पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आस्था पर रहेगा कोरोना का असर:घरों में मनेगी गुड़ीपड़वा, 13 से नवरात्रि तो 14 से रजमान

मंदसौर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अप्रैल में कई धार्मिक त्योहार आ रहे लेकिन सावधानी रखना होगी

कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज होने के बाद अब प्रशासन सख्त एक्शन ले सकता है। शुरूआत नाइट कर्फ्यू से हो गई है। कोरोना से लोगांे को बचाने के लिए सार्वजनिक आयोजनों की अनुमति नहीं दी जा रही है। 13 अप्रैल से नवरात्रि शुरू हो रही है। इसी दिन हिंदू नववर्ष याने गुड़ी पड़वा मनेगी। 20 अप्रैल को दुर्गाष्टमी, 21 को रामनवमी और 27 अप्रैल को हनुमान जयंती रहेगी।

इसी बीच 14 को आंबेडकर जयंती और 14 से रजमान शरीफ की शुरुआत होगी। इन सभी पर पिछले साल की तरह इस बार भी कोरोना का असर रहेगा। सभी आयोजन सादगीपूर्ण तरीके से कम लोगों की उपस्थिति में या घरों में होंगे।

अप्रैल में त्योहार ही त्योहार है। संक्रमण के चलते त्योहार सिमट रहे हैं। कोरोना के चलते प्रोटोकॉल बढ़ता जा रहा है। पिछले साल भी अप्रैल में सभी त्योहारों को संक्रमण देखते हुए शार्ट कर दिया था। सभी आयोजन सामाजिक स्तर पर न करते हुए कम लोगों की मौजूदगी में करने के निर्णय हुए थे। इस बार भी माहौल वही बन रहा है। अप्रैल में लॉकडाउन लगा था । इस बार लॉकडाउन नहीं है।

इधर, अग्रवाल समाज की महिलाओं ने मास्क पहन निकाली गणगौर की झेल

मंदसौर. अग्रवाल समाज की मातृशक्ति एवं युवतियों ने बुधवार को गणगौर की झेल निकाली। कोरोना संक्रमण के चलते पूरी सावधानी के साथ गोधूलि वेला में दशपुर कुंज उद्यान से गैर निकली। कोरोना प्रोटोकाल के तहत महिलाओं व युवतियों ने मुंह पर मास्क लगाए।

झेल में दूल्हा दुल्हन बनने वालों ने भी मुंह पर मास्क लगाकर गणगौर पर्व की शोभा बढ़ाई। महिलाओं व युवतियों ने दशपुर कुंज में ढोल की थाप पर नृत्य किया और गणगौर के झाले लिए। गणगौर की झेल में दूल्हा शुभि सिंहल एवं दुल्हन पहल सिंहल बनीं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें