खतरा अभी टला नहीं:जम्मू -कश्मीर से आई पॉजिटिव के घर पहुंची टीम, 20 लाेगाें के सैंपल लिए

मंदसौर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शनिवार को पॉजिटिव के घर व आसपास पहुंची टीम, लिए सैंपल। - Dainik Bhaskar
शनिवार को पॉजिटिव के घर व आसपास पहुंची टीम, लिए सैंपल।
  • 45 दिन बाद शहर में संक्रमित मिलने पर प्रशासन अलर्ट मोड पर, टीम की निगरानी में रहेगी महिला

जिले लंबे समय बाद कोरोना पॉजिटिव ने खतरे की घंटी बजा दी है। हालांकि प्रशासन अलर्ट मोड पर है। शनिवार सुबह स्वास्थ्य विभाग व प्रशासन की टीम पॉजिटिव महिला के घर पहुंची। यहां उनके परिवारजन के साथ प्रशासन ने आसपास के करीब 20 लोगों के सैंपल लिए। अभी महिला को हाेम क्वारेंटाइन ही रखा है।

देशभर में विशेषज्ञ पहले ही अगस्त अंत व सितंबर में फिर से कोरोना संक्रमण का खतरा बता रहे हैं। शहर में करीब 44 दिन बाद जम्मू -कश्मीर से आई महिला के पॉजिटिव मिलने पर इसे खतरे की शुरुआत समझा जा सकता है। अब भी लोग नहीं संभले तो आने वाले समय में स्थिति भयावह हो सकती है। हालांकि पहले पॉजिटिव पर ही प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया है। शुक्रवार देर रात महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही शनिवार सुबह स्वास्थ्य विभाग की टीम व प्रशासनिक अमला नरसिंहपुरा अखाड़ा के पास राजविहार कॉलोनी पहुंच गया। यहां स्वास्थ्य विभाग की टीम ने महिला का स्वास्थ्य चेकअप किया एवं परिवार के चार सदस्यों के सैंपल लिए। अच्छी बात यह है कि महिला जम्मू-कश्मीर से आने के बाद कहीं नहीं निकली। किसी से संपर्क नहीं किया। इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एहतियात के तौर पर महिला के आसपास के करीब 20 लोगों के सैंपल लिए हैं। संभावना जताई जा रही है कि या तो महिला जम्मू-कश्मीर से या सफर के दौरान संक्रमण साथ लाई।

राखी पर्व पर आने-जाने में रखना होगी सावधानी

जिले में 44 दिन से कोई पॉजिटिव नहीं मिला था। ऐसे में जिले को संक्रमण मुक्त कहा जा सकता है। जिस तरह महिला बाहर से संक्रमण लेकर आई, इसी तरह जिले में फिर संक्रमण का खतरा हाे गया है। अब रक्षाबंधन पर्व आने वाला है। इस दौरान हजारों लोग बाहर जाएंगे, हजारों बहनें बाहर से मंदसौर आएंगी। ऐसे में संक्रमण तेज होने की आशंका रहेगी। रक्षाबंधन पर सफर के दौरान आप सावधान रहें, किसी भी तरह की लापरवाही शहर को फिर लॉकडाउन की तरफ धकेल सकती है।

सैंपलिंग बढ़ाने के भी निर्देश

तहसीलदार मुकेश सोनी ने बताया कि पॉजिटिव के आते ही हमने जमीनी अमले को सतर्क कर दिया है। सैंपलिंग बढ़ाने के भी निर्देश जारी कर दिए हैं। वहीं रक्षाबंधन को देखते हुए बस स्टैंड व रेलवे स्टेशन पर भी सैंपलिंग एवं सतर्कता बढ़ाई जाएगी।

बाहर से आने वाले क्वारेंटाइन रहें

तहसीलदार सोनी ने कहा है जो भी व्यक्ति बारह से आता है वह 5 से 7 दिन होम क्वारेंटाइन रहे। बहुत जरूरी होने पर घर के बाहर निकले व मास्क एवं सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखे। स्वास्थ्य खराब होने पर तत्काल चेकअप कराए।

खबरें और भी हैं...