अच्छी खबर / जिला अस्पताल को मिली सेंट्रल ऑक्सीजन सिस्टम की सुविधा

जिला अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड में यहां तैयार होगी केयर यूनिट। जिला अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड में यहां तैयार होगी केयर यूनिट।
X
जिला अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड में यहां तैयार होगी केयर यूनिट।जिला अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड में यहां तैयार होगी केयर यूनिट।

  • कोरोना संक्रमण के बीच अच्छी खबर
  • 20 बेड के आईसीयू के लिए तैयार होगा ऑक्सीजन सिस्टम

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:55 AM IST

मंदसौर. कोरोना के कारण जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। संक्रमण को देखते हुए मप्र शासन ने 20 बेड का आईसीयू व सेंट्रल ऑक्सीजन सिस्टम के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी कर ली है। जिम्मेदारों द्वारा जिला अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड के एक हिस्से में सेंट्रल ऑक्सीजन सिस्टम व आईसीयू तैयार कराया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण के चलते मप्र शासन ने स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार की प्रक्रिया शुरू कर दी है। मप्र शासन ने स्वास्थ्य विभाग को 10 बेड का आइसोलेशन व 20 पाइंट का सेंट्रल ऑक्सीजन सिस्टम (इन्सेंटिव केयर यूनिट) लगाने के लिए टेंडर प्रक्रिया कर ली। मप्र शासन ने इसके लिए 7.35 लाख की लागत से इंदौर के आरके इंटरप्राइजेस को वर्क ऑर्डर दे दिया है। करीब एक सप्ताह पहले ठेकेदार के इंजीनियर व भोपाल के अधिकारियों ने जगह के लिए निरीक्षण किया। जिला प्रशासन कोरोना की स्थिति को देखते हुए इन्सेंटिव केयर यूनिट को रेवास देवड़ा रोड स्थित जीएनएम नर्सिंग ट्रेनिंग सेंटर (क्वारंटाइन सेंटर) पर लगाने का निर्णय लिया। शासन स्तर से आए अधिकारियों ने जगह को निरस्त कर दिया। उनका कहना था कि यह अस्थायी नहीं स्थायी रूप से लगाई जाना है। इसके बाद भी ने जिला अस्पताल के मेल मेडिकल वार्ड के एक हिस्से का चयन किया। अब इस वार्ड के एक हिस्से में इन्सेंटिव केयर यूनिट तैयार की जाएगी। इसमें 10 आईसीयू बेड व 20 बेड पर सेंट्रल ऑक्सीजन सिस्टम लगाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदारों के अनुसार तो साेमवार से ठेकेदार द्वारा काम शुरू कर दिया जाएगा। करीब आठ दिन में यह यूनिट बनकर तैयार होगी। 

रेफर केस में आएगी कमी
जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने बताया कि इस यूनिक का उपयोग अभी कोरोना की स्थिति को देखते हुए किया जाएगा। कोरोना खत्म होने के बाद जिला अस्पताल के पास 14 बेड का आईसीयू तैयार होगा। वर्तमान में आईसीयू में चार बैड लगे हैं। इन्सेंटिव केयर यूनिट में 10 आईसीयू बैड तैयार होंगे जबकि 20 पाइंट पर सेंट्रल ऑक्सीजन यूनिट लगेगी। इसके लिए स्टोर रूम में सेटअप व वाॅल लगेंगे। हर बेड के पास ऑक्सीजन का पाइंट लगेगा। इस यूनिट का बाद में हार्ट अटैक व अन्य गंभीर बीमार मरीजों के उपचार के लिए किया जा सकेगा। इससे निश्चित ही रेफरल केस में कमी आएगी।

डॉ महेश मालवीय, सीएमएचओ, मंदसाैर ने कहा- इंदौर की कंपनी को वर्क ऑर्डर दिया है
शासन स्तर के लिए इसके टेंडर हुए हैं। इंदौर की कंपनी को वर्क ऑर्डर दिया है। सोमवार से इसका काम शुरू हो जाएगा। करीब एक सप्ताह में इन्सेंटिव केयर यूनिट को तैयार कर लिया जाएगा। इससे कोरोना के बाद भी रेफर मामलों में कमी आएगी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना