पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

समर्थन मूल्य:समर्थन की खरीदी धीमी, 10 से कम किसान आ रहे, रंगपंचमी के बाद रफ्तार बढ़ने के आसार

जावराएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

समर्थन मूल्य पर उपज की खरीदी शुरू हुए 3 दिन हो गए। पहले दिन गिने-चुने किसान उपज लेकर केंद्र पर पहुंचे। 2 दिन होली-धुलेंडी के अवकाश के बाद मंगलवार को केंद्र खुले लेकिन दिनभर में किसानों की संख्या 10 से ज्यादा नहीं थी। आलम ये है कि दो केंद्रों पर 40 किसानों में से 9 पहुंचे और उनसे 890 क्विंटल गेहूं खरीदे गए। केंद्र प्रभारियों के अनुसार त्योहार के चलते कम किसान आ रहे हैं। आगामी दिनों में खरीदी में तेजी आएगी। ज्यादा किसानों के आने पर कोरोना गाइडलाइन के तहत सुरक्षा के सभी इंतजाम किए हैं।

ब्लॉक में 12 गेहूं केंद्र और 5 चना, मसूर और सरसों के लिए बनाए हैं। शुरुआती दौर में प्रति केंद्र 20 किसानों के मान से मैसेज भेजे जा रहे हैं। इसमें 60:40 का रेशों रखा है। यानी 60 प्रतिशत छोटे और 40 प्रतिशत बड़े किसान शामिल हैं। होली के चलते मंडी अभी बंद है। समर्थन में इस बार गेहूं के पिछले साल से 50 रुपए अधिक मिल रहे हैं। गेहूं बेचने वाले 9250 किसान व चने के 4153, मसूर के 598 किसानों का केंद्र पर पहुंचना तय है।

पहले दिन की खरीदी ज्यादा खास नहीं लेकिन दूसरे दिन भी स्थिति में ज्यादा अंतर नहीं दिखा। अरनियापिथा कृषि उपज मंडी पर 2 केंद्र बने हैं। केंद्र प्रभारी योगेश कोठारी ने बताया कि एक केंद्र पर 2 किसान आए और उनसे 280.50 क्विंटल गेहूं खरीदे गए। वहीं दूसरे केंद्र पर 7 किसानों से 610 क्विंटल गेहूं की खरीदी हुई।

कई केंद्रों पर नहीं लगे टेंट
समर्थन खरीदी शुरू होने से पहले सभी केंद्र प्रभारियों को टेंट से लेकर पेयजल आदि की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए थे लेकिन कई केंद्रों पर अब भी टेंट की व्यवस्था नहीं हुई है। ये तो अभी कम किसान आ रहे है ऐसे में धक रहा हे लेकिन एक बार त्योहार खत्म हुए तो किसानों के पास उपज लाने के अलावा कोई काम नहीं होगा। यूं तो किसान को जब भी मैसेज मिलें वो सात दिन के भीतर केंद्र पर उपज लाकर बेच सकता है। खरीदी की आखिरी तारीख 10 मई है।
5 अप्रैल से जुटेंगे किसान
समर्थन मूल्य पर खरीदी भले ही शनिवार से शुरू हो गई लेकिन होली के दो दिनी त्योहार आने के कारण सामान्य रही। इस हफ्ते 2 अप्रैल को गुड फ्राइडे की छुट्‌टी और शनिवार-रविवार की छुट्‌टी रहेगी। 5 अप्रैल के बाद कोई त्याेहार नहीं है ऐसे में किसान उपज बेचने के लिए केंद्रों पर जुटेंगे। अभी केंद्रों पर उपज की आवक कमजोर है और स्टॉक भी अधिक नहीं हुआ है। ऐसे में परिवहन को रफ्तार पकड़ना बाकी है। एक बार समर्थन खरीदी तेज हो जाए तो सतत परिवहन होगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें