पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मकर संक्रांति कल:चारा सड़कों पर ना डालें, गोशाला में रसीद कटाकर करें दान

नीमच4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गोशाला के गोवंश के भोजन-पानी की अन्य दिनों के लिए व्यवस्था भी हो जाएगी और शहर में गंदगी भी नहीं होगी

मकर संक्रांति पर्व पर लोग जहां गाय दिखी वहीं सड़कों पर चारा खिलाने के लिए डाल देते हैं। गोवंश इतना चारा नहीं खा पाता इससे सड़कों पर गंदगी होती है। गोशाला संचालन समितियों ने मकर संक्रांति पर सड़कों पर चारा डालने की बजाए रसीद कटवाने का आग्रह किया है। इससे गोवंश के भोजन-पानी की अन्य दिनों की व्यवस्था हो जाएगी और शहर में गंदगी भी नहीं होगी। गायत्री परिवार भाटखेड़ा में श्रीमद् भागवत गोशाला संचालित करता है। यहां करीब 380 गोवंश है। समिति अध्यक्ष प्रभुलाल धाकड़ ने बताया लोग जिस पुण्य भाव से गोवंश का चारा डालते हैं। उसके लिए सड़कों पर चारा नहीं डालना चाहिए, ;इसकी जगह लोग गोशालाओ मे जाकर चारा निमित्त राशि दान करें, जिससे गोवंश के लिए वर्षभर की भोजन व्यवस्था में काम आ सके। उन्होंने बताया कि इस साल हम गोदान को लेकर लोगों को प्रेरित कर रहे हैं, ताकि गोशाला में पलने वाली गाय के लिए निर्धारित या श्रद्धानुसार राशि देकर गोदानी बने। श्रद्धानुसार चारा-पानी के लिए राशि दे। मकर संक्रांति पर चारा सड़कों पर डालने की जगह गायत्री मंदिर परिसर स्थित साहित्य स्टाॅल, चौकन्ना बालाजी चौराहा चारा केंद्र या गोशाला पहुंचकर चारा सहयोग राशि की रसीद कटवा सकते हैं।

चारा बेकार नहीं होगा: गोभक्तों द्वारा नयागांव में सांवलिया महावीर गोरक्षा केंद्र गोशाला संचालित की जाती है। गोशाला समिति सह-सचिव व गोसंरक्षक सोहनलाल छाजेड़ ने कहा कि सड़कों पर चारा डालने से वह सड़कों पर बिखरता रहता है। मकर संक्रांति पर पुण्य कार्य करने के लिए चारा दान के लिए रसीद कटवाए और पुण्य के भागी बने। इससे अन्य दिनों के लिए गोवंश के भोजन की व्यवस्था हो जाएगी। चारा भी बेकार नहीं होगा और सड़कों पर गंदगी नहीं फैलेंगी। छाजेड़ ने बताया कि शहर में टैगोर मार्ग पर नागरिक फर्नीचर व कमल चौक स्थित साड़ी सेंटर पर मकर संक्रांति पर चारा दान राशि के लिए रसीद काटने के व्यवस्था रहेगी।

जानिए, संक्रांति पर किस राशि वाले गाय काे क्या खिलाएं

{मेष: गाय को गुड़ की भेली (ढेली) {वृषभ: गाय को पके मीठे चावल {मिथुन: गाय को हरा चारा {कर्क: गाय को दूध और चीनी मिलाकर चावल {सिंह: गाय को गेहूं-गुड़ की लाप्सी { कन्या: गाय को हरा चारा एवं भीगी मूंग व हरे चने {तुला: पके हुए चावल शुद्ध घी {वृश्चिक: गाय को गुड़ {धनु : भीगी चने की दाल, दो केले {मकर : काली गाय को उड़द की खिचड़ी या भीगी उड़द की दाल {कुंभ: काली गाय को उड़द की खिचड़ी, भीगी उड़द की दाल {मीन: गाय को भीगी चने की दाल, बेसन से बनी सामग्री, घी से चुपड़ी दो रोटी पर गुड़ रखकर​​​​​​​

इस बार दान में करें कुछ नया

लोग संक्रांति पर चारे की जगह गुड़, खली, कपास्या का दान कर सकते हैं। यह सूखा होने से इसे गायें बाद भी खा सकेंगी। गोपाल गोशाला समिति रतलाम के प्रबंधक देवेंद्रसिंह चौहान ने बताया कई गायें ज्यादा मात्रा में चारा खा लेती हैं। इससे उनके बीमार होने का भी डर रहता है। इससे लोग इस दिन चाहे तो हरे चारे की जगह सूखी वस्तु जैसे खली, कपासिया और गुड़ का दान कर सकते हैं। ​​​​​​​

खिलाएं रोटी-जलेबी

ज्योतिषाचार्य पं. गोविंद उपाध्याय ने बताया कि मकर संक्रांति पर विशेष रूप से तिल व गुड़ का दान किया जाता है। गोवंश को हरा चारा, गुड़, लाप्सी खिलाना चाहिए। साथ ही राशि के अनुसार भी निर्धारित सामग्री गोवंश को खिलाएंगे तो विशेष लाभ होगा। पक्षियों को भी अनाज डालें। पं. उपाध्याय ने बताया कि कुत्तों को रोटी व जलेबी खिलावें। मंदिरों में देवदर्शन करते हुए विभिन्न प्रकार की सामग्री दान करें।​​​​​​​

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser