पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक काे बचा लिया:हाेली मनाकर जूनापानी तालाब में नहाने गए थे 3 किशोर, 2 की गहरे पानी में डूबने से हुई मौत,

मंदसौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जूना पानी तालाब में नहाने गए 3 किशोराें में से 2 की डूबने से मौत हो गई। मौके पर मौजूद लोगों ने एक को बचा लिया। घटना सोमवार दोपहर को हुई। मंगलवार को शासन ने युवकों के परिजन को 4-4 लाख रुपए राहत राशि प्रदान की। इधर, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वी.डी. शर्मा व सीएम शिवराजसिंह चौहान ने ट्वीट कर मृतकाें को श्रद्धांजलि दी। सोमवार दोपहर को संस्कार पिता विनोद डाबी (16), गोपाल पिता श्यामलाल (17), विशाल पिता अशोक बैरागी (17) हाेली मनाकर जूनापानी तालाब में नहाने गए। वे तैराना नहीं जानते थे। इस कारण तीनों तालाब में डूब गए। मौके पर मौजूद युवाओं ने संस्कार को बाहर निकाल लिया। उसने दोस्ताें की भी जानकारी दी। सूचना पर तैराक राेशन पंजाबी तालाब पर पहुंचे। उन्होंने गोपाल व विशाल को ढूंढना शुरू किया। करीब डेढ़ घंटे के बाद विशाल व इसके 1 घंटे बाद गोपाल के शव को बाहर निकाला जा सका। बड़ी संख्या में नागरिक तालाब के पास पहुंच गए।

सहपाठी थे तीनों किशोर, सभी कक्षा 11वीं में पढ़ते थे
मृतक विशाल, गोपाल एवं घायल संस्कार कक्षा 11वीं के छात्र थे और तीनों घनिष्ठ मित्र थे। विशाल व गोपाल इकलौते थे। विशाल के पिता अशोक बैरागी राजपूत मोहल्ला राजपूत समाज के मंदिर के पुजारी और मंडी में हम्माली करते हैं। गोपाल के पिता श्यामसुंदर व्यास कई सालों से कथावाचन कर रहे हैं। घटना की सूचना मिलने शाम 4 बजे तहसीलदार रामलाल मुनिया पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। जूनापानी में तालाब में डूबने से दो किशोरों की मौत को दुखद बताते हुए सीएम शिवराजसिंह चौहान, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा व सांसद सुधीर गुप्ता ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी।

परिजन को दी 4-4 लाख रुपए सहायता राशि
तालाब में डूबने से किशोरों की मौत के मामले में तहसीलदार आर.एल. मुनिया व कस्बा पटवारी चंद्रप्रकाश धनोतिया ने पीड़ित परिवार को सहायता राशि मिले इस हेतु प्रस्ताव बनाकर भेजा। राशि मंजूर होने के बाद मंगलवार को तहसीलदार मुनिया, नायब तहसीलदार सरिता राठौर, भाजपा मंडल अध्यक्ष बलवंतसिंह पंवार, युवा नेता पवन जोशी, विशाल शर्मा ने शोकाकुल परिवार के बीच पहुंचे। यहां गोपाल के पिता श्यामसुंदर व्यास व विशाल के पिता अशोक बैरागी को स्वीकृति-पत्र दिया व शोक संवेदना व्यक्त की।

पहली बार गए थे तालाब, गहराई का नहीं था पता
संस्कार ने बताया कि हम लोग पहली बार ही तालाब पर गए थे इसलिए गहराई का अंदाजा नहीं था। शुरू में गोपाल व विशाल तालाब में उतरे। कमर तक पानी था, इसी बीच दोनों ने मुझे आवाज लगाई। कहा यहां पानी कम है आ जाओ, नहा लो। मैंने मना किया तो कहा कि हमें तैरना आता है, कुछ नहीं होने देंगे तुझे। उनकी बातों में आकर मैं पानी में चला गया। इसी दौरान दोनों धीरे-धीरे आगे की तरफ जाने लग गए। ज्यादा गहराई होने से दोनों अंदर चले गए और नजर नहीं आए। मैं घबरा गया और आवाज लगाई तालाब पर कुछ लड़के और भी थे। उन्होंने मुझे बाहर निकाला और अस्पताल पहुंचाया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें