पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एम्बुलेंस संचालकों की दादागिरी:निजी एम्बुलेंस ड्राइवर ने प्रीपेड बूथ के कर्मचारी से किया विवाद, वहां रखा रजिस्टर छीनने का प्रयास

मंदसौर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रशासन की सख्ती के बाद भी निजी एम्बुलेंस संचालकों की दादागिरी नहीं थम रही है। एम्बुलेंस ड्राइवर प्रीपेड बूथ के कर्मचारियों से विवाद कर रहे हैं। शनिवार रात को एक चालक ने बूथ कर्मचारी गौतम भावसार से साथ विवाद किया। बुकिंग रजिस्टर भी छीनने का प्रयास किया। कर्मचारी ने रविवार सुबह तहसीलदार मुकेश सोनी के पास शिकायत दर्ज कराई।

शनिवार को एम्बुलेंस चालक मनोज सालवी ने स्टेडियम मार्केट में प्रीपेड बूथ पर बैठे कर्मचारी गौतम भावसार के साथ विवाद कर लिया। दोनों के मध्य हाथापाई, गाली-गलौच भी हुई व एम्बुलेंस चालक ने बूथ का रजिस्टर छीनने का प्रयास भी किया। गौतम भावसार ने बताया कि काउंटर पर रजिस्टर रखा है जिसमें एम्बुलेंस वालों के आने व जाने की जानकारी दर्ज की जाती है। ऐसे में एम्बुलेंस चालक अपने नंबर की जानकारी लेने बूथ पर आते रहते हैं व रजिस्टर चेक करते रहते हैं। शनिवार रात को मनोज सालवी व उसके साथ अंकित जोशी बूथ पर आए।

रजिस्टर में उनकी एम्बुलेंस के आगे लिखा हुआ था कि बिना जानकारी के वाहन स्टैंड से गायब रहा। यह नोट देखकर चालक मनोज भड़क गया। गौतम ने बताया कि यह नोट उससे पहले जिसकी ड्यूटी होगी उसने लिखा है। उसे इसके बारे में जानकारी नहीं है। गौतम ने समझाने का प्रयास किया कि जिसने नोट लिखा उससे जानकारी लेना। लेकिन चालक नहीं माना। गौतम से विवाद करने लगा।

दोनों के मध्य जमकर बहस हुई व चालक ने रजिस्टर छीनने का प्रयास भी किया। आसपास के चालकों व अन्य कर्मचारियों ने विवाद खत्म कराया। कर्मचारी गौतम ने रविवार सुबह तहसीलदार मुकेश सोनी के पास चालक व उसके सहयोगी की शिकायत दर्ज कराई। तहसीलदार मुकेश सोनी ने बताया कि चालक को बुलाया है। दोनों के मध्य चर्चा कराकर समझौते का प्रयास करेंगे। यदि समाधान नहीं होता है तो कर्मचारी के माध्यम से थाने पर शिकायत दर्ज कराएंगे व चालक एवं सहयोगी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...