पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पाक्सो एक्ट:मंदसौर जिले में सामूहिक दुष्कर्म के पांच दोषियों को मृत्यु होने तक कैद

मंदसौर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट जितेंद्र कुमार बाजोलिया ने मंगलवार को सीतामऊ थाना क्षेत्र के गांव हांदड़ी की नाबालिग छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म के पांच दोषियों को मृत्यु तक कैद की सजा सुनाई है।

उप संचालक अभियोजन बापूसिंह ठाकुर ने बताया हांंदड़ी की छात्रा मई 2018 को घर से 10वीं कक्षा का रिजल्ट लेने स्कूल गई थी, शाम तक नहीं लौटी। 18 मई को पीड़िता गंभीर स्थिति में मंदसौर शहर कोतवाली पहुंची। उसके कपड़े फटे हुए थे। छात्रा ने कोतवाली पर उपनिरीक्षक वंदना शाक्यवार को बताया कि दशरथ पुत्र प्रभुलाल मोंगिया व फूलसिंह पुत्र शांतिलाल दोनों निवासी हांदडी ने अपहरण कर कैलाश पुत्र जगदीश माली, राजू पुत्र दशरथ माली, राहुल पुत्र कन्हैयालाल राठौर तीनों निवासी लदूना को सौंप दिया था।

कैलाश, राजू व राहुल ने तीन दिन मदंसौर में खेत के पास ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। विशेष न्यायाधीश (पाक्सो एक्ट) ने दशरथ, फूलसिंह, कैलाश, राजू व राहुल को मृत्यु होने तक सजा सुनाई है। यह मंदसौर जिले का यह पहला मामला है, जिसमें नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में दोषियों को मृत्यु होने तक कैद सुनाई गई है।

खबरें और भी हैं...