पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बारिश का इंतजार:बारिश की खेंच से बर्बादी कि कगार पर पहुंची फसलें

नीमच8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भादवामाता क्षेत्र में बारिश नहीं होने से बीच अंकुरित ही नहीं हो पाए। - Dainik Bhaskar
भादवामाता क्षेत्र में बारिश नहीं होने से बीच अंकुरित ही नहीं हो पाए।

क्षेत्र में पिछले कई दिनों से बारिश नहीं होने से खरीफ कि मक्का, सोयाबीन, ज्वार सहित अन्य फसलें बर्बादी की कगार पर पहुंच चुकी है। किसानों के अरमानों पर पानी फिर रहा है। महंगे भाव सोयाबीन सहित अन्य बीज एवं खाद खरीद कर किसानों ने 25 दिन पूर्व फसल बोवनी का कार्य किया। तब से अब तक पर्याप्त बारिश नहीं होने से फसलें सुखने लगी है।

क्षेत्र में कई किसानों ने तो दोबारा बोवनी की पर वह भी पानी के अभाव में या तो उगी ही नहीं है या कम मात्रा में उगने से खेत खाली-खाली दिख रहे है। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई है। बारिश के लिए किसानों ने उज्जमनी कर खेड़ा देवता का पुजन-अर्चन, धार्मिक अनुष्ठान सहित कई जतन किए। फिर भी बारिश नहीं हुई। किसान राजेश व्यास, कंवरलाल पंचौली, प्रकाश नागदा ने बताया है कि महंगे भाव में बीज व खाद लाकर बोवनी कि लेकिन पानी की कमी से फसलें बर्बादी की कगार पर पहुंच चुकी है। एक-दो दिन में बारिश नही हुई तो सभी फसलें चौपट हो जाएंगी।

खबरें और भी हैं...