पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

काेराेना इफेक्ट:सावन में भक्तों से दूर रहेंगे पशुपतिनाथ, शाही सवारी पर भी संशय

मंदसौरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गर्भगृह में प्रवेश रहेगा प्रतिबंधित, नहीं हाेंगे अायाेजन, सोशल डिस्टेंसिंग का करना होगा पालन
Advertisement
Advertisement

कोरोना संक्रमण के चलते इस बार सावन मास में भगवान पशुपतिनाथ से भक्तों को दूर रहना होगा। भक्तों को गर्भगृह में प्रवेश नहीं किया जाएगा। वहीं 23 साल मेें पहला मौका है जब सावन माह में कावड़ यात्री नहीं आएंगे। शाही पालकी व शाही सवारी आयोजन पर भी संशय बना हुआ है। हालांकि प्रशासन ने अभी कोई निर्णय नहीं लिया है व प्रात: कालीन आरती मंडल प्रशासन से चर्चा कर आयोजन का निर्णय लेगा। दो दिन में जिला प्रशासन बैठक लेगा।
5 जुलाई से सावन माह शुरू होने वाला है। इसमें भगवान शिव की भक्ति का विशेष महत्व रहता है। कोरोना संक्रमण के चलते पहला मौका होगा जब भक्तों को भगवान से दूर रहना होगा। पशुपतिनाथ मंदिर में सावन माह की तैयारियों को लेकर कलेक्टर मनोज पुष्प दो दिन में प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक लेने की बात कह रहे हैं। इसमें वह सुरक्षा व अन्य व्यवस्था पर चर्चा कर उचित निर्णय लेंगे। उन्होंने यह भी साफ कर दिया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए भक्तों को गर्भगृह में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। वर्तमान में जो पूजा-पाठ पुजारी कर रहे हैं वही व्यवस्था लागू रहेगी। मंदिर में अभी की तरह लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग व कोविड के नियमों का पालन करना होगा। वहीं कावड़ यात्रियों को भी जलाभिषेक की अनुमति नहीं रहेगी।
प्रात: कालीन आरती मंडल ने की बैठक, बोले : हम प्रशासन के साथ
कोरोना के चलते सावन माह में पशुपतिनाथ मंदिर की शाही सवारी आयोजन पर चर्चा के लिए प्रात: कालीन आरती मंडल ने बैठक बुलाई। बैठक में समिति सदस्यों ने प्रशासन ने अनुमति लेने व चर्चा करने के बाद ही आयोजन करने का निर्णय लिया। मंडल अध्यक्ष दिलीप शर्मा ने बताया कि हम प्रशासन के साथ हैं। जो प्रशासन निर्णय लेगा उसके अनुसार काम किया जाएगा। आयोजन की अनुमति नहीं मिलती है तो परम्परा को जारी रखने के लिए मंदिर में पूजन सामग्री देकर पंडितजी से पूजा-अभिषेक कराया जाएगा। हर बार की तरह सुबह पाठ होंगे। अनुमति नहीं मिलती है तो 23 साल में पहला मौका होगा जब शाही सवारी नहीं निकाली जाएगी। दो चार दिन में प्रशासन से चर्चा कर स्थिति स्पष्ट की जाएगी। 

हम एक-दो दिन में ही बैठक करने वाले हैं
हम लोग एक-दो दिन में बैठक करने वाले हैं। मंदिर में ऐसे सभी आयोजन पर प्रतिबंधित रहेगा जिससे भीड़ होती है। मंदिर में पूजा-पाठ वर्तमान स्थिति की तरह रहेगा। वहीं व्यवस्था जारी रहेगी। मंदिर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराते हुए दर्शन की व्यवस्था रहेंगी।
मनोज पुष्प, कलेक्टर एवं अध्यक्ष पशुपतिनाथ मंदिर समिति

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement