पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना विस्फोट:कोविड से ताल के 46 वर्षीय मंडी कर्मचारी की मौत, दो टीके के बाद नपा एई पॉजिटिव

जावरा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 48 घंटे में बाइक चोर समेत कुल 15 संक्रमित, पॉजिटिव आने पर चोर को मिली जमानत

कोरोना अब जानलेवा बन रहा है। ताल के 46 वर्षीय मंडी कर्मचारी की कोविड से जावरा सिविल अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। 2021 में ब्लॉक में कोरोना से हुई यह पहली घोषित मौत है। कोविड प्रोटोकॉल के कारण जावरा में ही अंतिम संस्कार हुआ। पत्नी व दो बेटियां दूर से अंतिम संस्कार में शामिल हुए। इधर मंगलवार को एंटीजन टेस्ट में 10 पॉजिटिव आए। इसके पहले सोमवार को नगरपालिका एई समेत 5 पॉजिटिव मिले थे। 48 घंटे में 15 लोगों का संक्रमित होना चिंताजनक है। नपा एई को तो वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके थे। इसके 14 दिन बाद पॉजिटिव आए। वे भोपाल के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती हैं।

ताल कृषि मंडी में 2003 से पदस्थ लिपिक सेवकराम जामभूरे की 3 दिन पहले तबीयत बिगड़ी। सर्दी-जुकाम और बुखार होने पर 28 मार्च की शाम परिजन ने ताल अस्पताल में चेकअप करवाया तो उन्हें जावरा रेफर कर दिया। यहां रात 8 बजे भर्ती किया और 29 मार्च की सुबह रतलाम रेफर करने से पहले 9.30 बजे एंटीजन टेस्ट किया। इसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जामभूरे को रेफर करने की तैयारी चल रही थी कि इलाज के दौरान उन्होंने अंतिम सांस ली।

प्रशासन ने ताल में परिजन को सूचना दी। पत्नी गीताबाई तो साथ ही थीं लेकिन ताल से कुछ समाजसेवी जामभूरे की बेटियों आंचल (16) व अमिषा (14) को लेकर जावरा पहुंचे। यहां आनंदी हनुमान मुक्तिधाम में स्वास्थ्यकर्मी दिनेश उपाध्याय, अकील मंसूरी, वार्डबॉय गोपाल व राकेश ने अंतिम संस्कार किया। पत्नी व दोनों बेटियों को दूर से ही अंतिम संस्कार करवाए। सेवकराम मूलत: बालाघाट जिले के कालीमाटी गांव के निवासी थे। उनकी मां रामीबाई व भाई समेत परिजन गांव से सोमवार रात 2 बजे ताल पहुंचे। वे तो पार्थिव देह भी देख नहीं पाए। बता दें कि ताल में अब तक कोविड से यह चौथी मौत है।

एक ही परिवार के 5 पॉजिटिव, इसलिए सतर्कता बरतें लोग
मंगलवार को जो 10 पॉजिटिव आए, इनमें एक ही परिवार के 5 लोग संक्रमित हैं। एक बुजुर्ग महिला समेत दो सदस्यों को रतलाम रेफर किया है। डॉक्टर्स की माने तो घर-परिवार में यदि किसी को संदिग्ध लक्षण है तो उसे खुद को अलग कमरे में आइसोलेट कर लेना चाहिए। इसमें कोई बुराई नहीं। टेस्ट करवाएं और यदि सामान्य लक्षण है तो ठीक हो जाएंगे और नहीं है तो कोविड प्रोटोकॉल के तहत इलाज से ठीक होगा, उसके बाद साथ रहें। कई बार एक सदस्य के संक्रमित होने पर उससे बाकी सदस्यों को भी खतरा रहता है इसलिए अनुशासनात्मक रूप से पालन करें।
अस्वस्थ होने पर भोपाल पहुंचे एई, जांच में निकले पॉजिटिव
नपा एई ने कोविड का दूसरा डोज 14 मार्च को लगवाया। इसके बाद 27 को वे बीमार हुए। 28 को भोपाल घर पहुंचे और वहां बंसल हॉस्पिटल में टेस्ट करवाया। 29 मार्च को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उनके लंग्स में इन्फेक्शन है लेकिन खतरे से बाहर हैं। कोविड के दोनों डोज लगने के बावजूद पॉजिटिव आने को लेकर बीएमओ डॉ. दीपक पालड़िया का कहना है कि वैक्सीनेशन से इम्युन सिस्टम मजबूत होता है। कई बार वैक्सीनेशन के बाद भी पॉजिटिव आ सकते हैं लेकिन जिसे वैक्सीन लग चुकी है उस पर कोविड की सिवियरिटी (आक्रामकता) कम हो जाती है। फेफड़े ज्यादा खराब नहीं होते और रिकवरी जल्दी हो सकती है।

मार्च में अब तक 85, आंकड़े नवंबर-दिसंबर जैसी स्थिति बयां कर रहे
मार्च में अब तक 85 पॉजिटिव हो चुके हैं। ये आंकड़े वर्ष 2020 के नवंबर-दिसंबर जैसी स्थिति बयां कर रहे हैं। बता दें कि नवंबर 2020 में 89 और दिसंबर 2020 में 92 केस सामने आए थे। इसके बाद साल 2021 में यह पहला मौका है जब एक महीने में इतने पॉजिटिव आए हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें