पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

समस्या:2 साल में नहीं बनी एक भी सुदूर सड़क, 25 रास्ते कच्चे, कीचड़ में से शव ले जाना मजबूरी

जावरा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शुरुआती दो साल में 60 सड़कें बनीं, इस साल 36 सड़कें स्वीकृति के लिए भेजीं
Advertisement
Advertisement

जनपद क्षेत्र में मनरेगा के तहत सुदूर सड़कें बनाए जाने का प्रावधान है। 2 साल में एक भी सुदूर सड़क नहीं बनी है। 4 साल पहले यह स्कीम शुरू हुई थी तब शुरुआती दौर में 69 सड़कें स्वीकृत हुईं, इनमें से 60 बन चुकी हैं और 9 अब भी अधूरी हैं। बाद के 2 साल खाली निकल गए। इस दरमियान एक भी सड़क नहीं बनी जबकि आज भी 25 गांव में मुक्तिधाम तक जाने के रास्ते कच्चे हैं। अब बारिश में कीचड़ पसरेगा और परिजन को अपनों को मुक्तिधाम तक छोड़ने जाने के लिए कीचड़ भरे रास्तों से होकर गुजरना पड़ेगा। सुदूर सड़क योजना में एक से तीन किमी की सड़कें बनाई जाती हैं। पूर्व में कम लागत की सड़कें पंचायत अपने स्तर पर बनवा लेती थी लेकिन अब सड़कें बनवाने से पहले जिला कार्यालय से अनुमति लेना होती है। सुदूर सड़क निर्माण की शुरुआत वर्ष 2016-17 में हुई थी। शुरुआती दो साल में 69 सुदूर सड़कों में से 60 बनकर पूरी हो गईं और 9 सड़कें भी लगभग पूरी होने वाली हैं। पहले इनमें सिर्फ गांव से गांव को जोड़ना शामिल था, बाद में एप्रोच और गांव के बाहर मुक्तिधाम तक जाने वाले रास्ते भी शामिल हो गए। जनपद के तहत 74 पंचायतों में 147 गांव आते हैं। अब भी कई सड़कें ऐसी है जो बनना बाकी है। जो करीब 60 के आसपास हैं। इनमें से 36 सड़कों को प्राथमिकता के आधार पर लेकर उनकी स्वीकृति के लिए जिला कार्यालय भेज दिया है लेकिन अभी तक वहां से अप्रूवल नहीं मिला है। ऐसे में काम शुरू नहीं हो सका है। अभी बारिश है और संभावना है कि इस बार भी स्वीकृति मिलेगी। यानी जाे 36 सड़कें बनना हैं, इस बारिश में ग्रामीणों को कीचड़ की समस्या से जूझना पड़ेगा।

इन 21 गांवों में सड़कें मुक्तिधाम तक हैं कच्ची
गांव बहादुरपुर खालसा, सरसोदा, मोयाखेड़ा किलगारी, गोठड़ा, खजूरिया, खोजनखेड़ा, दूधाखेड़ी, बानीखेड़ी, तरास्या, पिपलियासीर, भूतेड़ा में हनुमान मंदिर से मुक्तिधाम तक, मरम्या, मार्तण्डगंज, पंथमेलकी, मिंडली, नागपिपलिया, कितुखेड़ी, लखमाखेड़ी, बोरवनी में मुक्तिधाम व कब्रिस्तान, खीमाखेड़ी मुख्य मार्ग से कब्रिस्तान, सोहनबाई कानाजी के घर से मुक्तिधाम तक, हिंगोरियधांधु में गोपाल के घर से मुक्तिधाम तक की सड़क बनाई जाना प्रस्तावित है। इनकी स्वीकृति जिला कार्यालय में लंबित है।

गांव डोडियाना के किसानों की पीड़ा
डोडियाना के जितेंद्रसिंह पंवार, बालमुकंद देवड़ा ने बताया उनके गांव में मुक्तिधाम तक पहुंच मार्ग कच्चा होकर खराब हालत में है। अभी तक रोड सही नहीं करवाया गया। सालों से इसी रास्ते का उपयोग ग्रामीण करते आ रहे हैं। कई बार पंचायत से भी कहा लेकिन अभी तक कोई हल नहीं निकला। बारिश में रास्ते पर कीचड़ पसर जाता है, जहां से निकलना भी मुश्किल हो जाता है। इस बार फिर बारिश में परेशानी झेलना पड़ेगी। सरपंच कनीराम चौधरी ने कहा प्रस्ताव भेज रखा है, राशि आने पर काम करेंगे।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज वित्तीय स्थिति में सुधार आएगा। कुछ नया शुरू करने के लिए समय बहुत अनुकूल है। आपकी मेहनत व प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। विवाह योग्य लोगों के लिए किसी अच्छे रिश्ते संबंधित बातचीत शुर...

और पढ़ें

Advertisement