पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनलॉक की तैयारी:एक दिन के लिए बढ़ा कर्फ्यू अब 1 जून से ही मिलेगी राहत

नीमच19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिले की संक्रमण दर घटने के साथ ही कोविड आइसोलेशन के बेड भी खाली होने लगे हैै। - Dainik Bhaskar
जिले की संक्रमण दर घटने के साथ ही कोविड आइसोलेशन के बेड भी खाली होने लगे हैै।
  • क्या खोलें-क्या बंद रखें, संकट प्रबंधन समूह की बैठक में आज होगा निर्णय

व्यापारी हो या आमजन सभी काे लॉकडाउन खत्म होने का बेसब्री से इंतजार हैं। अभी 31 मई को सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू था जिसे एक दिन बढ़ाकर 1 जून की सुबह 6 बजे तक कर दिया है। इसके बाद ही छूट मिलेगी। जिले में शनिवार की स्थिति में कोरोना संक्रमण की साप्ताहिक दर 2.20% रही। रविवार को कलेक्टोरेट में दोपहर 4 बजे जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की बैठक होगी। जिसमें 1 जून से सब्जी, किराना, फल बाजार 6 घंटे के लिए खोलने व अन्य दुकानदारों को सिर्फ होम डिलीवरी की सुविधा प्रदान करने की छूट देने पर निर्णय लिया जा सकता है। शादी समारोह व अन्य आयोजनों से प्रतिबंध हटाकर अब 20 लोगों के साथ करने की अनुमति दी जा सकेगी। अभी पूरी तरह बाजार नहीं खोला जाएगा क्योंकि इसका मुख्य कारण यह हैं कि अभी भी जिले में 257 एक्टिव केस हैं। 8 दिन में 5 हजार 788 की जांच में 142 मिले- पिछले 8 दिन के दौरान जिले भर में 5 हजार 788 लोगों का कोरोना टेस्ट के बाद उनमें से मात्र 142 ही पॉजिटिव मिले। जिसके अनुसार जिले की साप्ताहिक संक्रमण 2.20% रही है। यानी अब जिले में संक्रमण कम और रिकवरी रेट ज्यादा बढ़ रहा है। 5% प्रतिशत से कम संक्रमण दर होने से राहत मिलने की संभावना ज्यादा बढ़ गई है।

इन सुझावों पर होगा विचार... इसके बाद मिल सकेगी कर्फ्यू में छूट

  • जिले की सभी सीमा पर आने जाने वालों से पूछताछ होती रहे।
  • रविवार को साप्ताहिक लॉकडाउन किया जाए। बाजारों में रविवार साप्ताहिक अवकाश भी रहता है।
  • सब्जी मंडी हर दिन खुले। समय दोपहर 12 बजे तक करें। मंडी में भीड़ एकत्रित न हो।
  • किराना बाजार सप्ताह में 6 दिन खोले जा सकते है। समय सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक रखें।
  • बाजार में मास्क-सोशल डिस्टेंस का सख्ती से पालन कराया जाए।

फिर न बिगड़ें हालात, इसलिए रहें सतर्क
कोरोना की दर जबकि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में मार्च और अप्रैल जिलेवासियों के लिए बेहद खौफनाक साबित हुए हैं। अकेले अप्रैल में 2805 मरीज कोरोना से संक्रमित पाए गए थे। यही नहीं अप्रैल व मई में अब तक शासकीय सरकारी रिकॉर्ड में सबसे ज्यादा 45 कोरोना पीड़ित मरीजों की मौतें हुई।

अप्रैल में चिताएं जलाने के लिए इंतजार करना पड़ रहा था, वहीं बेड तक नहीं मिल रहे थे। ऐसे हालात जिले में फिर से ना बनें इसके लिए 1 जून से शुरू होने वाली चरणबद्ध अनलॉक की संभावित प्रक्रिया तक एहतियात बरतने की जरूरत है।

अभी पूरी तरह से नहीं खुल सकेगा बाजार

31 मई तक के कोरोना कर्फ्यू को बढा़कर 1 जून सुबह 6 बजे तक कर दिया है। रविवार को जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समूह की बैठक होगी। जिसमें प्रदेश स्तर से जारी निर्देशों के आधार पर जिले में छूट देने का निर्णय लिया जाएगा। यह जरूर स्पष्ट है कि अभी पूरी तरह बाजार नहीं खुलेगा।-सुनील राज नायर, एडीएम, नीमच

खबरें और भी हैं...