पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आक्रोश:मनासा में पेयजल वितरण व्यवस्था गड़बड़ाई, तीन दिन में मिल रहा पानी, लोगांे में आक्रोश

नीमच12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिम्मेदार बोले, चंबलेश्वर बांध में पानी की कमी होने से आ रही समस्या

नगर की जनता को पिछले 15 दिनों से दो दिन छोड़कर तीसरे दिन पानी सप्लाई हो रहा है। जिसके चलते जनता पीने के पानी की समस्या से जूझ रही है। नगर में तीसरे दिन पानी सप्लाय होने के पीछे परिषद के जिम्मेदारों का कहना हैं कि चंबलेश्वर बांध में पानी की कमी होने से समस्या आ रही है। चंबलेश्वर बांध में 20 दिन का पानी बचा है। इसके बाद अगर अच्छी बारिश नहीं होती हैं तो नगर की जनता को पानी की दिक्कत हो सकती है। अभी परिषद द्वारा नगर तक पानी पहुंचाने के लिए इंटकवेल तक नाली बनाकर पानी पहुंचाने की बात कहीं जा रही है। वही दूसरी ओर चंबलेश्वर बांध से गंगा बावडी पेयजल समुह योजना के तहत 29 गांवों को प्रतिदिन पानी सप्लाई हो रहा है। तीसरे दिन पानी मिलने से नगर की जनता में परिषद के खिलाफ आक्रोश है। नगर की 35 हजार जनता को तीसरे दिन पानी मिल पा रहा है। इससे पहले एक दिन छोड़कर पानी मिल रहा था लेकिन पिछले एक पखवाड़े से नगर मे पेयजल व्यवस्था पूरी तरह से गड़बड़ा गई है। ऐसे में लोगों को पानी की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। बड़े परिवारों को तो पानी के टैंकर डलवाना पड़ रहे हैं। मनासा क्षेत्र में सबसे कम बारिश हुई है। चंबलेश्वर बांध से नगर की जनता को पानी मिल रहा हैं। वही नगर में तीसरे दिन पेयजल प्रदाय होने की व्यवस्था को लेकर परिषद के जिम्मेदारों का कहना हैं कि चंबलेश्वर बांध में पानी की कमी हो गई है। वही बारिश के यही हालात बने रहे तो 20 दिन बाद नगर में पानी की समस्या ओर भी बढ़ सकती है। इंटकवेल तक नाली बनाकर पहुंचा रहे पानी- परिषद् के अधिकारियों एवं जलप्रदाय शाखा प्रभारी का कहना हैं कि चंबलेश्वर बांध में पानी की कमी के कारण अभी नगर में पानी पहुंचाने के लिए नाली खोदकर पानी इंटकवेल में डालने की व्यवस्था की जा रही है। 20 दिन तक बारिश नहीं होती हैं तो ऐसे मे नगर मे जल संकट गहरा सकता है। 29 गांवों में प्रतिदिन पहुंच रहा पौने चार लाख लीटर पानी- एक तरह जहां नगर परिषद के जिम्मेदारों द्वारा चंबलेश्वर बांध में पानी कम होने की बात कही जा रही है। वही दूसरी ओर उसी चंबलेश्वर बांध से 29 गांवों में प्रति दिन 3.6 से 3.7 एमएलडी यानि 3.70 लाख लीटर पानी प्रतिदिन पहुंच रहा है। पाइप लाइन में मिट्टी, गिट्टी में फंसने की बात कहीं थी- नगर में पहले एक दिन छोड़कर पानी सप्लाई हो रहा था लेकिन कुछ दिनों से नगर की जनता को दूसरे दिन पानी मिलना बंद हो गया। जिसको लेकर नगर की जनता ने नगर परिषद हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज करवाई थी। जिस पर जवाबदारों का कहना था कि चंबलेश्वर बांध पर पाइपलाइन में मिटटी, रेती व गिट्टी भरने से समस्या आ रही है। पाइप लाइन से गिट्टी व मिटटी निकालकर व्यवस्था को सुधारने की बात कही थी लेकिन अब बांध में पानी कम होने की बात कहीं जा रही है।

पहले सफाई का बोला, अब पानी की कमी की बोल रहे हैं
नगर के हैंडलूम व्यवसायी मोहित जोशी का कहना हैं कि पानी नहीं आने से समस्या आ रही है। पर्याप्त पानी नही मिलने से टैंकर मंगवाना पड़ रहा है। तीन दिन में पानी सप्लाय होने की समस्या को लेकर परिषद के अधिकारियों से पूछा गया तो पहले तो उन्होंने चंबलेश्वर फिल्टर प्लांट पर पाइप लाइन में मिट्टी जमा होने से सफाई कार्य होने से व्यवस्था गड़बड़ाने की बात कही थी। अब बांध में पानी कम होने की बात सामने आई है।

तीन दिन पानी मिलने से आ रही समस्यां

बस स्टेंड क्षेत्र निवासी गृहिणी कविता रावत ने बताया पहले एक दिन छोड़कर पानी मिल रहा था। लेकिन पिछले 15 दिनों से तीन दिन छोड़कर पानी मिल रहा है। रक्षाबंधन का त्योहार होने के बाद भी परिषद व्यवस्था में सुधार नही कर रही है। पानी की समस्या को लेकर जब नगर परिषद के कर्मचारियों को अवगत कराया तो जवाब देने की बजाए चंबलेश्वर में पानी नहीं होने की बात कही। परिषद को पानी के लिए वैकल्पिक व्यवस्था करना चाहिए।

परिषद का कार्यकाल समाप्त होते ही बढ़ी समस्याएं
कोर्ट एरिया निवासी छाया पंवार का कहना हैं कि जब नगर चुनी हुई परिषद थी। तब पानी एक दिन छोड़कर दूसरे दिन मिल रहा था। कार्यकाल समाप्त होने के बाद में आए दिन समस्या आ रही है। तीन दिन बाद पानी मिल रहा है। जिससे पानी के लिए परेशान होना पड़ रहा है। कोरोना संक्रमण के दौरान परिषद को पानी की पर्याप्त व्यवस्था कर जनता को राहत देना चाहिए।

बांध में पानी कम होने से किया बदलाव
^नगर में पेयजल प्रदाय की व्यवस्था में बदलाव चंबलेश्वर बांध में पानी कम होने के कारण किया गया है। इंटकवेल तक नाली खोदकर पानी लाने की व्यवस्था की गई है। बारिश होने के बाद में पुरानी व्यवस्था के अनुसार ही नगर में पेयजल प्रदाय की व्यवस्था की जाएगी। वही पेयजल शाखा प्रभारी को परिषद के अन्य जल स्रोतों की सफाई करने के निर्देश दिए है। ताकि संकट के समय उनसे नगर की जनता को पानी मुहैया करवा सके। -महेंद्र वशिष्ठ, सीएमओ नप मनासा

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें