पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पानी में डूबने से मौत:मॉडलिंग का शौकीन छात्र फोटो खिंचवाने तलाई में उतरा, अंदर कुआं था, पैर फिसलने से डूबा

जावराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पॉलीटेक्निक कॉलेज से आगे नागदी रोड पर तलाई में धुलेंडी खेलने के बाद फोटोग्राफी करने गए 5 छात्रों में से एक की डूबने से मौत हो गई। फोटो खिंचवाने के दौरान एक छात्र गहराई में उतरा, जहां करीब 20 फीट गहरा कुआं था, इसकी भनक उन्हें नहीं थी। जैसे ही कुएं में पैर गिरा, वह डूब गया। बाहर खड़े चार दोस्तों को तैरना याद नहीं था इसलिए वे बचा नहीं पाए। उन्होंने आसपास खेतों से जिन लोगों को बुलाया वे भी तैरना नहीं जानते थे। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से निकाला तब तक मौत हो गई। फोटोग्राफी करने गए सभी दोस्त महावीर जैन स्कूल में 11वीं के छात्र हैं। सरसी पुलिस चौकी प्रभारी दिनेश राठौर ने बताया कि जावरा नरसिंहपुरा निवासी रौनक पिता विजेंद्रसिंह राजपूत (19) क्लासमेट पूरब सेठिया, परख सेठिया, शिवम अरोड़ा व प्रथम अरोड़ा के साथ कैमरा लेकर फोटोग्राफी करने महावीर जैन स्कूल के सामने स्थित तलाई में गए थे। ये सभी इसी स्कूल के छात्र भी हैं। शाम 4.30 बजे इन्हाेंने तलाई किनारे फोटोग्राफी की। फिर रौनक ने कपड़े उतारे व मोबाइल, जूते किनारे रखे तथा ये कहते हुए तलाई में उतरा कि फोटोग्राफी हो जाएगी और गर्मी बहुत है तो नहा लेंगे।

जैसे ही थोड़ी दूर गया तो वहां कुएं था। असंतुलित होकर कुएं में चलाया गया। चिल्लाया लेकिन तैरना नहीं आता था इसलिए डूब गया। बाहर दाेस्तों ने प्रयास किया लेकिन वे भी तैरना नहीं जानते थे इसलिए रौनक को बचा नहीं पाए। तलाई में ही एक किनारे कुआं है लेकिन वह पानी में डूबा होने से बच्चों को उस बारे में जानकारी नहीं थी। इसी से हादसा हुआ। आईए थाना प्रभारी जनकसिंह रावत ने बताया कि मर्ग कायम कर जांच कर रहे हैं।

घरवालों ने रोका-टोका लेकिन नहीं माना रौनक

रौनक के पिता विजेंद्रसिंह की मंडी में चाय-नाश्ता होटल हैं। रौनक इकलौता बेटा था जिसकी मौत की खबर से पिता घटनास्थल पहुंचे और बिलख उठे। छोटी बेटी आरतीकुंवर और मां पुष्पाकुंवर घर ही थे। अंकल हरिओम सिंह ने बताया कि रौनक को फोटोग्राफी का शौक था। दोस्तों के साथ मिलकर कुछ दिनों पहले ही कैमरा लाया। धुलेंडी खेलने के बाद दोपहर 3.30 बजे घर से निकलने लगा तो पिता व मां ने रोका-टोका कि त्योहार के दिन कहां जा रहे हो। फिर भी वह नहीं माना तो पिता ने कहा ठीक है आधे घंटे में आ जाना। शाम 5 बजे तक कॉल नहीं आया तो पिता ने मोबाइल पर रिंग दी। पुलिसकर्मी ने रिसीव किया और कहा कि बेटा डूब गया। ये सुनते ही होश फाकता हो गए और मौके पर गए। देर शाम अंतिम संस्कार किया।

हमें मालूम था कि अंदर कुआं है : पूरब
दोस्त पूरब के मुताबिक हम पर किनारे थे। रौनक अंदर उतरा तब ना उसे और ना हमें मालूम था कि अंदर कुआं है। वह अचानक डूबने लगा तो चिल्लाया। हम समझ नहीं पाए और तुरंत सभी उसे बचाने अंदर उतरे लेकिन परख का पैर भी कुएं पर पड़ा। वह मेरे नजदीक था इसलिए उसका हाथ पकड़ लिया और उसे बाहर निकाला लेकिन कुएं की गहराई ज्यादा होने से हम अंदर नहीं जा पाए। हमें तैरना भी याद नहीं। तुरंत बाहर निकले व खेतों से कुछ लोगों को बुलाया लेकिन वे भी तैरना नहीं जानते थे। तीन टेकरी फॉर्म हाउस पर कुछ लोग थे वे आए। कुएं में तलाशा लेकिन नजर नहीं आया। हमने डाॅयल 100 को फाेन किया। फिर पुलिस ने गोताखोरों की मदद से रौनक को निकाला।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें