पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

विशालकाय मछलियां:अनुयायी महापुरुषों के नाम पर धन की तिजोरियां भर रहे हैं

नीमच4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिस समुद्र में भयंकर मगरमच्छ व व्हेल जैसी विशालकाय मछलियां उछल रही हो, समुद्र में तूफान आ गया हो और जहाज तरंगों के सहारे उछलकर डूबने की तैयारी में हो, ऐसी विकट संकट की घड़ी में भी जो भक्त सच्चे हृदय से परमात्मा का स्मरण करता है, वह समुद्र के आकस्मिक भय से मुक्त होकर आराम से अगले किनारे तक पहुंच जाता है। यह बात मुनिश्री संयम रत्न विजयजी ने कहीं। विकास नगर स्थित श्री जैन श्वेतांबर महावीर स्वामी जिनालय की छत्रछाया में आचार्यश्री जयंतसेन सूरिजी के सुशिष्य मुनिश्री संयम रत्न विजयजी व मुनिश्री भुवन रत्न विजयजी चातुर्मास के लिए विराजित है। आराधना भवन में मंगलवार को भक्तामर का भावार्थ समझाते हुए मुनिश्री संयम रत्न विजयजी ने बताया कि जगत में ऐसा कोई गुणी नहीं है, जिसमें दोष न हो और ऐसा कोई दोषी नहीं है, जिसमें गुण न हो। प्रत्येक व्यक्ति में गुण और दोष दोनों मिलते हैं। दिन और रात, गुण और दोष-दोनों को कभी अलग नहीं किया जा सकता किंतु एकमात्र परमात्मा ही ऐसे है जिनमें केवल गुण ही गुण है, दोष नहीं। इस प्रकार जगत में दोष प्रधान व्यक्ति, गुण प्रधान व्यक्ति व केवल गुणी व्यक्ति ये तीन प्रकार के जीव होते हैं। गुणग्राही व्यक्ति मात्र गुणों को ही ग्रहण करता है और दोषग्राही व्यक्ति मात्र अवगुणों को ही ग्रहण करता है। मुनिश्री ने कहा कि सर्वप्रथम मानव को अपनी सोच को पवित्र बनाना होगा। जब मानव अच्छा बनेगा, तभी अच्छे राष्ट्र व अच्छे विश्व की कल्पना की जा सकती है। इस संसार में जितने भी महापुरुष हुए हैं, कोई भी प्रशंसा का भूखा नहीं रहा है। महापुरुषों को हमें जिह्वा पर नहीं, बल्कि जीवन में बसाना चाहिए। राम, कृष्ण, महावीर व बुद्ध की शिक्षा आदर्श की शिक्षा है, उच्च कर्म और अस्वार्थ की शिक्षा है। महावीर की शिक्षा अहिंसा और अपरिग्रह की शिक्षा है। भौतिकता से मोह छोड़ना व पदार्थ से ऊपर उठना है, लेकिन अनुयायी महापुरुषों के नाम पर धन की तिजोरियां भर रहे है। उस महापुरुष के नाम पर जो बार-बार कहते रहे कि धन राख है, धन का मोह छोड़ दो, धन का कोई मूल्य नहीं है। जब किसी महापुरुष के पास किसी व्यक्ति को आत्म-निंदा का अनुभव होता है, तब जाकर उसके जीवन में क्रांति शुरु होती है। मुनिश्री ने भक्तामर के पश्चात श्रद्धालुओं को योग-आसन-प्राणायाम व ध्यान की पद्धतियां भी सिखाई।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें