पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मांगलिक भवन:एलक से मुनिश्री बने परमात्मसागरजी ने खड़े रहकर ही किया आहार ग्रहण

जावरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सोमवारिया स्थित दिगंबर जैन मांगलिक भवन में मनाएं जा रहे अष्टान्हिका पंच महोत्सव के तहत राष्ट्रसंत प्रमुखसागरजी से दीक्षा लेकर एलक से मुनिश्री बने परमात्मसागरजी ने बुधवार को अपने धर्म माता-पिता साधना-विजय ओरा के निवास पर पहुंचकर आहारचर्या का श्रीगणेश किया। आहारचर्या साधना का अहम हिस्सा है। मुनिश्री 24 घंटे में सिर्फ एक बार खड़े रहकर भोजन और पानी ग्रहण करते है। इसका भी अपना तत समय है। यदि उन्हें निश्चित धारण नहीं मिलती है तो वैसे ही वापस लौट जाते हैं। ऐसी साधना करना आसान नहीं। आचार्यश्री 108 पुष्पवर्षा योग समिति प्रवक्ता रितेश जैन ने बताया कार्तिक शुक्ल दशमी पर एलक से मुनि पदवी प्राप्त कर परमात्मसागरजी की दीक्षा के साथ ही दिगंबर जैन मंागलिक भवन में विधानाचार्य पं. राकेश जैन (भिंड), बीना दीदी के सान्निध्य में सिद्धचक्र विधान का अनुष्ठान किया। 29 नवंबर को गुरुदेव प्रमुखसागरजी के आचार्य पद पर पदारोहित करने के एक वर्ष की पूर्णता पर आचार्यश्री का प्रथम आचार्य पदारोहण महोत्सव मनाया जाएगा। इसमें आचार्यश्री का विशेष पाद प्रक्षालन पूजन, आरती व प्रवचन हांेगे। सुबह 10 बजे पिच्छी परिवर्तन महोत्सव होगा। पुष्पवर्षा योग समिति के महामंत्री विजय ओरा ने बताया आचार्यश्री प्रमुखसागरजी ने दीक्षार्थी परमात्मसागरजी के धर्म माता-पिता बनने का सौभाग्य ओरा परिवार को दिया। परंपरा अनुसार दीक्षा के दिन दीक्षार्थी परमात्मसागरजी का उपवास रहा होकर बुधवार को पहला आहार और पारणा धर्म माता-पिता के निवास बजाजखाना पर आचार्यश्री प्रमुखसागरजी के सान्निध्य में हुआ। मुनिश्री परमात्मात्मसागरजी के आहार के पश्चात आचार्यश्री के आहार का सौभाग्य भी ओरा परिवार को प्राप्त हुआ।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप में काम करने की इच्छा शक्ति कम होगी, परंतु फिर भी जरूरी कामकाज आप समय पर पूरे कर लेंगे। किसी मांगलिक कार्य संबंधी व्यवस्था में आप व्यस्त रह सकते हैं। आपकी छवि में निखार आएगा। आप अपने अच...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser