में अब शिक्षक भी इसमें रुचि ले रहे हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें