पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना पाॅजिटिव:बिना लक्षण के पाॅजिटिव हैं तो होम आइसोलेशन, शर्त : 60 से कम उम्र, कोई गंभीर बीमारी नहीं, सेपरेट रूम व एक अटेंडेंट होना जरूरी

मंदसौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

यदि आप बिना लक्षण के कोरोना पाॅजिटिव हैं तो जिला प्रशासन ने स्थानीय स्तर पर होम आइसोलेशन की सुविधा दी है। शर्त यह है कि संक्रमित व्यक्ति की उम्र 60 वर्ष से कम हो, वह गंभीर बीमारी (शुगर, कैंसर, बीपी, पैरालिसिस आदि) से ग्रसित नहीं हो। सेपरेट रूम के साथ अटेंडेंट की उम्र 40 वर्ष से कम होनी चाहिए। 10 दिन होम आइसोलेशन व 7 दिन की क्वारेंटाइन अवधि के दौरान मरीज से दिन में दो बार डॉक्टरों द्वारा वीडियो कॉल पर स्वास्थ्य की जानकारी ली जाएगी। काेविड कंट्रोल एवं कमांड सेंटर के प्रभारी वैभवकुमार बैरागी ने बताया शासकीय एवं निजी कोविड केयर सेंटर पर असुविधाओं से बचने के लिए कोरोना संक्रमितों के लिए होम आइसोलेशन के सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। अब तक 370 मरीजों को होम आइसोलेशन की सुविधा दी गई है। इनमें से 131 मरीज स्वस्थ भी हो चुके हैं। फिलहाल 158 मरीज एक्टिव हैं जो होम आइसोलेट हैं। यदि सर्दी, खांसी, बुखार या सांस लेने में तकलीफ हो तो फीवर क्लिनिक पर जाकर जांच कराएं। 30 मिनट में रिपोर्ट पॉजिटिव-नेगेटिव प्राप्त हो जाती है। जिले में 2 सरकारी संस्थानों से कोरोना वायरस का उपचार किया जा रहा है। इसमें एक जीएनएमटीसी सेंटर रेवास-देवड़ा रोड एवं दूसरा जिला अस्पताल मंदसौर में इलाज किया जा रहा है। 17 फीवर क्लीनिक के अंतर्गत जिला अस्पताल मंदसौर, भावागढ़, धुंधड़का, पिपलियामंडी, मल्हारगढ़, नाहरगढ़, कयामपुर, सीतामऊ, सुवासरा, शामगढ़, गरोठ, भानपुरा, संधारा, गांधीसागर, संजीत, नारायणगढ़ एवं अमलावद में फीवर क्लीनिक प्रारंभ किए गए हैं। शनिवार को जिले में 25 नए कोरोना पॉजिटिव मिले है। रिपोर्ट रतलाम लैब और एंटीजन टेस्ट से मिली है।

तीसरे, पांचवें व दसवें दिन डॉक्टर
घर पर ही चेकअप के लिए जाते हैं

बैरागी ने बताया होम आइसोलेट के दौरान मरीज को 10 दिन आइसोलेट रहना पड़ता है। स्वस्थ होने के बाद 7 दिन क्वारेंटाइन रहने की हिदायत दी जाती है। मरीज के घर तीसरे, पांचवें व दसवें दिन डॉक्टर चेकअप के लिए जाते हैं। टीम 10 मास्क के साथ दवाइयां देती है। वहीं बायोवेस्ट के लिए पाॅली बैग देती है। इसे लेने के लिए जिला अस्पताल से कचरा वाहन जाता है। मरीज को पल्स ऑक्सीमीटर, डिजिटल थर्मामीटर की व्यवस्था खुद करनी होगी। होम आइसोलेट मरीज को दिन में दो बार वीडियो कॉल के माध्यम से डॉक्टर को टेम्प्रेचर एवं ऑक्सीजन सेचुरेशन देना होगा। मरीज को लक्षण आने पर जिला अस्पताल के कोविड-19 आइसोलेशन वार्ड, आईसीयू में या जीएनएमटीसी में शिफ्ट किया जा सकेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज किसी समाज सेवी संस्था अथवा किसी प्रिय मित्र की सहायता में समय व्यतीत होगा। धार्मिक तथा आध्यात्मिक कामों में भी आपकी रुचि रहेगी। युवा वर्ग अपनी मेहनत के अनुरूप शुभ परिणाम हासिल करेंगे। तथा ...

और पढ़ें