पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना में अब और राहत:हमारे जिले में आज आएगी कोरोना की को-वैक्सीन

नीमच24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अफसर बोले-दोनों वैक्सीन सुरक्षित, वीसी से मिली नई वैक्सीन की जानकारी

भारत में बनी कोरोना की दूसरी वैक्सीन को-वैक्सीन से भी हमारे यहां टीकाकरण होगा। अभी कोविशील्ड वैक्सीन के टीके लगाए जा रहा है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एमएल मालवीय ने बताया गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान ये जानकारी दी गई।

जिले में को-वैक्सीन के लगभग 4 हजार से ज्यादा डोज आ सकते है। अधिकारियों ने बताया भारत में बनी दोनों ही वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है। कोविशील्ड का टीका जिले के 3390 स्वास्थ्यकर्मियों को लगाया जा चुका है। इनमें से किसी को भी कोई परेशानी नहीं आई।

वहीं को-वैक्सीन का टीका भी देश के अन्य राज्यों में लगाया है। इससे से भी किसी को कोई परेशानी नहीं आई। अधिकारियों ने बताया अब जिलों में भारत में बनी कोरोना की दोनों वैक्सीन के टीके लगाए जाएंगे। 8 फरवरी को फ्रंट लाइन वर्करों (पुलिस, राजस्व सहित अन्य विभागों के अधिकारी, कर्मचारी) को टीका लगाया जाएगा। जिनकी संख्या करीब 5 हजार है।

साइट तय, टीमों को सौंपी जिम्मेदारी
दूसरे चरण में होने वाले टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कुछ प्रमुख टीकाकरण स्थल का चयन कर लिया है। साथ ही वहां टीका लगाने वाली टीमों को जिम्मेदारी भी सौंपी दी गई। इसमें भी शुरूआत में अभी केंद्रों की संख्या कम रहेगी। इसके बाद कर्मचारियों की रूचि और वैक्सीन डोज की उपलब्धता के अनुसार केंद्रों की संख्या बढ़ाई जाएगी।

जानिए... दोनों वैक्सीन में क्या अंतर है

कोविशील्ड

  • वैक्सीन एडिनोवायरस निष्क्रिय करके विकसित की गई है।
  • फैक्ट शीट के अनुसार कंपनी ने 18 साल या उससे अधिक उम्र वाले लोगों के लिए आपात स्थित में सीमित प्रयोग के साथ लगाने की अनुमति दी।
  • कोविशील्ड वैक्सीन के एक वायल में 10 लोगों को टीका लगाया जा सकता है।
  • इस वैक्सीन को सेंट्रल ड्रग लाइसेंस अथॉरिटी से सीमित प्रयोग के लिए आपात स्थिति में इस्तेमाल की मंजूरी मिली है।

को-वैक्सीन

  • इसे काेविड 19 को निष्क्रिय करके तैयार किया गया है।
  • इस वैक्सीन में उम्र सीमा के बारे में कंपनी द्वारा जारी फैक्ट शीड में कोई जानकारी नहीं दी गई है।
  • वैक्सीन के एक वायल में 20 लोगों को टीका लगाया जाएगा।
  • सेंट्रल ड्रग लाइसेंस अथॉरिटी ने को-वैक्सीन को क्लीनिकल ट्रायल मोड में सीमित इस्तेमाल की मंजूरी दी है। भारत सरकार ने जिन लोगों को वैक्सीनेशन के प्रायोरिटी ग्रुप्स में रखा है, उन्हें वैक्सीन लगाई जा रही है।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें