पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

किया जा रहा सेंट्रलाइज्ड:डाॅयल करें 1075, मिलेगी कोरोना से संबंधित हर प्रकार की जानकारी

मंदसौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रदेशस्तर से कॉमन नंबर के साथ जोड़े जा रहे जिले के कंट्रोल सेंटर, काेराेना मरीजाें की हाेगी माॅनिटरिंग

जिले के कोरोना मरीजों की अब हाईटेक कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर से निगरानी होगी। इसके तहत जिला मुख्यालय पर स्थित पुराने सेंटर को ही अपडेट करते हुए अब उसे कमांड सेंटर बनाया जा रहा है। इसके लिए अब राज्य स्तर पर एकल (कॉमन) नंबर 1075 होगा। कोई भी व्यक्ति सीधे जिले के एसटीडी कोड (07422) के साथ डाॅयल कर सकता है। इससे कॉल सीधे जिला स्तरीय कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर पर कनेक्ट होगी। कोरोना के इलाज की व्यवस्था के साथ ही निगरानी व प्रबंधन को केंद्रीयकृत करने के लिए जिला स्तर पर एकीकृत कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर की स्थापना की जा रही है। जिला मुख्यालय से कोरोना के प्रभावी नियंत्रण के लिए शहर के डाइट परिसर में बनाए पुराने कोरोना कंट्रोल रूम को हाईटेक करते हुए उसे कोविड कमांड कंट्रोल सेंटर नाम कर दिया है। यह पूरी तरह हाईटेक रहेगा। इसके लिए जरूरी मशीनें आ गई हैं। बीएसएनएल द्वारा अलग से पीआईआर केबल भी डालने का काम किया जा रहा है। इसके बाद इंजीनियरों द्वारा कंट्रोल रूम के सिस्टम में सॉफ्टवेयर इंस्टॉल कर दिया जाएगा। संभवत: सोमवार से यह हाईटेक सेंटर पर राज्य स्तरीय नंबर के साथ सुविधा मिलना शुरू हो जाएगी। सेंटर पूरे सप्ताह और 24 घंटे संचालित रहेगा। इसके लिए आवश्यक चिकित्सक व स्टाफ की पृथक-पृथक पाली में ड्यूटी लगाई है। 24 घंटे एम्बुलेंस की सेवा भी उपलब्ध रहेगी। इसके माध्यम से जिले में निर्धारित कोविड संस्थाओं में रिक्त बैड की मॉनीटरिंग भी की जा रही है।

प्रदेशभर में कहीं से भी जिले में कॉल कर सकेंगे : कई बार जिले के आसपास व बाहर के लोगों को कोरोना कंट्रोल रूम से जानकारी लेने के लिए कॉल करने की जरूरत होती है। उन्हें नंबर याद नहीं रहता है या फिर किसी कारण से नंबर नहीं लग पाता है। अब वे प्रदेशभर में कहीं से भी जिले में कॉल करेंगे तो उनका नंबर तो सही होगा सिर्फ वहां का एसटीडी कोड के साथ लगाना पड़ेगा। जिनसे कहीं से भी व्यक्ति को कॉल करके जानकारी ले सकेगा। एसटीडी कोड नहीं लगता है तो फोन भोपाल जाएगा वहां से जिले के कंट्रोल सेंटर पर ट्रांसफर किया जाएगा।
रोज 250 से ज्यादा मरीजों की हो रही मॉनिटरिंग : वर्तमान में कोरोना कंट्रोल रूम से रोज 250 से ज्यादा मरीजों की मॉनिटरिंग की जा रही है। एक आयुष चिकित्सक समेत तीन शिफ्ट में 5-5 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाती है। प्रत्येक कर्मचारी द्वारा कॉल करके पिछले दिनों पॉजिटिव आए मरीज जो ठीक होकर चले या फिर होम आइसोलेट होकर उपचार ले रहे हैं उनकी स्वास्थ्य की जानकारी ली जाती है। अगर उनको कोई भी परेशानी होती है तो फिर संबंधित अधिकारियों को बताया जाता है।

^प्रदेशभर में कोरोना कंट्रोल रूम हाईटेक कर उसका एक ही कॉमन नंबर 1075 किया जाकर कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के रूप में स्थापित किया जा रहा है। जिला मुख्यालय का एसटीडी कोड (07422) के साथ कॉमन नंबर लगाने पर वहां के कंट्रोल रूम पर कॉल जाएगा और जानकारी मिल सकेगी। एक नंबर पर एक समय में चार से पांच लोग जुड़ सकते हैं। यह राज्य स्तरीय कनेक्टिविटी व्यवस्था शासन द्वारा ही की जा रही है। बाकी इसका कार्य पहले जैसा ही रहेगा। सिर्फ मॉनीटरिंग व मरीजों से चर्चा करने में और अधिक हाईटेक सुविधा हो जाएगी। डॉ. के.एल. राठौर, सीएमएचओ, मंदसौर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें