पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जहरीली झिंझर शराब:7 मेडिकल स्टोर्स पर प्रशासन ने स्प्रिट का स्टॉक चेक किया

नीमच14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • उज्जैन की घटना के बाद सीएम के आदेश पर कलेक्टर ने जांच टीम गठित की

उज्जैन में जहरीली झिंझर शराब पीने से 14 लोगों की मौत के बाद मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी कलेक्टर को मेडिकल स्टोर्स पर स्प्रिट का स्टॉक चेक करने के आदेश दिए। कलेक्टर जितेंद्रसिंह राजे ने चार विभागों के अधिकारियों की जांच टीम का गठन किया। इस टीम ने शुक्रवार को शहर के प्रमुख मेडिकल स्टोर्स व होलसेल विक्रेताओं के यहां पहुंचकर जांच की। जिला आबकारी अधिकारी अनिल सचान ने बताया कि मेडिकल कल पर सर्जिकल व मेडिकल स्प्रिट का विक्रय होता है। उज्जैन की घटना मेडिकल स्प्रिट का उपयोग करने के कारण हुई है। इसके बाद कलेक्टर के निर्देश मिलते ही जिला अस्पताल, वीर पार्क रोड सहित अन्य स्थानों पर प्रमुख 7 मेडिकल स्टोर्स पर टीम जांच करने पहुंची। संचालक से मेडिकल स्प्रिट के स्टॉक की जानकारी लेने के साथ रिकॉर्ड चेक किया। जो सर्जिकल हॉस्पिटल है वहां संचालित मेडिकल स्टोर्स पर भी जांच की। सभी के यहां सीमित संख्या में मेडिकल स्प्रिट मिली। टीम में नायब तहसीलदार प्रशस्तिसिंह, कैंट थाने के एसआई शब्बी मेव सहित अन्य अधिकारी थे। जिले में 90 मेडिकल स्टोर्स, सभी की होगी जांच- आबकारी अधिकारी सचान ने बताया कि जिले में छोटे-बड़े 90 मेडिकल स्टोर्स के लाइसेंस हैं। शासन के आदेश पर जांच अभियान शुरू किया है। इसमें सभी मेडिकल स्टोर्स पर मेडिकल स्प्रिट की जांच की जाएगी। नीमच व मनासा में दवाइयों के होलसेल विक्रेता है। इनके यहां भी स्टॉक व रिकॉर्ड की जांच की जाएगी।

कलेक्टर के आदेश पर मेडिकल स्टोर्स की जांच शुरू की है। इसके लिए टीम बनाई है। शहर के बाद ग्रामीण क्षेत्रों के मेडिकल स्टोर्स की जांच कर मेडिकल स्प्रिट का स्टॉक चेक किया जाएगा। जिस स्टोर्स पर लापरवाही सामने आएगी उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अनिल सचान, जिला आबकारी अधिकारी, नीमच

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें