महिला की आंखों के सामने झुलसे पति-बेटी:6 महीने की बेटी को सीने से लगाकर पेड़ के नीचे खड़ा था पिता, अचानक गिरी बिजली और दोनों ने तोड़ दिया दम

मंदसौर2 महीने पहले

मंदसौर में एक हृदयविदारक घटना सामने आई है। यहां महिला की आंखों के सामने पति और बेटी पर बिजली गिरी और दोनों की मौत हो गई। परिवार खेत में काम कर रहा था। बारिश से बचने के लिए पिता बेटी को गोद में लेकर एक पेड़ के नीचे खड़ा हो गया। इसी दौरान अचानक बिजली गिरी और दोनों चपेट में आ गए। तब पत्नी कुछ ही दूरी पर खेत पर काम कर रही थी।

जानकारी के अनुसार, घटना नारायणगढ़ थाना क्षेत्र के काचरिया कदमाला गांव में हुई। यहां रणायरा का रहने वाला 29 साल का कमल बंजारा मंगलवार शाम को अपनी पत्नी और 6 महीने की बेटी को लेकर खेत गया था। काम के दौरान कमल ने अपनी बेटी को खेत में ही सुला दिया था।

पति-पत्नी सोयाबीन काटने में जुटे थे। इसी दौरान अचानक शाम करीब 5 बजे बारिश शुरू हो गई। बेटी को बचाने के लिए कमल दौड़कर आया और उसे गोद में उठाकर पेड़ के नीचे खड़ा हो गया। इसी दौरान पेड़ पर आकाशीय बिजली गिरी जिससे दोनों की झुलस कर मौत हो गई। परिवार में उसके माता-पिता और पत्नी है। सभी मजदूरी कर गुजर-बसर करते हैं।

दो और की भी गई जान
मुल्तानपुरा चौकी क्षेत्र के धारियाखेड़ी गांव में भी आकाशीय बिजली की चपेट में आने से सचिन (17) की मौत हो गई। वहीं, मजदूरी करने आए उसके पिता दिनेश सांवलिया घायल हो गए। तीसरी घटना शामगढ़ के रूपारेल गांव की है, जहां रघुराम मीणा (17) की मौत हुई है।

पांच दिनों में छह घरों के बुझे चिराग
बता दें कि बिजली गिरने की अलग-अलग घटनाओं ने पिछले 5 दिनों में छह घरों के चिरागों को बुझा दिया है। 25 सितंबर की रात बिजली गिरने से अफजलपुर थाना क्षेत्र के ग्राम चिपलाना के ईश्वरलाल की जान चली गई थी। वहीं, नारायणगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम हरसोला में दीपक सोनगरा भी बिजली की चपेट में आ गया था। हादसे के वक्त सभी मृतक खेत पर काम कर रहे थे।

खबरें और भी हैं...