पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रीमैच्योर डिलीवरी:डिलीवरी के बाद प्रसूता की मौत, भड़के परिजन बोले- नस काट दी, खून बहने से हुई मौत, डॉक्टर-सडन डेथ

जावरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • डॉक्टर का इंतजार कर रहे परिजन को पुलिस ने आकर दो घंटे तक समझाया तब माने

महिला अस्पताल में मंगलवार दोपहर एक प्रसूता की प्रीमैच्योर डिलीवरी के बाद मौत हो जाने से बखेड़ा खड़ा हो गया। परिजन ने दो घंटे तक हंगामा किया। उन्होंने डॉक्टर व स्टाफ पर लापरवाही बरतने के आरोप लगाए। कहा कि डिलीवरी के बाद नस कटने से अधिक खून बहा और इसी से मौत हो गई। इसके तुरंत बाद डॉक्टर व नर्स भी दूसरे रास्ते से चले गए। प्रसूता के मृत होने की सूचना घंटेभर बाद लगी। इससे माहौल और गरमा गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामला संभाला। परिजन को समझाई दी कि किसी तरह की शंका होने पर पीएम करा सकते हैं। डॉक्टर ने कहा सडन डेथ है। हमने क्रिटिकल केयर टीम की मदद से बचाने की पूरी कोशिश लेकिन असफल रहे। पठानटोली निवासी सुल्तानाबी उर्फ छोटी पिता मेहबूब को दो दिन पहले महिला अस्पताल में भर्ती कराया था। सोमवार को उसे दर्द उठना शुरू हो गए थे। मंगलवार को सुबह जब डिलीवरी के लिए प्रसूता को लेबर रूम में लाया गया तो डयूटी डॉक्टर अरुण गुप्ता ने प्रसूता की नॉर्मल प्रीमैच्योर डिलीवरी करवाई। कुछ ही देर बार सुल्तानाबी बेहोश हो गई। कुछ देर बाद डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसकी खबर परिजनों को लगी तो परिजन ने प्रसूता की मौत के लिए डॉक्टर को जिम्मेदार ठहराते हुए नाराजगी जताई। मृतक के परिजनों ने कहा कि डिलीवरी से पहले सुल्तानाबी ठीक थी। डिलीवरी दौरान बालक को जन्म दिया। इसके बाद डॉक्टर की लापरवाही से प्रसूता की नस कटी और खून बह गया। जिसकी वजह से उसकी जान चली गई। परिजनों के रो-रोकर बुरे हाल थे। दो घंटे तक परिजन डॉक्टर का इंतजार करते रहे। डॉक्टर नहीं आए और पुलिस पहंुची। परिजनों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वे नहीं माने। महिला के पति के आने के बाद शव को पीएम कराने के लिए सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉ.जितेंद्र पाटीदार, डॉ.अतुल मंडवारिया ने पीएम िकया। इसके बाद पुलिस ने शव परिजनों के सुपुर्द किया।

डेढ़ साल पहले हुई शादी, परिजन शोक में डूबे
परिजनों के मुताबिक सुल्ताना बी का निकाह डेढ़ साल पहले महिदपुर हुआ था। डिलीवरी के लिए सुल्ताना बी पठानटोली रह रही थी। अस्पताल में डिलीवरी के लिए उसे एक दिन पहले ही भर्ती कराया था, बच्चे को जन्म देने के बाद उसकी मौत से पूरा परिवार पर दु:खों का पहाड़ टूट पड़ा। दिनभर परिजन शोक में डूबे रहे। छोटी घर सुना कर गई.. कहते हुए बिलखते रहे। सभी एक-दूसरे को ढांढस बंधाते रहे।

परिजनों के आरोप उनकी मनोस्थिति वाले हैं

डयूटी डॉ.अरुण गुप्ता ने कहा प्रसूता की डिलीवरी आराम से हो गई थी। थोड़ी देर बाद महिला सडन कोलेप्स हो गई। सहायता के लिए डॉ.अतुल मंडवारिया, डॉ.दीपक मंडवारिया, एनेस्थेटिक डॉ.दिनेश पाटीदार जो क्रिटिकल केयर में एक्सपर्ट है उन्हें बुलाया। उसे बचाने का प्रयास किया लेकिन मौत हो गई। दोपहर 1.50 बजे महिला की मौत सर्टिफाइड की। बच्चा कमजोर होने के कारण उसे शिशु वार्ड में भर्ती कराया।

सडन डेथ के कई कारण, लेकिन स्पष्ट नहीं कह सकते
डॉक्टरों के मुताबिक सडन डेथ के कई कारण हो सकते हैं। डिलीवरी उपरांत महिला की मौत से इसे जोड़ा नहीं जा सकता। कार्डियक अरेस्ट किसी को कभी भी आ सकता है सामान्यत: एम्नियोटीकफ्यूड एम्बोलिजम कार्डियक अरेस्ट आने का एक कारण हो सकता है। मां के रक्त प्रवाह में एम्नियोटीक द्रव रक्त नलियों में प्रवेश करना, इसका सामान्य कारण है। जिससे उसकी मौत हो सकती है।
पीएम रिपोर्ट के बाद कुछ कह सकते हैं
सिटी थाना के एसआई रघुवीर जोशी ने बताया शाम 5 बजे पैनल पीएम हुआ है। एक-दो दिन बाद रिपोर्ट आएगी फिर कुछ स्पष्ट कह सकते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें